रोजाना एक ग्‍लास दूध बुढ़ापे तक दांतों को रखेगा मजबूत, पाचन होगा दुरूस्‍त

Updated at: Jun 11, 2020
रोजाना एक ग्‍लास दूध बुढ़ापे तक दांतों को रखेगा मजबूत, पाचन होगा दुरूस्‍त

 लोगों को जागरूक करने के लिए संयुक्त राष्ट्र के खाद्य और कृषि संगठन द्वारा हर साल 1 जून को पूरी दुनिया में विश्व दुग्ध दिवस के रूप में मनाया जाता है।

Atul Modi
स्वस्थ आहारWritten by: Atul ModiPublished at: Jun 01, 2019

सेहतमंद दांत होने से न केवल आपका आत्म विश्वास बढ़ता है बल्कि आप शब्दों का सही उच्चारण भी कर पाते हैं। दांतों की वजह से ही हम अच्छी प्रकार से बात कर पाते हैं, मुस्कुरा पाते हैं, खा पाते हैं और इन्हीं की वजह से हमारे चेहरे को सही आकार भी मिलता है। इसलिए ये हमारे चेहरे का बेशकीमती आभूषण हैं। 

बचपन से ही हमारी मांएं हमें समझाती हैं की सुंदर मजबूत दांतों के लिए हमें दूध पीना चाहिए। तो क्या दूध वास्तव में दांतों के लिए लाभकारी होता है? निश्चित तौर पर इसका जवाब 'हां' है। दूध पीने से हमारे दांत मजबूत बनते हैं, दूध में मौजूद कैल्शियम और फॉस्‍फोरस दांतों के ऐनामल की सुरक्षा करते हैं तथा दूध से दांतों की संरचना में खनिजों की आपूर्ति होती है। दूध से हमारे जबड़े की हड्डी मजबूत व स्वस्थ रहती है। यह जानना भी आवश्यक है की अन्य दुग्ध उत्पादों के संग दूध का सेवन करने से सारी जिंदगी हमारे दांत व हड्डियां बेहतर अवस्था में बने रहते हैं।

 

दूध के व्यापक प्रभाव और दूध से बनने वाले पौष्टिक व स्वादिष्ट उत्पादों के मद्देनजर वर्ष 2001 में फूड एंड ऐग्रीकल्चर ऑर्गेनाइज़ेशन ऑफ द युनाइटेड नेशंस (एफएओ) ने 1 जून को विश्व दुग्ध दिवस मनाने का निश्चय किया। यह दिवस दूध पर ध्यान केन्द्रित करने का मौका देता है और स्वस्थ खुराक, जिम्मेदार खाद्य उत्पादन, लोगों की आजीविका व समुदायों को सहयोग देने के विषय पर जागरुकता बढ़ाने का काम भी करता है।

हालांकि बहुत से खाद्य पदार्थों में कैल्शियम होता है लेकिन नैशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्‍थ का कहना है की दूध व दुग्ध उत्पाद सर्वश्रेष्ठ हैं क्यों कि ये हमारे शरीर में आसानी से अवशोषित हो जाते हैं। अमेरिकन डेंटल ऐसोसिएशन का कहना है की यदि आप मीठी चीजें खाते हैं तब भी दुग्ध उत्पाद आपके दांतों के स्वास्थ्य के मामले में सकारात्मक अंतर ला सकते हैं। ऐसा इसलिए होता है की शुगर युक्त खाद्य पदार्थों के सेवन के बाद दूध पीने से आपके मुख के भीतर नुकसानदेह अम्ल का स्तर कम हो जाता है। इसलिए चॉकलेट, चिप, कुकीज़ खाने के संग दूध न पिएं बल्कि उन्हें खा लेने के बाद दूध पिएं क्योंकि दूध उन्हें आपके दांतों से धो डालेगा। 

इसे भी पढ़ें: डायबिटीज पेशेंट को गर्मियों में हाइड्रेट रखते हैं ये 5 फूड, नहीं बढ़ेगा ब्‍लड शुगर

क्लोव डेंटल के चीफ क्लीनिकल ऑफिसर डॉक्‍टर विमल अरोड़ा कहते हैं, "उम्र बढ़ने के साथ-साथ दूध व अन्य डेयरी उत्पादों के सेवन में भी वृद्धि होनी चाहिए ताकी दांत व हड्डियां सेहतमंद बने रहें। उपयुक्त पुष्टिकरों के साथ संतुलित आहार और दिनचर्या में थोड़ा सा बदलाव दीर्घकाल में अत्यंत लाभकारी हो सकता है। यदि आपके शरीर की जरूरतों के मुकाबले आपकी खुराक में पुष्टिकरों की मात्रा कम है तो आगामी वर्षों में आपको दांतों की समस्याएं हो सकती हैं, आपकी संक्रमणों से लड़ने की क्षमता कम हो सकती है" अपने पुष्टिकारक एवं पाचक गुणों के कारण दूध का हमारे आहार में बहुत अहम स्थान है और इसीलिए प्राचीन काल से दूध भारतीय खानपान का एक अभिन्न अंग बना हुआ है।

Read More Articles On Healthy-Diet in Hindi

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK