नई स्टडी के अनुसार कमजोर होती हैं शाकाहारियों की हड्डियां, जानें हड्डियों को मजबूत करने वाले 5 शाकाहारी फूड्स

Updated at: Nov 24, 2020
नई स्टडी के अनुसार कमजोर होती हैं शाकाहारियों की हड्डियां, जानें हड्डियों को मजबूत करने वाले 5 शाकाहारी फूड्स

शाकाहारी लोगों की हड्डियाँ कमजोर होती है जबकि जो लोग मांसाहारी होते हैं उनकी हड्डियाँ मजबूत होती हैं। क्योंकि मांस में अत्यधिक कैल्शियम, प्रोटीन.

Naina Chauhan
स्वस्थ आहारWritten by: Naina ChauhanPublished at: Nov 24, 2020

हाल में एक स्टडी सामने आई है, जिसमें वैज्ञानिकों ने बताया है कि शाकाहारी लोगों की हड्डियां मांसाहारी लोगों की अपेक्षा कमजोर होती हैं। इस स्टडी में बताया गया है कि मांसाहारी लोगों की तुलना में शाकाहारी लोगों में हड्डियों के फ्रैक्चर होने का खतरा ज्यादा होता है। ये स्टडी BMC Medicine के द्वारा की गई है। दरअसल हड्डियों को मजबूत बनाने के लिए शरीर को पर्याप्त विटामिन्स और कैल्शियम की आवश्यकता होती है। कैल्शियम और विटामिन्स वैसे तो कई शाकाहारी फूड्स में अच्छी मात्रा में पाए जाते हैं, लेकिन अक्सर लोग इनका सेवन कम करते हैं या नहीं करते हैं, जिसके कारण हड्डियां कमजोर होने का खतरा बना रहता है। मांस में कैल्शियम, प्रोटीन और विटामिन्स तीनों ही ज्यादा पाए जाते हैं, जबकि शाकाहारी भोजन में इनकी मात्रा अपेक्षाकृत कम होती है। हम यहां आपको बता रहे हैं कैल्शियम और जरूरी मिनरल्स से भरपूर कुछ ऐसे शाकाहारी फूड्स, जिन्हें खाने से आपकी हड्डियां मजबूत हो सकती हैं।

 insidecalcium

शाकाहारी लोग अपनी डाइट में जरूर शामिल करें ये फूड्स

इसे भी पढ़ें : हार्ट अटैक सहित सेहत से जुड़े कई खतरों को बढ़ा सकता है फ्रोजन फूड्स का अधिक सेवन, जानें इसके 5 नुकसान

आंवला:

आंवला आयुर्वेद में एक बहुत महत्वपूर्ण औषधि मानी जाती है। इसका सेवन कई प्रकार से किया जाता है जैसे अचार के रूप में, सुखा कर, चूर्ण के रूप में, इत्यादि और कच्चा आंवला भी बहुत लाभदायक होता है। आंवले में कैल्शियम और विटामिन सी की भरपूर मात्रा होती है इसलिए इसके सेवन से हड्डियां तो मजबूत होती ही हैं साथ ही आपका पाचनतंत्र भी स्वस्थ रहता है।

अंजीर:

अंजीर में पर्याप्त विटामिन और कैल्शियम होता है जिससे शरीर की हड्डियों को मजबूत करने में सहायता मिलती है। साथ ही अंजीर खून की कमी को भी पूरा करता है। हड्डियां मजबूत करने के लिए रोज एक अंजीर का सेवन करना चाहिए। इसके सेवन से पाचन तंत्र भी अच्छा रहता है और कई बीमारियों से निजात मिलती है।

बादाम:

बादाम एक प्रकार का सूखा मेवा होता है जिसमें कई गुण पाए जाते हैं। बादाम में कैल्शियम तो होता ही है, साथ ही विटामिन ई भी होता है। रोज रात को 5-7 बादाम भिगोकर रख दें और सुबह खाली पेट इसका सेवन करें। ये शरीर की कई बीमारियों को दूर करने में सहायक होता है बादाम। इसे हर मौसम में खाया जा सकता है इसके कोई दुष्परिणाम नहीं हैं।

सीताफल:

वैसे तो सीताफल एक मौसमी फल है लेकिन इसमें पर्याप्त मात्रा में कैल्शियम पाया जाता है। अगर इसका सेवन रोज किया जाये तो इससे विटामिन डी की कमी पूरी होती है। हड्डियों की मजबूती के लिए कैल्शियम के साथ-साथ विटामिन डी भी बहुत जरूरी होता है।

 

सोयाबीन:

सोयाबीन में प्रचुर मात्रा में कैल्शियम पाया जाता है। कहा जाता है जितना कैल्शियम दूध और मीट में पाया जाता है उतना ही कैल्शियम सोयाबीन में पाया जाता है। अगर रोजाना सोयाबीन का सेवन किया जाये तो इससे भी शरीर को पर्याप्त कैल्शियम मिलेगा और हड्डियाँ मजबूत होंगी। साथ ही यह प्रोटीन का भी एक अच्छा स्त्रोत है। 

इसे भी पढ़ें : Winter Soup Recipe: सर्दी में सूप पीना है फायदेमंद, इन 9 चीजों को मिलाकर बनाएं हेल्दी-टेस्टी वेजिटेबल सूप

इस प्रकार जो लोग शाकाहारी हैं और मांस का सेवन नहीं कर सकते वे इन आहारों को अपने भोजन में शामिल करें। ये सभी आहार कैल्शियम, विटामिन्स और आयरन का अच्छा स्त्रोत हैं। ये कई तरह की बीमारियाँ दूर करने में ये सहायक हैं। इनके अलावा ब्रोकली, संतरा, टमाटर, दूध, दही इत्यादि का सेवन भी रोजाना करना चाहिए, इन्हें कैल्शियम का उत्तम स्त्रोत माना जाता है। हइसलिए इन्हें आप अपने भोजन में शामिल करें।

Read More Article On Diet And Fitness In Hindi

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK