फैटी लिवर के रोगी फॉलो करें ये खास डाइट प्लान, जानें क्या खाएं क्या न खाएं

Updated at: Jan 27, 2021
फैटी लिवर के रोगी फॉलो करें ये खास डाइट प्लान, जानें क्या खाएं क्या न खाएं

फैटी लिवर की परेशानी होने पर मरीजों को ऐसे आहार का सेवन करना चाहिए, तो लिवर के फैट को कम करे। आइए जानते हैं उन आहार के बारे में-

Kishori Mishra
स्वस्थ आहारWritten by: Kishori MishraPublished at: Jan 21, 2021

आधुनिक खराब लाइफस्टाइल के चलते लोगों को कई तरह की परेशानियां हो रही हैं। डायबिटीज, थायराइड, ब्लड प्रेशर और फैटी लिवर जैसी बीमारियों लोगों को खराब लाइफस्टाइल के कारण हो रही है। इन बीमारियों में से फैटी लिवर एक ऐसी बीमारी है, जिसके कारण मरीजों को पेट फूलना, सांसों में बदबू, पेट फूलना, अपच, वजन घटना जैसी कई अन्य समस्याएं होने लगती हैं। लाइफस्टाइल में बदलाव करके आप फैटी लिवर से जुड़ी परेशानी को दूर कर सकते हैं। खानपान में बदलाव करके आप फैटी लिवर की परेशानियों को दूर कर सकते हैं। नोएडा स्थित डायट मंत्रा क्लीनिक की डायटीशियन कामिनी कुमारी का कहना है कि फैटी लिवर के कारण लोगों को पेट से जुड़ी परेशानियां काफी ज्यादा होने लगती है। ऐसे में रोगियों के लिए फाइबरयुक्त आहार उत्तम होता है। आइए एक्सपर्ट से जानते हैं फैटी लिवर (Diet for Fatty Liver) में क्या खाना और क्या ना खाना होता है सही।

फैटी लिवर रोगियों के लिए डाइट (Foods for Fatty Liver)

ब्रोकली (broccoli)

डायटीशियन बताती हैं कि फैटी लिवर रोगियों को अपने आहार में ऐसी चीजों को शामिल करना चाहिए, जो उनके लिवर को मजबूत करता हो। ब्रोकली भी उन्हीं आहारों में से एक है। ब्रोकली के सेवन से आपका लिवर मजबूत होता है। इसमें पर्याप्त रूप से एंटीऑक्सीडेंट होता है, जो आपके शरीर से विषाक्त पदार्थों को बाहर करता है। साथ ही शरीर में जमा अतिरिक्त फैट को कम करने में आपकी मदद करता है। इसके साथ ही ब्रोकली में ट्राइग्लिसराइड और हिपैटिक मैक्रोफेज (macrophage) को कम करने की क्षमता होती है, जो लिवर को हेल्दी बनाए रखता है। 

इसे भी पढ़ें - Benefits of Lettuce: सलाद के पत्तों (लेटस) में होते हैं ढेर सारे गुण, जानें इसे खाने के 10 फायदे और कुछ नुकसान

ओट्स (Oats)

लिवर में जमा फैट को कम करने के लिए आप अपने आहार में ओट्स को शामिल कर सकते हैं। ओट्स में डाइटरी फाइबर और ओमेगा 3 फैटी एसिड भरपूर रूप से होता है, जो वजन को घटाने में आपकी मदद करता है। नियमित रूप से ओटमील का सेवन करने से शरीर की एक्स्ट्रा चर्बी कम होती है। इसके सेवन से नॉन एल्कोहलिक फैटी लिवर डिजीज होने की संभावना कम होती है। दूध में ओटमील को तैयार करते समय इसमें 1 चुटकी नमक डालें। इसके साथ ही इसमें बेरी और नट्स को मिलाएं। यह आपके लिए अधिक फायदेमंद हो सकता है। 

ग्रीन टी (Green Tea)

फैटी लिवर की समस्या से छुटकारा पाने के लिए ग्रीन टी का सेवन करें। लिवर को मजबूत करने के लिए ग्रीन टी काफी फायदेमंद साबित हो सकता है। ग्रीन टी में एंटीऑक्सीडेंट भरपूर रूप से होता है, जो हिपैटिक इंफ्लैमेशन को कम करता है और लिवर मे मौजूद फैट को बर्न करता है। रोजाना 3 से 4 कप ग्रीन टी का सेवन आपके लिए फायदेमंद है। 

सब्जियां और फल (Fruits and Vegetables)

फैटी लिवर की समस्या से ग्रसित मरीजों को अपने आहार में भरपूर रूप से फल और सब्जियों को शामिल करना चाहिए। आप जितनी मात्रा में फल और सब्जियां खाएंगे, उससे उतनी ही मात्रा में फैट का प्रतिशत घटेगा। इससे आपका लिवर हेल्दी होगा। आपको अपने भोजन में अलग-अलग तरह के पोषक तत्वों को शामिल करना चाहिए।  

इसे भी पढ़ें - रोज अंकुरित मेथी खाने से आपको मिलेंगे ये 10 फायदे, जानें मोटापा और डायबिटीज कंट्रोल करने में कैसे है कारगर

अखरोट (अखरोट)

लिवर की समस्याओं से ग्रसित मरीजों को अपने आहार में अखरोट को शामिल करना चाहिए। अखरोट एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होता है, जो आपके लिवर को हेल्दी रखता है। यह लिवर में मौजूद हिपैटिक ट्राइग्लिसराइड और सूजन को कम करने में आपकी मदद करता है और इंसुलिन सेंसिटिविटी को बढ़ाता है। ब्रेकफास्ट में नियमित रूप से ओटमील के साथ अखरोट का सेवन करना आपके लिए काफी असरकारी साबित हो सकता है।

एवोकाडो (Avocado)

फैटी लिवर की परेशानियों को दूर करने के लिए एवोकाडो का सेवन आपके लिए फायदेमंद हो सकता है। एवोकाडो में मोनोअनसैचुरेटेड फैटी एसिड होता है, जो लिवर के सूजन को कम करता है। इसके साथ ही इसके सेवन से शरीर में बैड कोलेस्ट्रॉल (एलडीएल) की मात्रा घटती है और ब्लड में ट्राइग्लिसराइड का स्तर बढ़ता है। इसके साथ ही इसके सेवन से आपके शरीर में गुड कोलेस्ट्रॉल यानी एचडीएल कोलेस्ट्रॉल का स्तर बढ़ता है। नियमित रूप से नाश्ते में एवोकाडो का सेवन आपके लिए फायदेमंद हो सकता है। इसके सेवन से शरीर में और लिवर में जमा एक्स्ट्रा फैट कम होते हैं। 

फैटी लिवर डाइट चार्ट (Diet Chart for Fatty Liver) 

ब्रेकफास्ट

  • ओटमील - आधा कप या दो चम्मच बादाम बटर के साथ।
  • केला- एक कटा हुआ
  • दूध - 1 गिलास बिना मलाई के साथ

लंच

  • पालक का सलाद (ऑलिव ऑयल के साथ)
  • रोस्टेड चिकन
  • उबला हुआ आलू - एक मध्यम आकार का
  • ब्रोकली और गाजर की अन्य सब्जियां
  • सेब- 1
  • दूध - एक गिलास बिना मलाई वाली

स्नैक

  • दो कटे हुए सेब और एक चम्मच पीनट बटर
  • 1 कटोरी सलाद

डिनर

  • मिक्स्ड बीन्स सलाद
  • ब्रोकली - 1 कटोरी उबली हुई
  • बेरी - 1 कप
  • होल ग्रेन रोटी - 1-2
  • दूध - 1 गिलास बिना मलाई वाली 

फैटी लिवर में क्या नहीं खाएं ? (fatty liver avoid food)

एल्कोहल- एल्कोहल का सेवन आपके फैटी लिवर की समस्या को बढ़ा सकता है। एल्कोहल के सेवन से लिवर में फैट बढ़ता है। साथ ही इससे आपको कई अन्य बीमारियां हो सकती हैं। 

शुगर- फैटी लिवर की समस्या होने पर अपने आहार में शुगर से जुड़ी चीजों को शामिल ना करें। कैंडी, कूकीज, फ्रूट जूस और सोडा में शर्करा की मात्रा काफी ज्यादा होती है। 

व्हाइट ब्रेड - फैटी लिवर की परेशानी होने पर व्हाइट ब्रेड का सेवन ना करें। इसके सेवन से ब्लड में शुगर की मात्रा बढ़ सकती है। जिससे फैटी लिवर की परेशानियां काफी ज्यादा होती हैं।

रेड मीट - रेड मीट और बीफ का सेवन ना करें। इसमें उच्च मात्रा में सैचुरेटेड फैट होता है, जो आपकी समस्या को बढ़ा सकता है। ऐसे में इन चीजों को खाने से परहेज करें।

फ्राइड फूड- फ्राइड फूड में अधिक फैट और कैलोरी होती है जिसे खाने से लिवर फैटी हो जाता है।

नमक- अधिक मात्रा में नमक का सेवन करने से शरीर में अतिरिक्त पानी जमा हो जाता है। इसलिए फैटी लिवर से बचने के लिए प्रतिदिन 1500 मिलीग्राम से कम सोडियम का सेवन करना चाहिए।

 

Read more articles on Healthy-Diet in Hindi

 

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK