जानें क्‍यों होती है डायबिटीज

जानें क्‍यों होती है डायबिटीज

डायबिटीज कैसे होती है, डायबिटीज के कारण क्‍या है, डायबिटीज से कैसे बचा जा सकता है। अकसर ऐसे सवाल आपके मन में आते होंगे। तो आइए जानते हैं इन सवालों के जवाब कि आखिर डायबिटीज कैसे होता है, इसके कारक क्‍या हैं।

आज के समय में डायबिटीज होना बहुत आम बात है। सिर्फ अधिक उम्र के लोग ही नहीं, आज के समय में बच्‍चे भी डायबिटीज की चपेट में आ रहे हैं। एक समय हुआ करता था जब 40-50 साल की उम्र के बाद डायबिटीज जैसी बीमारियां शुरू हो जाया करती थी, लेकिन अब बदलते माहौल और लाइफ स्‍टाइल के कारण डायबिटीज ने छोटे बच्‍चों को भी अपनी चपेट में ले लिया हैं। डायबिटीज कैसे होती है, डायबिटीज के कारण क्‍या है, डायबिटीज से कैसे बचा जा सकता है। अकसर ऐसे सवाल आपके मन में आते होंगे। तो आइए जानते हैं इन सवालों के जवाब कि आखिर डायबिटीज कैसे होता है, इसके कारक क्‍या हैं।

diabetes in hindi

डायबिटीज के कारण

यह तो आप जानते ही होंगे कि हमारे शरीर की पेंक्रियाज ग्रंथी के ठीक से काम ना करने या फिर पूरी तरह से बेकार होने से डायबिटीज हो जाती है। हालांकि डायबिटीज होने के और भी कई कारक है लेकिन पेंक्रियाज ग्रंथी इसका सबसे बड़ा कारण है।


पेंक्रियाज ग्रंथी है जिम्‍मेदार

दरअसल पेंक्रियाज ग्रंथी से तरह-तरह के हार्मोंस निकलते हैं, इन्हीं में से हैं इंसुलिन और ग्लूकान। इंसुलिन हमारे शरीर के लिए बहुत उपयोगी है। इंसुलिन के जरिए ही हमारे रक्त में, हमारी कोशिकाओं को शुगर मिलती है यानी इंसुलिन शरीर के अन्य भागों में शुगर पहुंचाने का काम करता है।

    

इंसुलिन हार्मोंन का कम निर्माण होना

इंसुलिन द्वारा पहुंचाई गई शुगर से ही कोशिकाओं या सेल्स को एनर्जी मिलती है। डायबिटीज का कारण है इंसुलिन हार्मोंन का कम निर्माण होना। जब इंसुलिन कम बनता है तो कोशिकाओं तक और रक्त में शुगर ठीक से नहीं पहुंच पाती जिससे सेल्स की एनर्जी कम होने लगती है और इसी कारण से शरीर को नुकसान पहुंचने लगता है। जैसे- बेहोशी आना, दिल की धड़कन तेज होना इत्यादि समस्याएं होने लगती हैं।


रक्त में शुगर का अधिक होना

डायबिटीज के कारण इंसुलिन के कम निर्माण से रक्त में शुगर अधिक हो जाती है क्योंकि शारीरिक ऊर्जा कम होने से रक्त में शुगर जमा होती चली जाती है जिससे कि इसका निष्कासन मूत्र के जरिए होता है। इसी कारण डायबिटीज रोगी को बार-बार पेशाब आता है।

diabetes in hindi

अनुवांशिक कारण

डायबिटीज के होने के और भी कारण है। यह अनुवांशिक भी होती है। यदि आपके परिवार के किसी सदस्य मां-बाप, भाई-बहन में से किसी को है तो भविष्य में आपको भी डायबिटीज होने की आशंका बढ़ जाती है।


मोटापा भी है जिम्‍मेदार

आपका समय पर ना खाना, बहुत अधिक जंकफूड खाना या आपका मोटापा बढ़ना भी डायबिटीज का मुख्य कारक है। आपका वजन बहुत बढ़ा हुआ है, आपका बीपी बहुत हाई है और कॉलेस्ट्रॉल भी संतुलित नहीं है तो आपको डायबिटीज हो सकता है। बहुत अधिक मीठा खाने, नियमित रूप से बाहर का खाना खाने, कम पानी पीने, एक्सरसाइज ना करने, खाने के बाद तुरंत सो जाने या ज्यादा समय तक लगातार बैठा रहना इत्यादि कारण भी डायबिटीज को जन्म दे सकते हैं।


वर्तमान में बच्चों में होने वाली डायबिटीज का मुख्य कारण उनका रहन-सहन और खानपान है। इसके साथ ही शारीरिक रूप से निष्क्रियता भी बच्चों को डायबिटीज की और अग्रसर कर सही है। यदि आप चाहते हैं कि आप और आपका परिवार डायबिटीज से बचें तो उसके लिए हेल्दी लाइफ स्टाइल अपनाना जरूरी है। जिसमें एक्सरसाइज और हेल्दी  फूड को खास प्राथामिकता दें।
 

Image Source : Getty

Read More Articles on Diabetes in Hindi

 
Disclaimer:

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।