• shareIcon

Weight Loss Diet: वजन घटाने के लिए बेस्ट है प्रोटीन से भरपूर बेसन, जानें 5 लो-कैलोरी रेसिपीज

Updated at: Sep 13, 2019
वज़न प्रबंधन
Written by: अनुराग अनुभवPublished at: Sep 11, 2019
Weight Loss Diet: वजन घटाने के लिए बेस्ट है प्रोटीन से भरपूर बेसन, जानें 5 लो-कैलोरी रेसिपीज

Latest Weight Loss Diet: बेसन (Besan) वजन घटाने (Weight Loss) में आपकी मदद करता है। बेसन में ढेर सारे पोषक तत्व होते हैं, जो आपका मेटाबॉलिज्म (Metabolism) बढ़ाते हैं, जिससे आप ज्यादा फैट बर्न (Fat Burn) करते हैं। बेसन से आप कई लो कैलोरी डिशेज (Low

Weight Loss With Gram Flour: बेसन से ढेर सारी स्वादिष्ट डिशेज बनाई जा सकती हैं। बेसन (Gram Flour)  में ढेर सारे पौष्टिक तत्व होने के कारण भारतीय रसोई में इसका विशेष स्थान है। कढ़ी, पकौड़ी, चीला, नमकीन, पराठे, रोटियां, सब्जी आदि सैकड़ों डिशेज आप बेसन से बना सकते हैं। मगर क्या आप जानते हैं कि बेसन खाकर आप अपना वजन भी घटा सकते हैं? जी हां, बेसन वजन घटाने (Weight Loss) में आपकी मदद कर सकता है। बेसन को चने से बनाया जाता है और चने प्रोटीन का अच्छा स्रोत होते हैं। अगर आप अपने डेली डाइट (Daily Diet) में बेसन को शामिल करते हैं, तो आपके शरीर को ढेर सारे स्वास्थ्य लाभ (Health Benefits) मिलते हैं।

वजन घटाने में क्यों मददगार है बेसन? (Gram Flour or Besan Helps Losing Weight)

बेसन में गेहूं के आटे की अपेक्षा कैलोरीज की मात्रा कम होती है। इसलिए इसके सेवन से आप कैलोरीज लेते हैं। इसके अलावा शोधकर्ताओं का दावा है कि दाल होने के कारण बेसन भूख को जल्दी शांत करता है और पेट को देर तक भरा रखता है। इसके अलावा इसमें फाइबर की मात्रा भी भरपूर होती है। बेसन के सेवन से शरीर का मेटाबॉलिज्म अच्छा हो जाता है, जिससे आपका शरीर ज्यादा फैट बर्न करता है और आप वजन जल्दी घटाते हैं। बेसन एक लो-ग्लाइसेमिक इंडेक्स (Low Glycemic Index) वाला फूड है। बेसन में कार्बोहाइड्रेट्स की मात्रा बहुत कम होती है, जबकि इसमें प्रोटीन भरपूर होता है इसलिए ये वजन घटाने में मददगार होता है।

इसे भी पढ़ें:- जानें कैसे बनाएं स्वादिष्ट बेसन का चीला

बहुत पौष्टिक होता है बेसन (Gram Flour or Besan Nutritions)

बेसन में ढेर सारे पोषक तत्व होते हैं, जो आपके पूरे शरीर के लिए बहुत फायदेमंद होते हैं। 100 ग्राम बेसन में सिर्फ 387 कैलोरीज होती हैं और मात्र 7 ग्राम फैट और होता है। इसमें 58 ग्राम कार्बोहाइड्रेट और 11 ग्राम डाइट्री फाइबर होता है, जिसके कारण आपका पेट देर तक भरा रहता है। इसके अलावा इतने ही बेसन में 64 मिलीग्राम सोडियम, 22 ग्राम प्रोटीन, 846 मिलीग्राम पोटैशियम, कैल्शियम, आयरन, विटामिन बी-6, मैग्नीशियम आदि पाए जाते हैं।

बेसन से बनने वाली लो-कैलोरी डिशेज (Low Calorie Besan Dishes)

ऐसी तमाम लो-कैलोरी स्वादिष्ट डिशेज हैं, जो बेसन से आसानी से बनाई जा सकती हैं। आप रोजाना के खाने-नाश्ते में इन डिशेज को बनाकर खाएं।

ढोकला- बेसन से बनने वाले रसीला ढोकला एक गुजराती डिश है, जिसे घर पर आसानी से बना सकते हैं। घर पर बने एक पीस ढोकला में 45-50 कैलोरीज होती हैं। ढोकला को आप सुबह के ब्रेकफास्ट में या शाम के स्नैक्स में खा सकते हैं।

चीला- बेसन का चीला बनाना बहुत आसान है। इसे बनाने के लिए नॉन स्टिक तवे का प्रयोग करें। इसे बनाने में बहुत कम ऑयल इस्तेमाल होता है, जिसके कारण ये एक स्वादिष्ट लो-कैलोरी लंच, डिनर या ब्रेकफास्ट हो सकता है। बेसन के चीलों के साथ टमाटर और मिर्च की चटनी या दही खाएं। ये आपको बहुत स्वादिष्ट लगेगा।

बेसन की रोटियां- अगर लंच या डिनर में बिना रोटियां खाए आपका पेट नहीं भरता है, तो आप बेसन की रोटियां भी बना सकते हैं। इसके लिए बेसन और आटे की आधी-आधी मात्रा मिलाएं और इसे गूंथकर इसकी मोटी रोटियां बनाएं। ध्यान दें अगर आपको पतली रोटियां बनानी हैं, तो आपको बेसन कम और आटा ज्यादा लेना होगा। बेसन की गर्म रोटियां स्वादिष्ट लगती हैं।

बेसन गट्टे की सब्जी- बेसन को गूंथकर इसके गट्टे की सब्जी बना सकते हैं। ये सब्जी राजस्थानी डिश के तौर पर काफी मशहूर है और बहुत स्वादिष्ट होती है।

बेसन का हलवा- बेसन का हलवा बेसन को भूनकर, इसमें दूध डालकर तैयार किया जाता है। इसे बेसन शीरा भी कहते हैं। इसे बनाते समय चीनी बहुत कम डालें ताकि ये हेल्दी हो और वजन घटाने में मदद करे।

चने का सलाद- बेसन काले या सफेद चने से बनाया जाता है। अगर आप रोजाना बेसन के प्रयोग से ऊब जाएं, तो कभी-कभी भीगे हुए सफेद चनों को उबालकर इसका सलाद भी बना सकते हैं। इसमें फाइबर की मात्रा अच्छी होती है। इसलिए ये आपका पेट भर देगा और वजन घटाने में भी आपकी मदद करेगा।

इसे भी पढ़ें:- 'बेसन का शीरा', बनाने का सही तरीका और इसके फायदे

बेसन के सेवन के अन्य फायदे (Health Benefits of Besan or Gram Flour)

  • लो-ग्लाइसेमिक इंडेक्स फूड होने के कारण बेसन के सेवन से ब्लड शुगर घटता है। इसलिए ये डायबिटीज रोगियों के लिए फायदेमंद होता है।
  • बेसन चने से बनता है और चना आयरन का अच्छा स्रोत होता है इसलिए बेसन के सेवन से एनीमिया की समस्या दूर होती है।
  • घुलनशील फाइबर की मात्रा अच्छी होने के कारण बेसन हार्ट के रोगियों के लिए भी अच्छा माना जाता है।
  • बेसन में ट्रांस फैट नहीं होता है इसलिए इसके सेवन से कोलेस्ट्रॉल घटता है।
  • ग्लूटेन फ्री होने के कारण जिन लोगों को ग्लूटेन से एलर्जी होती है, उनके लिए भी बेसन का सेवन अच्छा विकल्प माना जाता है।

Read more articles on Weight Management in Hindi

 

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK