Dengue: इस गर्मी सिर्फ कोरोना से नहीं बल्कि डेंगू से भी रहना है सावधान, जानें 5 लक्षण जो पड़ सकते हैं भारी

Updated at: Apr 23, 2020
Dengue: इस गर्मी सिर्फ कोरोना से नहीं बल्कि डेंगू से भी रहना है सावधान, जानें 5 लक्षण जो पड़ सकते हैं भारी

गर्मियों के मौसम में डेंगू प्रमुख रूप से फैलने वाली एक बीमारी है, जिसके कारण बहुत से लोग संक्रमित होते हैं। किन लक्षणों का दिखाई देना डेंगू हो सकता है

Jitendra Gupta
अन्य़ बीमारियांWritten by: Jitendra GuptaPublished at: Apr 23, 2020

गर्मियों के आते ही बहुत सारी बीमारियां तेजी से अपने पैर फैलाने लगती है। गर्मियों के मौसम में डेंगू प्रमुख रूप से फैलने वाली एक बीमारी है, जिसके कारण बहुत से लोग संक्रमित होते हैं। गर्मियों में मच्छरों के खतरे के कारण इस बीमारी की उपस्थिति कई गुना बढ़ जाती है। इसलिए डेंगू के मच्छरों के प्रजनन को रोकने के लिए मास्किटो रिपलेंट लगाना, पानी को खुले तौर पर इकठ्ठा नहीं होने देना और अन्य आवश्यक सावधानी बरतना बहुत ही ज्यादा महत्वपूर्ण है। इस लेख में हम आपको डेंगू के ऐसे शुरुआती लक्षणों के बारे में बता रहे हैं, जिन्हें पहचानना आपके लिए आवश्यक है क्योंकि मौजूदा समय में फैली कोरोना महमारी के लक्षण भी कुछ इस तरह ही के ही होते हैं। तो आइए जानते हैं कि किन लक्षणों का दिखाई देना डेंगू हो सकता है। 

 dengue

डेंगू के शुरुआती लक्षण, जिन्हें पहचानना हे जरूरी 

बुखार

डेंगू का पहला लक्षण है अचानक और तेज बुखार। अगर आपको डेंगू बुखार होता है तो आपको ठंड महसूस होगी और आपको बदन टूटा हुआ लगने लगेगा। डेंगू की स्थिति में आपको बुखार के साथ थकान भी होगी, जिससे आपको ज्यादा से ज्यादा से थकान महसूस होगी। शुरुआत में हल्का बुखार होता है और आपके शरीर का तापमान लगभग 100-102 °F हो सकता है। इस स्थिति में जल्दी से जल्दी एक डॉक्टर से संपर्क किया जाना चाहिए, क्योंकि बुखार तेजी से चढ़ सकता है, अगर इसका सही समय पर उपचारन किया जाए तो।

इसे भी पढ़ेंः क्यों माना जाता है डेंगू को खतरनाक? जानें डेंगू बुखार के दौरान बरती जाने वाली सावधानियां

आंखों में दर्द

आंखों में दर्द डेंगू का एक बहुत ही अनूठा लक्षण है, जो इसे अन्य बुखार से अलग करता है। आपको निरंतर अपनी आंखों के बीच में भारीपन का अनुभव अहसास होगा, जो कि आसानी से दूर नहीं होता है। बुखार के साथ आंखों में लगातार ऐसा दर्द रहना निश्चित रूप से एक सीधा संकेत होता है कि आपको डेंगू के लिए स्वयं जांच करवानी चाहिए।  

dengue

सिरदर्द

ऊपर दिए गए लक्षणों के साथ आप सिरदर्द का अनुभव भी कर सकते हैं। दर्द आमतौर पर आपके मस्तिष्क से टकराता है और फिर खोपड़ी के पीछे तक जाता है। इस प्रकार का दर्द आमतौर पर एक संकेत है कि आप डेंगू से संक्रमित हैं। आपको डेंगू के दौरान एक अलग तरह की मांसपेशियों और जोड़ों के दर्द का भी अनुभव हो सकता है, जिससे आपको हर समय सूखा और थका हुआ महसूस होता है।

इसे भी पढ़ेंः डेंगू में पपीते के पत्‍तों का ऐसे करें इस्‍तेमाल, बढ़ जाएगा प्‍लेटलेट्स काउंट

त्वचा पर चकत्ते

डेंगू होने पर हमारी त्वचा के ऊपर मूल रूप से लाल रंग के सपाट चकत्ते हो जाते हैं। आपको बुखार होने के 2-3 दिनों के भीतर ये चकत्ते हो सकते हैं। ये आपके शरीर के किसी भी हिस्से पर हो सकते हैं और अक्सर इनमें खुजली होती है। ये आमतौर पर हमारी त्वचा पर खसरे की तरह दिखते हैं और बीमारी के होने के बाद सामने आते हैं।

जी मिचलाना

जब आप डेंगू से संक्रमित होते हैं तो मतली की निरंतर भावना आपको परेशान कर सकती है। पेट दर्द के साथ उल्टी भी हो सकती है, जो एक लक्षण है कि डेंगू की स्थिति बिगड़ रही है। इसलिए, ऐसे लक्षणों का पता लगाने के लिए अपने डॉक्टर से संपर्क करने की सलाह दी जाती है। अपने प्लेटलेट काउंट को बढ़ाने के लिए पर्याप्त तरल पदार्थ जैसे पानी, नारियल पानी और जूस पीएं। 

Read more articles on Other Diseases in Hindi

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK