• shareIcon

पुरुषों को स्‍वस्‍थ रहने के लिए जरूरी है विटामिन

स्वस्थ आहार By Bharat Malhotra , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग / Jan 27, 2014
पुरुषों को स्‍वस्‍थ रहने के लिए जरूरी है विटामिन

अच्‍छी सेहत के लिए केवल व्‍यायाम ही नहीं, बल्कि पौष्टिक आहार भी बहुत जरूरी है, इसके लिए मल्‍टीविटामिन का सेवन कीजिए।

Vitamins for Menअच्‍छी सेहत के लिए केवल व्‍यायाम ही जरूरी नहीं, इसके लिए सही आहार की भी जरूरत होती है। अगर आप इन दोनों में से किसी एक जरूरी पहलू को भी नजरअंदाज करेंगे, तो आप स्‍वयं को स्‍वस्‍थ नहीं कह सकते। विटामिन आपकी सेहत के लिए बहुत जरूरी होते हैं।  

 

पुरुषों के लिए विटामिन

विटामिन हमारी सेहत के लिए बहुत जरूरी होते हैं। और इनकी कमी के बिना किसी भी आहार को पौष्टिक नहीं कहा जा सकता। लेकिन, पुरुषों विशेषकर जिम जाने वाले पुरुषों की स्‍वास्‍थ्‍य जरूरतें अलग होती हैं। और उन्‍हें अन्‍य लोगों की अपेक्षा अधिक पौष्टिक तत्‍वों की जरूरत होती है। अपने रोजमर्रा के आहार में विटामिन शामिल कर आप अपनी सेहत को काफी हद तक सुधार सकते हैं। विटामिन दो प्रकार के होते हैं फैट सॉल्‍युबल और वॉटर सॉल्‍युबल। आइए देखते हैं कौन से विटामिन आपकी सेहत के लिए फायदेमंद होंगे।

 

विटामिन सी

यह विटामिन हमारे इम्‍यून सिस्‍टम को मजबूत बनाता है और साथ ही कोशिकाओं, हड्डियों, दांतों और कार्टिलेज की मरम्‍मत और देखभाल में भी अहम भूमिका निभाता है। विटामिन सी शरीर को आयरन अवशोषित करने में मदद करता है। इसके साथ ही यह पुरुषों के सेक्‍सुअल स्‍वास्‍थ्‍य को भी मजबूत बनाता है। विटामिन सी की कमी से अनीमिया, कमजोर दांत, जोड़ों में दर्द और बाल गिरने जैसी समस्‍या हो सकती है। खट्टे फल विटामिन सी का सबसे उच्‍च स्रोत माने जाते हैं। इसके अलावा लाल मिर्च, ब्रोकोली, पालक, ब्रसल्स स्प्राउट्स, जामुन, टमाटर, आलू, गोभी और कीवी में भी विटामिन सी होता है।

 

विटामिन ए

विटामिन ए आपकी त्‍वचा के लिए काफी फायदेमंद होता है। यह आपकी त्‍वचा को सही आकार में रखने में मदद करता है। इसके साथ ही आंखों और पाचन क्रिया के लिए भी यह विटामिन बहुत जरूरी होता है। विटामिन ए की कमी से रतौंधी की समस्‍या हो सकती है इसके साथ ही इससे आपकी त्‍वचा रूखी भी हो सकती है। गाजर, कलेजी, दूध, पनीर और पालक जैसी हरी पत्‍तेदार सब्जियों में यह भरपूर मात्रा में मिलता है।

 

विटामिन डी

विटामिन डी मांसपेशियों, दांतों और हड्डियों की ताकत के लिए बहुत जरूरी होता है। यह शरीर को कैल्शियम अवशोषित करने में मदद करता है, जो अस्थि घनत्‍व, धड़कनों को नियमित रखने के लिए आवश्‍यक होता है। बच्‍चों और व्‍यस्‍कों दोनों में विटामिन डी की कमी से हड्डियां कमजोर होने की शिकायत हो सकती है। सूर्य का प्रकाश, दूध, मछली का तेल, मक्‍खन और अंडे की सफेदी विटामिन डी के अच्‍छे स्रोत हैं।  

 

विटामिन के

जख्‍म लगने पर कुछ ही देर में हमारे शरीर पर पपड़ी जम जाती है। इससे अधिक रक्‍त नहीं बह पाता। ऐसा विटामिन सी के कारण होता है। अगर आपके शरीर में इस विटामिन की कमी है, तो हल्‍की सी चोट लगने पर ही आपका काफी रक्‍त बह जाएगा। इस विटामिन के लिए हरी पत्‍तेदार सब्जियां और सोयाबीन आदि का सेवन करना चाहिए।

 

विट‍ामिन बी2

यह विटामिन आहार को ऊर्जा में बदलने में मदद करता है। इसके साथ ही स्‍वस्‍थ त्‍वचा, अच्‍छी नजर और नर्वस सिस्‍टम के लिए भी यह विटामिन उत्‍तरदायी होता है। इस विटामिन की कमी से होंठों के किनारे फटना, गले में सूजन, त्‍वचा पर रेशेज होना, प्रकाश के प्रति अतिसंवेदनशीलता और जीभ का बैंगनी होना शामिल है। आप अनाज और डेयरी उत्‍पादों, हरी पत्‍तेदार सब्जियों और मछली आदि का सेवन कर इस विटामिन को प्राप्‍त कर सकते हैं।



आदर्श स्थिति तो यही होगी कि आप हर तरह के फल और सब्जियों का सेवन करें। जंक फूड न खायें। इसके साथ ही अपने सोने और उठने का वक्‍त तय करें। साथ ही पर्याप्‍त मात्रा में पानी पियें यह भी आपकी सेहत के लिए जरूरी है।

 

 

Read More Articles on Healthy Eating in Hindi

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK