Winter Foods:आसमान छू रही है आलू-प्‍याज की कीमतें, खाने में शामिल करें सर्दियों वाले ये सस्ते फल और सब्जियां

Updated at: Oct 25, 2020
Winter Foods:आसमान छू रही है आलू-प्‍याज की कीमतें, खाने में शामिल करें सर्दियों वाले ये सस्ते फल और सब्जियां

बाजार में इन दिनों आलू-प्याज के दामों में तेजी आई है, जिससे खाने का जायका बिगड़ गया है। ऐसे में भाजी और सलाद के लिए इन मौसमी चीजों का इस्तेमाल करें।

Pallavi Kumari
स्वस्थ आहारWritten by: Pallavi KumariPublished at: Oct 25, 2020

आज कल आलू-प्‍याज की कीमतें (onion price hike)आसमान छू रही हैं, जिसने हमारी थाली का स्वाद बिगाड़ जिया है। ऐसे में जरूरी ये है कि हम इन महंगी सब्जियों की जगह  (vegetable price hike) मौसमी फल और सब्जियों को अपनी डाइट का हिस्सा बनाएं। इस मौसम के साथ बाजारों में अब सर्दियों में खाई जाने वाली सब्जियां (winter vegetables in hindi) और फल (winter fruits in hindi)आ गए हैं। ये फल और सब्जियां आलू और प्याज की तुलना में सस्ते भी हैं और स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद भी। वहीं इनके कुछ खास गुण मौसमी इंफेक्शन और बीमारियों से भी आपको बचा सकती हैं और इम्यूनिटी बूस्ट करते हैं। तो आइए जानते हैं सर्दियों की सब्जियां और फलों के बारे में जिन्हें आप अपनी डाइट में (healthy diet)शामिल कर सकते हैं।

insidewinterveges

सर्दियों में खाई जाने वाली सब्जियां और फल (winter fruits and vegetables)

1.मूली और गाजर

मूली और गाजर खास तौर पर सर्दियों में उगते हैं। ये दोनों इस मौसम के सबसे जरूरी सब्जी और फल हैं। मूली के फायदे की बात करें, तो ये विटामिन बी और सी, साथ ही पोटेशियम में समृद्ध हैं, तो गाजर विटामिन सी और कैरेटोनाइट्स की खान है, जो कि शरीर को कई बीामरियों से बचा सकता है। वहीं मूली के अजीब से स्वाद को आइसोथियोसाइनेट्स नामक सल्फर युक्त यौगिकों के लिए जिम्मेदार ठहराया जाता है, जिन्हें कई स्वास्थ्य लाभों से जोड़ा गया है। ये शक्तिशाली यौगिक शरीर में एंटीऑक्सिडेंट के रूप में कार्य करते हैं, जो सूजन को रोकने में मदद करते हैं। वहीं गाजर शरीर में न्यू सेल्स को विकसित करने में मदद करते हैं। तो आप इन दोनों को आलू की जगह अपनी तरह-तरह की भाजी में इस्तेमाल कर सकते हैं।

2.शलजम

सर्दियों में कई रूट वेजीज आते हैं, जिनमें शलजम भी शामिल हैं। शलजम एक क्रूसिफेरल सब्जी है, जो विटामिन, खनिज और कैरोटेनॉइड से भरा हुआ है। वे फाइबर, फोलेट और विटामिन सी, ई और के के भी महान स्रोत हैं। आप इसे गर्मियों के खीरे और ककड़ी की जगह सलाद बनाने के लिए इस्तेमाल कर सकते हैं। साथ ही आप इससे सूप भी बना सकते हैं। वहीं आप इसे फ्राई करके भी खा सकते हैं। वहीं इसमें घुलनशील वाले फैट और विटामिन भी पाए जाते हैं। खासतौर पर विटामिन-ए, डी, ई और के। 

इसे भी पढ़ें : Skin Cancer Prevention: स्किन कैंसर से अपना बचाव करने के लिए डाइट में जरूर शामिल करें ये खास चीजें

3.गहरे हरे रंग के पत्तेदार साग

सर्दियों में खासतौर पर गहरे हरे रंग के पत्तेदार साग आते हैं, जो एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होते हैं। ये इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए खास तौर पर बहुत फायदेमंद होते हैं। ये कैल्शियम को प्राप्त करने के लिए डेयरी का एक अच्छा विकल्प हैं, तो वहीं ये आयरन और फोलेट का एक अच्छा स्रोत भी हैं, जो कि गर्भवती महिलाओं के लिए विशेष डाइट के रूप में महत्वपूर्ण है। आलू की सब्जियों की जगह आप इन साग का इस्तेमाल कर सकते हैं। इन सागों की बात करें, तो इसमें बथुआ, चना का साग, सरसों और अन्य देसी साग शामिल हैं।

insidewinterfruits

4.खट्टे फल

खट्टे फल ज्यादातर यह सर्दियों में मौसम में होता है। सर्दियों के महीनों के दौरान संतरे, मौसमी और अंगूर कुछ सबसे स्वादिष्ट विकल्प हैं। वे विटामिन सी, विटामिन ए और फाइबर प्राप्त करने का एक शानदार तरीका हैं। ये एंटीवायरल गुणों की भी खान है, जो आपको मौसमी फ्लू से बचाए रखने के लिए जरूरी है। इन्हें आप फ्रूट सलाद बना कर खा सकते हैं या सर्दियों में बनाए जाने वाले खास स्मूदी के लिए इस्तेमाल कर सकते हैं।

इसे भी पढ़ें : लाल रंग की फल और सब्जियां कैंसर का करती हैं बचाव, जानें इसके और भी फायदे

5.अनार

अनार सर्दियों के मौसम में ज्यादा आने वाला फल है। इसी वजह से इस मौसम में ये सस्ता मिलता है। इसमें बीटा-कैरोटीन, पोटेशियम और विटामिन सी जैसे एंटीऑक्सिडेंट और फाइटोन्यूट्रिएंट्स पाए जाते हैं। आप इससे अनार जूस, कस्टर्ड और ओट्स आदि बना सकते हैं। 

इस तरह इन मौसमी फलों और सब्जियों का इस्तेमाल करना आपकी डाइट को बेहतर बना सकता है। वहीं आपको महंगाई की भी चिंता नहीं होगी जिसके कारण आज कल लोग आलू और प्याज खरीदने से बच रहे हैं। तो अपने रोज की भाजी और सलाद में इन फलों और सब्जियों को शामिल करें और एक हेल्दी डाइट फॉलो करें।

Read more articles on Healthy-Diet in Hindi

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK