• shareIcon

कोलेस्ट्रॉल, मोटापा और मेटाबॉलिज्म की समस्या को दूर करता है गुग्गुल, जानें कैसे करें सेवन

आयुर्वेद By Anurag Gupta , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग / Jan 08, 2019
कोलेस्ट्रॉल, मोटापा और मेटाबॉलिज्म की समस्या को दूर करता है गुग्गुल, जानें कैसे करें सेवन

गुग्गुल को आयुर्वेद में बहुत गुणकारी माना जाता है। गुग्गुल कई बीमारियों और समस्याओं में फायदेमंद होता है। गुग्‍गुल कफ, वात, कृमि और अर्श नाशक होता है। इसके अलावा इसमें सूजन और जलन को कम करने के गुण भी होते हैं। गुग्गुल एक वृक्ष का नाम है। इससे

गुग्गुल को आयुर्वेद में बहुत गुणकारी माना जाता है। गुग्गुल कई बीमारियों और समस्याओं में फायदेमंद होता है। गुग्‍गुल कफ, वात, कृमि और अर्श नाशक होता है। इसके अलावा इसमें सूजन और जलन को कम करने के गुण भी होते हैं। गुग्गुल एक वृक्ष का नाम है। इससे प्राप्त लार जैसे पदार्थ को भी 'गुग्गल' कहते है। इसकी महक मीठी होती है और आग में डालने पर वह स्थान सुंगध से भर जाता है। आइए आपको बताते हैं किन समस्याओं में फायदेमंद है गुग्गुल।

कोलेस्ट्रॉल कम कर दिल के रोगों से बचाए गुग्गुल

गुग्गुल के प्रयोग से शरीर से कोलेस्ट्रॉल की मात्रा को घटाया जा सकता है। कई वैज्ञानिक शोधो में यह पता चला है कि गुग्गुल कोलेस्ट्रॉल को कम करने में मदद करता है। इस कारण इसे दिल के लिए भी फायदेमंद माना जाता है। दिल की ज्यादातर समस्याओं का कारण बढ़ा हुआ कोलेस्ट्रॉल होता है। रक्तचाप के स्तर को कम और सामान्य स्तर पर बनाए रखने में गुग्‍गुल बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। इसके अलावा गुग्‍गुल दिल को स्वस्थ रखता है।

इसे भी पढ़ें:- पेशाब की जलन और ल्यूकोरिया जैसी कई समस्याओं को ठीक करता है गोंद, जानें प्रयोग

मोटापा घटाए और फिट रखे गुग्गुल

गुग्‍गुल का इस्‍तेमाल शरीर में फैट को कम करने के लिए किया जाता है। इसके सेवन से आपके शरीर खासकर पेट, जांघों और हिप्स की चर्बी तेजी से बर्न होती है। सर्दियों में गुग्गुल का प्रयोग फायदेमंद होता है। अगर आप फिट रहना चाहते हैं और शरीर की अतिरिक्त चर्बी को कम करना चाहते हैं, तो रोजाना गुग्गुल का प्रयोग करें।

मेटाबॉलिज्म बेहतर करे गुग्गुल

गुग्गुल के सेवन से आपका मेटाबॉलिज्म बेहतर होता है। अगर आपका मेटाबॉलिज्म कमजोर हो जाए, तो आपको कई तरह की समस्याएं हो जाती हैं जैसे- वजन घटने लगना, कमजोरी होना, थकान और आलस की समस्या आदि। गुग्गुल आपकी पाचन क्रिया को ठीक करता है, जिससे मेटाबॉलिज्म बेहतर हो जाता है। इसके अलावा ये थायरॉइड की समस्या को भी कम करता है।

इसे भी पढ़ें:- सर्दियों में सिरदर्द, आलस और थकान को दूर करेंगी ये 3 आयुर्वेदिक चाय, जानें कैसे बनाएं

कब्ज की समस्या में है फायदेमंद

अगर आपको कब्‍ज की शिकायत रहती हैं तो आपके लिए गुग्‍गुल का चूर्ण फायदेमंद हो सकता है। इसके लिए लगभग 5 ग्राम गुग्गुल में सामान मात्रा में त्रिफला चूर्ण को मिलाकर रात में हल्का गर्म पानी के साथ सेवन करने से लम्बे समय से बनी हुई कब्ज की शिकायत दूर हो जाती है तथा शरीर में होने वाले सूजन भी दूर हो जाते हैं।

कैसे करें गुग्गुल का सेवन

गुग्गुल एक तरह का गोंद होता है इसलिए इसे इस्तेमाल करने के लिए इसे पीसकर पाउडर बना लें। अब रोजाना 1 से 2 ग्राम गुग्गुल पाउडर को गर्म पानी या दूध के साथ पिएं। गुग्गुल का सेवन करने के लिए इसे त्रिफला के काढ़े और दूध में पका लें। सर्दियों में आप दिन में 3 बार इसका सेवन कर सकते हैं जबकि गर्मियों में दिन में 1 या 2 बार ही इसका सेवन करना चाहिए। दरअसल गुग्‍गुल की प्रकृति गर्म होने के कारण इसका ज्‍यादा इस्‍तेमाल करने पर इसे गाय के दूध या घी के साथ सेवन करें। साथ ही इसका प्रयोग करते समय तेज और मसालेदार भोजन, अत्याधिक भोजन, या खट्टे खाद्य पदार्थों का सेवन न करें।

ऐसे अन्य स्टोरीज के लिए डाउनलोड करें: ओनलीमायहेल्थ ऐप

Read More Articles On Ayurveda In Hindi

 
Disclaimer:

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।