• shareIcon

Diabetes diet:डायबिटीक लोग इस दिवाली घर पर बनाएं ये 6 पकवान, ब्लड शुगर रहेगा कंट्रोल और मिठास रहेगी बरकरार

डायबिटीज़ By जितेंद्र गुप्ता , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग / Oct 18, 2019
Diabetes diet:डायबिटीक लोग इस दिवाली घर पर बनाएं ये 6 पकवान, ब्लड शुगर रहेगा कंट्रोल और मिठास रहेगी बरकरार

त्यौहारों पर मिठाई खाना किसे पसंद नहीं लेकिन जब यह मिठाई आपके स्वास्थ्य के लिए जहर बन जाए तो अपने खान-पान पर ध्यान देना जरूरी हो जाता है। हम आपके ऐसे 6 पकवानों के बारे में बताने जा रहे हैं, जिन्हें आप घर पर बना कर खा सकते हैं। 

त्यौहारों की खुशी क्या होती है, इस बात का अंदाजा लोगों के चेहरों से ही लगाया जा सकता है। लोग त्यौहारों का जश्न मनाने के लिए अपने परिवार या दोस्तों के साथ खाना-खिलाना और धूम-धमाका करना पसंद करते हैं। भारत त्यौहारों का देश हैं, जहां दिवाली का अपना ही महत्व होता है। जैसे-जैसे दिवाली के दिन नजदीक आ रहे हैं ठीक वैसे-वैसे लोगों के मन में मिठाईयों के प्रति संदेह भी बढ़ता जाता है। दिवाली का वक्त विशेषरूप से डायबिटीज से पीड़ित लोगों के लिए मुश्किल भरा होता है क्योंकि उन्हें अपने खाम-पान पर  जरूरत से ज्यादा ख्याल रखना होता है। बाजार में बिकने वाली मिठाईयों के बारे में तो लोग हर साल पढ़ते हैं लेकिन फिर भी किसी न किसी कारणवश उन्हें इसका शिकार होना ही पड़ता है। अगर आप डायबिटीज से परेशान हैं तो घबराएं नहीं क्योंकि हम घर में बनाए जाने वाले ऐसे पकवानों के बारे में बताने जा रहे हैं, जिनके जरिए आप अपनी डाइट सही रख सकते हैं और अपना ब्लड शुगर संतुलित बनाए रख सकते हैं।

कब और कितना होना चाहिए ब्लड शुगर 

शुगर या डायबिटीज मौजूदा समय में सबसे आम रोग बनता जा रहा है। रक्त में ब्लड शुगर की मात्रा बढ़ने से यह रोग होता है। ब्लड शुगर या ब्लड ग्लूकोज आपके शरीर की ऊर्जा का मुख्य स्रोत होता है। इस चित्र में जानें किस वक्त ब्लड शुगर जांचने पर उसका लेवल कितना होना चाहिए।

किस समय चेक करें                    ब्लड शुगर लेवल (मिलीग्राम प्रतिडेसीलीटर: mg/dl)

फास्टिंग या नाश्ता करने से पहले               60 से 90 एमजी/डीएल

खाना खाने से पहले (दिन और रात में)         60 से 90 एमजी/डीएल

खाना खाने के एक घंटा बाद                    100 से 120 एमजी/डीएल

इसे भी पढ़ेंः सुबह नाश्ते में 20 ग्राम अंगूर खाने से कम होता है ब्लड शुगर, डायबिटीज से बचने में भी मिलेगी मदद

अगर आप मिठाईयों के शौकीन हैं लेकिन आपको डर है कि कहीं मिठाई आपका ब्लड शुगर न बढ़ा दे तो हम आपको घर में बनाए जाने वाले ऐसे पकवानों के बारे में बताने जा रहे हैं, जिन्हें आकर आपनी लालसा और ब्लड शुगर दोनों पर काबू पा सकते हैं। तो इस दिवाली इन पकवानों को खाएं और अपना ब्लड शुगर नियंत्रित रखें।

ब्राउन राइस पोहा से बना चिवड़ा : चिवड़ा सुबह नाश्ते में खाई जाने वाली स्नैक रेसिपी है। इसके साथ ही आप इसे शाम की चाय के साथ भी खा सकते हैं। हालांकि इस रेसिपी को ज्यादातर सुबह नाश्ते में ही खाया जाता है। इसे बनाना जितना आसान है उतनी ही ज्यादा यह स्वादिष्ट भी होती है।

Buy Online: Our Organik Tree Organic Brown, Red Poha and Rice Flakes (450g) & MRP.185.00/-

दाल से बनी चकली और कड़बोली : दाल से बने सेव के स्वाद को लहसुन या पालक से बढ़ाया जा सकता है। दाल से बनी चकली को ईजी स्नैक भी कहा जाता है। दरअसल इसे आप सफर पर ले जाते भी हुए खा सकते हैं।

नमकीन शकरपारे : आप शकरपारे में शुगर के बजाए नमक मिला सकते हैं। इसके अलावा आप इसमें फ्लेवर के लिए पालक और मेथी भी मिला सकते हैं।

इसे भी पढ़ेंः  ग्लूकोमीटर का प्रयोग करते वक्त लोग अक्सर करते हैं ये 4 गलतियां, जानें कहीं आप तो नहीं कर रहे ऐसा

चावल से बना फरा: आप चावल से बने फरा को टमाटर, प्याज, मिर्च, सेंधा व काला नमक मिलाकर खा सकते हैं क्योंकि इन्हें मिलाने से इसका स्वाद बढ़ जाता है। 

मैदा और शुगर जैसे रिफाइनड उत्पादों से दूरी बनाएं। साबुत अनाज आटे से बनी तैयार चीजों का ही इस्तेमाल करें।

Buy Online: Graminway Barley Flour Jau ka Atta Whole Grain Healthy Flour, 800 gm (Pack of 1) & MRP 179.00/-

    • आप बेसन-खजूर के लड्डू तैयार कर सकते हैं और इसमें मिठास के लिए शहद मिला सकते हैं।
    • लड्डू को मूंगफली और सूखे मेवों से भी तैयार किया जा सकता है और इन्हें घी के बजाय नारियल / मूंगफली के तेल में तैयार किया जाना चाहिए।

ये टिप्स आपको दिवाली के मौके पर मिठाईयां खाने में मदद करेंगे और आपका ब्लड शुगर भी कंट्रोल रहेगा। आप इनमें बादाम, अखरोट, काजू और खजूर जैसी स्वस्थ चीजों को अपनी मिठाईयों में शामिल करें ताकि आपकी दिवाली और डायबिटीज फ्रेंडली रहे।

Read More Articles On Diabetes In Hindi

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK