• shareIcon

वैज्ञानिकों के मुताबिक, 'गिली और सूखी खांसी के लिए एक ही दवा होनी चाहिए'

अन्य़ बीमारियां By Priyanka Dhamija , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग / Jul 30, 2017
वैज्ञानिकों के मुताबिक, 'गिली और सूखी खांसी के लिए एक ही दवा होनी चाहिए'

वैज्ञानिकों का मानना है कि गिली और सूखी खांसी के लिए अलग-अलग दवाईयां नहीं होनी चाहिए, क्योंकि इन दोनों का कारण एक ही है। ड्राय कफ के लिए अलग सिरप और वैट कफ के लिए अलग सिरप मार्केटिंग का स्टंट है।

वैज्ञानिकों का मानना है कि गिली और सूखी खांसी के लिए अलग-अलग दवाईयां नहीं होनी चाहिए, क्योंकि इन दोनों का कारण एक ही है। ड्राय कफ के लिए अलग सिरप और वैट कफ के लिए अलग सिरप मार्केटिंग का स्टंट है। इस पर किए गए रिव्यू के मुताबिक ये पब्लिक से पैसे बटोरने का तरीका है। रेस्पिरेटरी एक्सपर्ट का मानना है कि दोनों तरह की खांसी एक ही दवा से ठीक हो सकती हैं। इसके लिए फार्मसी की गाइडलाइन्स में बदलाव की मांग भी की जा रही है। वैज्ञानिकों के मुताबिक, मरीज़ों से यह पूछना कि आपको सूखी खांसी है या फिर खांसते वक्त बलगम आती है, आउटडेटिड साइंस है। मॉडर्न वर्ल्ड में इसके अलग-अलग ट्रीटमेंट की कोई ज़रूरत नहीं है। जब गला अंदर से बहुत ज़्यादा सेंसिटिव हो जाता है, तो इरिटेशन होती है और इससे खांसी होने लगती है।

throat

अमेरिकी केमिकल सोसायटी के रिसर्चर्स ने कहा कि खांसी की दवा लेने से नींद आने लगती है और इंसान आराम से सो पाता है। इन्होंने यूनिकॉफ़ के नाम से एक कॉमन सिरप निकाला, जो चॉकलेट-बेस्ड है। इससे खांसी भी कम होती है और इसके होने का डुरेशन भी ज़्यादा हो जाता है। इस दवा को लेने के बाद देखा गया कि कई मरीज़ों की खांसी चार दिन में गायब हो गई। इस दवाई को लेने के बाद यह बात भी साबित हुई कि ड्राय और वैट कफ के लिए अलग-अलग ट्रीटमेंट की कोई ज़रूरत नहीं। यहां तक की कफ को ड्राय और वैट क्लासिफाई करने की भी कोई ज़रूरत नहीं।

इसे भी पढ़ेंः इसलिए गुगल से पढ़कर कभी न लें दवाई, दे सकते हैं इन 5 जानलेवा बीमारियों को न्योता

ये हैं खांसी भगाने के 5 घरेलू उपाय


1- रात को सोने से पहले अदरक और शहद मिलाकर पिएं। इससे आपकी खांसी भी रुक जाएगी और आप चैन की नींद सो पाएंगे।

2- गुनगुने पानी में नमक डालकर गार्गल करें। इससे आपके गले में चल रही इरिटेशन जल्दी ठीक होगी और खांसी में भी आराम मिलेगा। यह बलगम साफ करने में भी मदद करता है। इसके कोई साइड इफेक्ट्स भी नहीं हैं। गला खराब होने के दौरान, डॉक्टर्स भी गार्गल करने की सलाह देते हैं।

3- स्टीम लेना सबसे बेहतरीन उपाय है। कोल्ड हो या कफ, स्टीम बहुत इफेक्टिव है और फायदा भी करती है। इससे तकलीफ जड़ से साफ हो जाती है। अगर ज़्यादा खांसी हो, तो दिन में 2 बार स्टीम ले सकते हैं और थोड़ा आराम मिलने पर रात को सोने से पहले। इससे रात को खांसी भी नहीं छिड़ेगी और रात को नींद भी अच्छी आएगी। डॉक्टर्स भी इसे मानते हैं। जब बच्चों को खांसी होती है, तो वो दवा से पहले स्टीम देने की सलाह देते हैं।

4- चाय में काली मिर्च डालकर पीने से गला खुलता है और साफ होता है। इससे भी आपको गले की परेशानी और खांसी से आराम मिलेगा। भले ही इसका इफेक्ट स्लो है, लेकिन अगर आप बार-बार मेडिसन नहीं लेना चाहते, तो यह घरेलू उपाय आपके लिए फायदेमंद साबित हो सकता है।

इसे भी पढ़ेंः गाय में है इस खतरनाक बीमारी को दूर करने की क्षमता!

5- अदरक और पुदीने के सिरप से भी गला बेहतर लगता है। इससे गले में हो रही दर्द में भी आराम मिलेगा। इस सिरप को आप घर पर भी बना सकते हैं। इसके लिए 3 चम्मच अदरक तैयार कर लें (पीस कर), 1 चम्मच सूखा पुदीना, 4 कप पानी और 1 कप शहद।
अदरक और पुदीने को 4 कप पानी में मिक्स करके गैस पर रख दें। उबाला आने पर, गैस धीरे कर दें। जब तक लिक्विड आधा न हो जाए, इसे उबलने दे। फिर इसे ठंडा करें और बाद में 1 कप शहद डालकर, इसे अच्छे से मिक्स करें। आप इसे बोतल में बंद करके फ्रिज में रख सकते हैं और खांसी आने पर 1 चम्मच पी सकते हैं।

ऐसे अन्य स्टोरीज के लिए डाउनलोड करें: ओनलीमायहेल्थ ऐप

Read More Other Diseases Articles In Hindi

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK