ढूंढ-ढूंढ कर थक गए एजिंग और वजन घटाने के तरीके? डॉ. स्वाति से जानें 5 आम फूड्स जो दोनों में साबित होंगे कारगर

Updated at: Jul 31, 2020
ढूंढ-ढूंढ कर थक गए एजिंग और वजन घटाने के तरीके? डॉ. स्वाति से जानें 5 आम फूड्स जो दोनों में साबित होंगे कारगर

डायटिशियन डॉ. स्वाति बाथवाल आपको ऐसे किचन फूड्स के बारे में बता रही हैं, जो न सिर्फ वजन घटाएंगे बल्कि आपको एजिंग से भी बचाएंगे। 

Jitendra Gupta
स्वस्थ आहारReviewed by: स्वाती बाथवाल, इंटरनैशनल स्पोर्ट्स डायटीशियनPublished at: Jul 31, 2020Written by: Jitendra Gupta

अक्सर, हम ऐसे खाद्य पदार्थों के बारे में सुनते या पढ़ते हैं, जो वजन घटाने में हमारी मदद कर सकते हैं। हम सभी अपनी बढ़ती उम्र में जवां दिखना चाहते हैं लेकिन एंजिंग को कोई टाल नहीं सकता और उम्र का बढ़ना एक ऐसी लकीर है, जिसे कोई मिटा नहीं सकता है। फिट बनने और युवा होने की इस चाहत में हम में से कई लोग गूगल पर इस बारे में जानकारी खोजते रहते हैं। ज्यादातर बार होता ये है कि ढेर सारी सूचनाएं जुटा लेते हैं, जो मददगार तो साबित नहीं होती हैं लेकिन उन्हें पढ़-पढ़कर हमारा दिमाग जरूर चकराने लगता है। हालांकि एक विश्वसनीय स्वास्थ्य जानकारी हमारे नैतिक विकास में जरूर योगदान कर सकती है। जी हां, इसी विश्वसनीय जानकारी को साझा करते हुए मशहूर डायटिशियन डॉ. स्वाति बाथवाल आपको अपने किचन में मौजूद कुछ ऐसी चीजों के बारे में बता रही हैं, जो न केवल वजन घटाने में हमारी मदद करते हैं, बल्कि हमें बढ़ती उम्र में भी सुंदर रखने का काम करते हैं। स्वाति आपके ये सभी सबूतों के आधार पर बता रही है, जिसे साइंस भी समर्थन देता है। तो आइए जानते हैं इन फूड्स के बारे में। 

adarak

सोंठ / सूखी अदरक 

ज्यादातर भारतीय घरों में दिन की शुरुआत अदरक वाली चाय के कप के साथ शुरू होती है और हम अपनी सब्जियों और करी में कद्दूकस की हुई अदरक भी डालते रहते हैं। यह लंबे समय से पारंपरिक चिकित्सा के रूप में भी उपयोग की जाती रही है। अदरक, मार्निंग सिकनेस, माइग्रेन का सिरदर्द, कोलेस्ट्रॉल, ट्राइग्लिसराइड्स, ब्लड शुगर और मासिक धर्म में ऐंठन को कम करने में मदद करता है। लेकिन फैट बर्निंग के बारे में क्या? कई शोध से ये पता चलता है कि सुबह 1 चम्मच अदरक पाउडर का सेवन करने पर पर हमारी मेटाबॉलिक दर 10% तक बढ़ सकती है। लेकिन नियम है किआपको सुबह में केवल 1 चम्मच सूखे अदरक के पाउडर का सेवन करना है और दिन भर वॉक या घर के काम जैसे मूवमेंट को जारी रखना है। इसके अलावा आपको एक जगह पर लंबे समय तक नहीं बैठे रहना है। यह नुस्खा केवल सुबह में काम करता है, इसलिए दिन भर में अदरक का सेवन न करें। इसलिए इसे प्रयोग करने का सबसे अच्छा तरीका है सुबह के वक्त काढ़ा या चाय बनाते समय उसमें अदरक पाउडर का उपयोग करें। 

इसे भी पढ़ेंः कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच आपके पास होने चाहिए ये जरूरी सामान, डॉ. स्वाति से जानें देखभाल का सही तरीका

दालचीनी 

हमने ब्लड शुगर के स्तर, कोलेस्ट्रॉल और ट्राइग्लिसराइड को नियंत्रित करने को लेकर दालचीनी के कुछ चमत्कारी लाभों के बारे में कई बार पढ़ा होगा लेकिन शोध से यह भी पता चलता है कि यह हमारा वजन कम करने में भी मदद करती है। यह शरीर में इंसुलिन प्रतिरोध को कम करने की अपनी क्षमता के कारण संभव हो सकता है। लेकिन याद रखें, जैसे किसी भी चीज का अधिक सेवन खराब है, दालचीनी का सेवन दिन में केवल 1 चम्मच किया जाना चाहिए और यह सीलोन दालचीनी होना चाहिए जो असली दालचीनी है, कैसिया दालचीनी (चीनी दालचीनी) नहीं। कैसिया दालचीनी में एक कैमारिन नामक यौगिक होता है, जो अधिक मात्रा में लेने पर लिवर के लिए जहर साबित हो सकता है। कैसिया दालचीनी स्वाद में थोड़ी तीखी होती है और गहरे भूरे रंग की लाल रंग की होती है, जबकि सीलोन किस्म अधिक मीठी होती है और रंग में तन होती है। सीलोन किस्म पतली और पपीरी होती है जबकि कैसिया किस्म मोटी और पीसने के लिए सख्त होती है।

tea

चाय की पत्ती 

बस एक कप चाय पीएं और एक घंटे की वॉक के भीतर आप 10 प्रतिशत से अधिक कैलोरी बर्न कर लेंगे। तीस मिनट चलने से पहले 24 घंटे के भीतर 4 कप चाय पिएं और आप आराम से चलने के दौरान अतिरिक्त फैट को बर्न कर पाएंगे। अब, जिस चाय के बारे में यहां बात हो रही है वह है काली चाय। इस लेख में चीनी के साथ दूध की चाय की बात नहीं हो रही है जिसके साथ आप कुकीज या बिस्कुट खाते हैं। यह सिर्फ ब्लैक टी या ग्रीन टी ही होनी चाहिए। जब आप दूध को चाय में शामिल करते हैं, कैसिइन जो कि दूध प्रोटीन होता है, चाय से कुछ पोषक तत्वों के अवशोषण को कम करता है। चाय की पत्तियां कैटेचिन नामक एक यौगिक से समृद्ध होती हैं, ये यौगिक फैट को बर्न करने में मदद करते हैं। दिलचस्प बात ये है कि ये चाय की पत्तियां जो सफेद चाय और हरी ग्रीन टी हैं, इनमें एंटी-एजिंग गुण अधिक होते हैं। इसलिए जवां दिखने के लिए अपनी दूध की चाय को ब्लैक टी या ग्रीन टी से बदलें। 

इसे भी पढ़ेंः औषधीय गुणों से भरपूर हैं पान के पत्ते, डॉ. स्वाति बाथवाल से जानें स्वास्थ्य के लिए कैसे फायदेमंद है पान खाना

कॉफी 

जैसा कि हम ब्लैक टी पर चर्चा कर रहे हैं, हमें पता होना चाहिए कि यह ब्लैक कॉफी है जिसके कई स्वास्थ्य लाभ होते हैं और वजन घटाने में हमारी मदद कर सकती है। ग्रीन कॉफी एक्सट्रैक्ट को वजन कम करने के इलाज के रूप में बेचा जाता है और आपने इसे टीवी विज्ञापनों और डॉक्टरों द्वारा वजन घटाने के सप्लीमेंट के रूप में भी देखा होगा। लेकिन दुख की बात यह है कि यह सिर्फ एक धोखाधड़ी है। जिन कंपनियों ने ये दावा किया था उन पर लाखों डॉलर का जुर्माना लगाया गया था। यह साबित हो चुका है कि 100 मिलीग्राम कैफीन हमारी मेटाबॉलिक दर को बढ़ा सकता है, जो लगभग एक कप कॉफी में है। जब आप अपने वर्कआउट से पहले कॉफी का सेवन करते हैं तो आप अधिक कैलोरी बर्न करते हैं। जब हम 2 कप ब्लैक कॉफी पीते हैं तो इसके सेवन के 2 घंटे बाद हमारी मेटाबॉलिक दर 10 प्रतिशत तक बढ़ जाती है, जो कि एक कप में लगभग 17–20 कैलोरी होती है। अपनी कॉफी में दूध या क्रीम न डालें, इससे आपके शरीर में विपरीत प्रभाव पड़ेगा। जिन लोगों को गंभीर चिंता या गैस्ट्रिक की समस्या है, उन्हें अपनी चयापचय दर बढ़ाने के लिए दालचीनी और अदरक पाउडर का उपयोग करना होगा।

मिर्च 

कैपेसिकन एक तीखा यौगिक है, जो मिर्च में पाया जाता है। अगर आप मिर्चों के साथ भोजन का सेवन करते हैं तो हम यहां हरी मिर्च के बारे में बात कर रहे हैं। यह आपके मेटाबॉलिज्म को 30% तक बढ़ा देगा। जबकि अन्य चीजें या वजन घटाने वाले बूस्टर चयापचय दर में केवल 10% की वृद्धि करते हैं, इसलिए हरी मिर्च इस सूची में सबसे ऊपर है। इसलिए इसमें कोई हैरानी नहीं होती कि भारतीय थाली में हम अपने सलाद में हरी मिर्च पाते हैं, और यह नहीं भूलना चाहिए कि हरी मिर्च में सुपर विटामिन सी भी उपलब्ध होता है। आपकी चयापचय दर को बढ़ाने और महान स्वास्थ्य लाभ प्रदान करने के लिए बस दिन में लगभग 2 हरी मिर्च पर्याप्त हैं। कृपया वजन कम करने के लिए एक हरी मिर्च जरूर खाएं। हरी मिर्च का अधिक सेवन न केवल आपकी जीभ को जला देगा, बल्कि आपको बार-बार वॉशरूम भी जाना पड़ सकता है। 

जैसा कि स्वाति ने किचन में मौजूदा खाद्य पदार्थों के बारे में बताया है कि ये कितने फायदेमंद है लेकिन लेकिन याद रखें कि आपके लिए मूवमेंट बहुत जरूरी है। आपको अपनी मेटाबॉलिक दर को उच्च रखने के लिए चलना होगा। बहुत देर तक एक जगह पर न बैठें। याद रखें, वजन घटाने की कुंजी है अपनी आदतों में सुधार। अपने स्वयं के नियम बनाएं और उन्हें आपके लिए योग्य बनाएं। यह वह आदत है, जहां हमारी कमी है तो, उन बुरी आदतों को तोड़ने के विभिन्न तरीकों को जानें। खूब पानी पिएं, सूरज की रोशनी में बाहर निकलें या अच्छी मात्रा में सीरम विटामिन डी लें, अपने आप को एक अच्छी नींद के लिए कंडीशन करें और आधी रात के भोजन से बचें । जी हां अपने खुद के नियम बनाएं, यही कारण है कि इंटरमिटेंट फास्टिव इतनी प्रभावी है। 

Read more articles on Healthy Diet in Hindi

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK