Eye Care Tips: आंखो को सेहतमंद रखना चाहते हैं, तो आपके काम आएंगी ये 7 जरूरी टिप्स

Updated at: Oct 19, 2020
Eye Care Tips: आंखो को सेहतमंद रखना चाहते हैं, तो आपके काम आएंगी ये 7 जरूरी टिप्स

आंखें हमारे शरीर का आवश्यक अंग है। इसलिए इसकी देखभाल भी उतनी ही जरूरी है। आइए जानते हैं इससे जुड़ी जरूरी बातें।

Monika Agarwal
अन्य़ बीमारियांWritten by: Monika AgarwalPublished at: Sep 07, 2020

आज की जीवनशैली में गैजेट्स का प्रयोग बढ़ गया है। बच्चे हों या बड़े सब का अधिकांश समय स्क्रीन के साथ गुजरता है। क्या आप जानते हैं कि इन सबके साथ अत्याधिक समय बिताने की वजह से आपकी आंखों पर कितना दुष्प्रभाव पड़ता है? इसलिए आंखो को सेहतमंद रखना बहुत आवश्यक है। हमें अपनी आंखो का विशेष रूप से ध्यान रखना चाहिए, ताकि आंखो को किसी प्रकार की हानि न पहुंचे। तो आइए जानते हैं आंखों के स्वास्थ्य से जुड़ी बातें।

स्क्रीन फिल्टर प्रयोग करें

यदि आपका अधिकतर समय फोन या कम्प्यूटर की स्क्रीन की ओर देखने में ही गुजर जाता है, आप जॉब या किसी अन्य काम की वजह से इस स्थिति से बच नहीं सकते। तब हरेक 60 मिनट के बाद 15-25 सेकंड का गैप लें। स्क्रीन देखते समय आप की आंखें भले ही दुखें नहीं, पर आंखे थक जातीं हैं। अच्छा रहेगा यदि स्क्रीन फ़िल्टर का उपयोग करें। धूप में निकलने से पहले धूप का चश्मा लगाना ना भूलें। ताकि अल्ट्रावॉयलेट किरणें आपकी आंखों पर प्रभाव ना डालें।खेलते समय आंखों को किसी भी प्रकार की जोर से बचाने के लिए आईवियर ग्लास पहनें। 

Wear Sun Glasses

अपनी डाइट का ख्याल रखें 

खाद्य पदार्थ जो आपके दिल, आँखों और दृष्टि के लिए अच्छे हैं, उनका सेवन करें। स्वस्थ खाद्य पदार्थ चुनें जैसे कि जिंक और विटामिन ए से भरपूर खाद्य पदार्थ, बीन्स, मटर, मूंगफली, गाजर आदि। इनका सेवन आंखों को नुकसान पहुंचने से बचाता है। अन्य पोषक तत्व जो आँखों की मदद करते हैं जैसे बीटा-कैरोटीन व ल्युटिन और ज़ेक्सैंथिन हैं। ये पीले या नारंगी फलों और और पत्तेदार साग  में पाया जाते हैं।  

समस्या को हल्के में न लें

यदि आप की आंखे लाल रहती है या उनमें कुछ हल्का फुल्का दर्द या खुजली है या आंखों में दर्द, स्राव, सूजन, या प्रकाश के प्रति संवेदनशीलता है अथवा देखने में या अंधेरे में तैरने वाले स्पॉट, प्रकाश की चमक दिखती है, तो आई ड्रॉप का प्रयोग करें व आप को इस परेशानी को हल्के में नहीं लेना चाहिए।आप को अपनी आंखो को डॉक्टर को अवश्य दिखाना चाहिए। 

इसे भी पढ़ें: थकी हुई आंखों और दिमाग को तुरंत ठीक करेंगे ये 4 योगासन, मिलेंगे कई फायदे

Dont use Old Makeup

मेकअप उत्पाद बदलें

लिक्विड या क्रीमी आई मेकअप में बैक्टीरिया आसानी से पनपते हैं। अत: कुछ समय के बाद उत्पादों को बदल नये खरीद लें। यदि आप को कोई संक्रमण हो जाता हैं, तो तुरंत डॉक्टर की सलाह लें। यदि आपको एलर्जी की शिकायत है, तो एक समय में केवल एक नए उत्पाद का प्रयोग करें। सौंदर्य प्रसाधन को कभी सांझा न करें। मेकअप का उपयोग करने से पहले और बाद में अपने चेहरे को अच्छी तरह से साफ करें, और लैश लाइनों के अंदर सौंदर्य प्रसाधन न लगाएं।

इसे भी पढ़ें: क्‍या भी रहते हैं ड्राई आईलिड से परेशान? तो इस समस्‍या से निपटने के लिए रोज करें ये 3 काम

आंखों का चैक अप करायें

आप को नियमित रूप से अपनी आंखो का चैक अप कराते रहना चाहिए ताकि आप की आंखो में यदि कोई बीमारी या कोई समस्या है, तो उसका पता चल जाए और आप समस्या के बढ़ने से पहले ही उसका इलाज करा पाएं। कॉन्टेक्ट लेंस पहनते हैं, या मधुमेह, उच्च रक्तचाप या नेत्र रोग का पारिवारिक इतिहास है तो हर साल जांच होना जरूरी है। वैसे भी 17 साल के बाद आंखों का नियमित चेकअप जरूरी है। शुरू शुरू में तो हर 2 साल बाद लेकिन फिर हर 6 महीने में।

Read More Article On Other Disease In Hindi

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK