गर्मियों में ऑयली स्किन से परेशान तो इस तरह करें अरंडी के तेल का इस्तेमाल, झुर्रियां हटेंगी-खिल उठेगा चेहरा

Updated at: Jul 11, 2020
गर्मियों में ऑयली स्किन से परेशान तो इस तरह करें अरंडी के तेल का इस्तेमाल, झुर्रियां हटेंगी-खिल उठेगा चेहरा

स्किन की समस्याओं के उपचार और कोमल त्वचा पाने के लिए प्राकृतिक तरीकों को अपनाना सुरक्षित और सरल तरीको में से एक है। जानें अरंडी के तेल के फायदे।

Jitendra Gupta
त्‍वचा की देखभालWritten by: Jitendra GuptaPublished at: Jul 11, 2020

तेज गर्मी के इस मौसम में पसीना और ऑयली स्किन लोगों की सबसे आम स्किन समस्याओं में से एक है, जिनके कारण चेहरा हमेशा फीका-फीका सा दिखाई देता है। ऑयली स्किन होने से आपके चेहरे पर मुंहासे होने की संभावना बढ़ जाती है जो आमतौर पर आपकी त्वचा के नीचे सूजन के कारण होता है। जब मुंहासों के इलाज की बात आती है तो ज्यादातर लोग कैमिकल युक्त उत्पादों का सहारा लेते हैं और अंत में उनकी त्वचा को अधिक नुकसान पहुंचता है। इसलिए एक्सपर्ट सुझाव देते है कि आप प्राकृतिक तरीकों को अपनाएं। स्किन से जुड़ी समस्याओं का इलाज करने और कोमल त्वचा पाने के लिए प्राकृतिक तरीकों को अपनाना सुरक्षित और सरल तरीको में से एक है। अरंडी का तेल त्वचा की समस्याओं के लिए सबसे लोकप्रिय प्राकृतिक उपचार में से एक है। अरंडी के बीजों से निकाला गया यह पीला-पीला तरल एंटीऑक्सिडेंट, विटामिन ई, प्रोटीन और ओमेगा 6 और 9 से बहुत समृद्ध होता है। अरंडी के तेल में जीवाणुरोधी गुण होते हैं और यह आपके मुंहसों पर ठंडे एजेंट के रूप में कार्य करता है और इस प्रकार आपकी त्वचा पर मुंहासों के प्रभाव को कम करता है। इसके अलावा, यह चमत्कारिक औषधि कई अन्य त्वचा और बालों की स्थिति को दूर करने के लिए जानी जाती है। तो आइए जानते हैं कि इसे चमत्कारी फायदे।

castoroil

अरंडी के तेल से मिलते हैं मजबूत और चमकदार बाल

एक सामान्य बालों का तेल केवल बाहरी पोषण दे सकता है, लेकिन अरंडी का तेल आपकी स्कैल्प को भी पोषण देने का काम करता है। इसमें रिकिनोलेइक एसिड और ओमेगा -6 फैटी एसिड होता है। कैस्टर ऑयल से स्कैल्प पर मसाज करने से ब्लड सर्कुलेशन बढ़ाने में मदद मिलती है, जिससे बालों की ग्रोथ में सुधार होता है। कैस्टर ऑयल आपके बालों को प्राकृतिक रूप से मॉइस्चराइज और कंडीशन करता है।

इसे भी पढ़ेंः शहतूत खाने के ही नहीं बल्कि त्वचा पर लगाने के भी हैं कई फायदे, जानें चेहरे पर कैसे करें शहतूत का इस्तेमाल

बालों का झड़ना होता है कम

अरंडी के तेल में मौजूद घटक रिकिनोलेइक एसिड और ओमेगा -6 फैटी एसिड बालों की देखभाल में मदद करते हैं। स्टीम थेरेपी के साथ-साथ सप्ताह में एक बार अरंडी के तेल और मेथी के बीज के पाउडर से बने हेयर मास्क को लगाने से आपके बालों का झड़ना कम हो सकता है और जड़ें मजबूत हो सकती हैं।

wrinkle

झुर्रियां होंगी कम 

कैस्टर ऑयल झुर्रियों के लिए एक बेहतरीन प्राकृतिक उपचार हो सकता है क्योंकि यह त्वचा में प्रवेश करता है और कोलेजन नामक त्वचा प्रोटीन के उत्पादन को बढ़ाता है जो त्वचा को नरम और हाइड्रेट करता है। यह आपकी त्वचा को नरम और चिकना बनाकर चमकदार बनाता है। झुर्रियों वाले हिस्से पर अरंडी के तेल की थोड़ी सी मात्रा लगाएं और इसे रात भर लगा छोड़ दें। सुबह उठकर साफ पानी से चेहरा धो लें। 

इसे भी पढ़ेंः क्‍या भी रहते हैं ड्राई आईलिड से परेशान? तो इस समस्‍या से निपटने के लिए रोज करें ये 3 काम

फोड़े को कम करता है अरंडी का तेल

फोड़ा एक त्वचा का संक्रमण है, जो बालों के रोम या तेल ग्रंथि के आसपास दिखाई देता है। आपकी पलक के पास होने वाले फोड़े को स्टे कहा जाता है। चूंकि अरंडी के तेल में काफी एंटी-बैक्टीरियल गुण होते हैं, इसलिए यह उपचार की शैली में अद्भुत काम कर सकता है। प्रभावी परिणाम के लिए एक दिन में कम से कम दो-तीन बार फोड़े पर अरंडी का तेल की एक बूंद लगाएं।

रुखी त्वचा को ठीक करता है अरंडी का तेल

शुष्क और रूखी त्वचा को अलविदा कहने के लिए अरंडी के तेल का उपयोग करें। क्या फटी एड़ी या टखने आपको परेशान कर रहे हैं? दर्द से राहत पाने के लिए प्रभावित क्षेत्रों पर पीसे हुए कपूर के साथ अरंडी का तेल लगाएं। अरंडी का तेल पैर की एकमात्र पर त्वचा को एक्सफोलिएट और नरम कर सकता है। इसके अलावा अरंडी का तेल उन लोगों के लिए भी फायदेमंद है, जो एटोपिक जिल्द की सूजन नामक त्वचा की बीमारी से पीड़ित हैं। यह एक शुष्क त्वचा रोग है जो जलवायु परिवर्तन और बढ़ते प्रदूषण के कारण अधिक से अधिक लोगों को प्रभावित कर रहा है। पूरे शरीर पर अरंडी का तेल लगाने से आपकी त्वचा को पोषण देने और शुष्क त्वचा रोग को रोकने में मदद मिल सकती है।

Read More Article On Skin Care In Hindi

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK