Prevent Stomach Infection: मानसून में पेट के संक्रमण से बचना है तो इन 6 बातों का जरूर रखें ध्‍यान

Updated at: Jun 26, 2020
Prevent Stomach Infection: मानसून में पेट के संक्रमण से बचना है तो इन 6 बातों का जरूर रखें ध्‍यान

बिना सोचे समझे अपनी सेहत के साथ खिलवाड़ कर लेते हैं जो कि बिलकुल भी सही नही है। इस मानसून हम किनकिन बातों का ध्यान रखें आइए जानते हैं।

सम्‍पादकीय विभाग
अन्य़ बीमारियांWritten by: सम्‍पादकीय विभागPublished at: Jun 26, 2020

आम तौर पर मानसून अपने साथ बहुत सी बीमारियां व इंफेक्शन लेकर आता है। दरअसल मानसून का अहसास भर ही दिल और दिमाग को प्रफुल्लित कर देता है। हम गरमा गरम पालक, गोभी और अरबी के पत्तों के पकौड़े, फास्ट फूड खाने से खुद को रोक नहीं पाते। ये सब हरी पत्ते दार सब्जियां या स्ट्रीट फूड अपने साथ बहुत सी बिमारियों को भी लेकर आती हैं। कैसे बरतें सावधानी जानते हैं।

1. स्ट्रीट फूड न खाएं:

जितना हो सके उतना स्ट्रीट फूड को अवायड करें। क्योंकि अकसर स्ट्रीट फूड को बनाते समय हाइजिन का बिलकुल भी ध्यान नहीं रखा जाता है। ऐसे में  अधपका या तला भुना भोजन करने से पेट से जुड़ी समस्याएं,संक्रमण ,एलर्जी कुछ भी हो सकती हैं । मानसून में फ्राइड फूड के बजाय ग्रिल्ड और तंदूरी फूड का ही सेवन करें।ज्यादा ऑयली फूड अपच की समस्याओं बढ़ायेगा।  यदि आप को जंक फूड की क्रेविंग्स होती भीछ हैं तो आप घर पर ही साफ शुद्ध सामान का प्रयोग कर के कुछ भी बना सकते हैं। यह स्ट्रीट फूड से कहीं ज्यादा बेहतर है।

unhealthy

2. खाने को अच्छे से पकाएं:

कई बार हम ज्यादा जल्दी में होते हैं और टाइम सेविंग के लिए अधपका या कच्चा खाना पसंद करते हैं जैसे जूस,सलाद आदि। ऐसा करना हमारी सेहत व पेट के लिए बहुत नुकसान दायक हो सकता है।मानसून के मौसम में कच्ची सब्जियां कच्चा सलाद या फलों के जूस पीने से बचे क्योंकि यह आसानी से नहीं पचते। साथ ही यदि भोजन में सलाद को शामिल भी करना चाहते हैं तो किसी भी तरह के वायरस या कीड़ों के इन्फेक्शन से बचने के लिए उसे स्टीम्ड करके खाएं। ज्यादा देर कटा हुआ फल भी खाना चाहिए । इस लिए कोशिश करें कि आप खाने को जल्दबाजी में नहीं बल्कि आराम से समय लगा कर पकाएं ताकि सेहत के साथ कोई खिलवाड न होने पाए।

3. उबला हुआ पानी ही पीएं:

मानसूनी मौसम में दूषित पानी पीने से बैक्टीरिया शरीर में पहुंच कर पाचन तंत्र को प्रभावित करता है। इसलिए पानी उबालकर पीना श्रेयस्कर है। पानी को उबालने से उस में से सभी प्रकार के बैक्टीरिया खत्म हो जाते हैं व पानी शुद्ध हो जाता है।उबला पानी पीने से  डिहाइड्रेशन और डायरिया जैसी बीमारियों से तो बचाव होता ही है साथ ही शरीर में उत्पन्न हुए विषाक्त पदार्थ भी  शरीर से बाहर निकल जाते हैं! 

food

4. खाने से पहले अच्छे से हाथों को धोएं:

ऐसा होना संभव है कि बारिश के मौसम के दौरान आप के हाथों पर कहीं से भी कोई कीटाणु या बैक्टीरिया चिपक जाए जो कि पेट के अंदर जा कर कोई बीमारी या इंफेक्शन उत्पन्न कर सकता है। इस लिए आप पहले अपने हाथों को अच्छे से धोएं उस के बाद ही कुछ खाएं।

इसे भी पढ़ें: आपकी सेहत के लिए कौन से फूड्स हैं ज्यादा बेहतर? जानें गुड फैट और बैड फैट में अंतर और इनका असर

5. अपनी इम्मयुनिटी को बढाएं:

आप को बीमारियों से बचने के लिए आप के इम्मयुन सिस्टम का मजबूत होना बहुत ही जरूरी है। नहीं तो आप जल्दी जल्दी बीमार पड़गे। आप की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ने के लिए आप सूूूखा और साबुत अनाज जैसे- मक्का, जौ, गेहूं, बेसन और दालों और साथ ही आसानी से मिलने वाले भुने भुट्टे को अपने भोजन में शामिल करें। यह आप की इम्मयुनिटी मजबूत करने में मददगार साबित होंगे।

इसे भी पढ़ें: कब्ज़ दूर करने के असरदार व घरेलू नुस्खे

6. एप्‍पल साइडर विनेगर का प्रयोग करें:

एप्‍पल साइडर विनेगर उन बैक्टीरिया को मारने में सफल रहता है जो पेट में इंफेक्शन करते हैं। इस लिए आप को कभी कभार बारिश के मौसम में एप्‍पल साइडर विनेगर को भी अपनी डाइट का हिस्सा बना लेना चाहिए।

Read More Articles On Other Diseases In Hindi

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK