Subscribe to Onlymyhealth Newsletter

Office Tips: ऑफिस में अपनाएं ये 5 जरूरी आदतें, दूर रहेंगी दिल की बीमारियां

विविध
By शीतल बिष्ट , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग / Aug 10, 2019
Office Tips: ऑफिस में अपनाएं ये 5 जरूरी आदतें, दूर रहेंगी दिल की बीमारियां

ऑफिस में काम के दौरान आपको घंटों बैठने पड़ता है, जिसके कारण लंबे समय में दिल के रोगों का खतरा बढ़ जाता है। अगर आप ऑफिस में ये 5 आदतें अपनाएं, तो दिल की बीमारियों से बच सकते हैं।

दिल की बीमारियां दुनिया भर में मौत की सबसे अहम वजह है। एक तथ्य यह है कि दिल की बीमारी से होने वाली 80 प्रतिशत मौतों को हम रोक सकते हैं, बस हमें यह करना होगा कि खतरा पैदा करने वाले कारकों पर नियंत्रण पाना होगा, जैसे तंबाकू का सेवन बंद करना, सेहत के लिए हानिकारक चीजें न खाना और शारीरिक निष्क्रियता यानि एक जगह ज्‍यादा देर तक बैठे रहने से मुक्तिपाना आदि। एक दिन में हम जो समय जाग कर बिताते हैं, उसका 60 प्रतिशत हिस्सा हमारा दफ्तर ऑफिस में काम करते हुए गुजरता है। इसलिए हमें अपने काम की जगह पर कुछ अच्छी आदतों को बढ़ावा देने की जरूरत है, जिससे दिल की बीमारियों से बचाव हो सके।

शोध बताते हैं कि नियमित व्यायाम और पोषण युक्त खानपान से स्ट्रैस मैनेजमेंट और मानव शरीर की हर क्रिया पर बहुत ही सकारात्मक प्रभाव डाला जा सकता है। इस तरह दिनभर बैठकर काम करने वाले लोगों के हृदय स्‍वास्‍थ्‍य को सही रखा जा सकता है।

जरूरी है साल में 1 बार जांच

हर साल स्क्रीनिंग होने से दिल के रोगों का समय पर पता लगाया जा सकता है। उच्च रक्तचाप और कोलेस्ट्रोल का ह्रदय प्रणाली पर बुरा प्रभाव पड़ता है। नियमित जांच से आप को पता लग सकता है कि कब कौन सा कदम उठाना है? इससे ह्रदय रोग की सफलतापूर्वक रोकथाम करने में मदद मिलती है। अच्छी आदतों को बढ़ावा देना जैसे कैंटीन में बिकने वाले खाद्य पदार्थों पर लेबल लगा होना जिससे कि कर्मचारी को पता चल सके कि वह कितनी कैलोरी खा रहा है। बहुत महत्वपूर्ण है कि कैंटीन में साबुत अन्न का भोजन, फल, सब्जियां आदि उपलब्ध रहें।

इसे भी पढ़ें:- त्वचा पर दिखने वाले ये 6 निशान हो सकते हैं 'हार्ट अटैक' का पूर्व संकेत, 35+ उम्र वाले रहें सावधान

खेल खेलना है अच्छा विकल्प

ब्रेक के दौरान कर्मचारियों को व्यायाम करने के लिए प्रोत्साहित करें। कार्यस्थल पर जिम, टेनिस कोर्ट आदि होने से कर्मचारी नियमित व्यायाम तथा खेलों में सक्रिय रहते हैं। कंपनियों को चाहिए कि वह हर 6 महीनों में खेल मुकाबलों का आयोजन करें जैसे क्रिकेट, टेनिस या मैराथन। इससे कर्मचारियों को शारीरिक रूप से सक्रिय रहने की प्रेरणा मिलती है तथा उनमें टीम भावना भी जागृत होती है।

दोपहर के भोजन में खूब फाइबर रखें

बाहर खाने की बजाय घर से अपना लंच बाक्स ले जाएं। भोजन में फाइबर की प्रचुर मात्रा होने से आप की खुराक से कैलोरी घटेगी और यह आप के पेट के लिए अच्छा है। ब्रेक टाइम में शुगर वाले स्नैक्स से परहेज करें। हमेशा साबुत अनाज से बने स्नैक्स लेकर आफिस जाएं जैसे ओट्स, नट्स और बैरका. हर रोज अपनी खुराक में 10 ग्राम फाइबर शामिल करने से आप दिल के मर्ज का खतरा 17 प्रतिशत तक कम कर सकते हैं।

इसे भी पढ़ें:- सिर्फ इंसानों को ही क्यों आता है हार्ट अटैक? जानें हृदय रोगों का मुख्य कारण और बचने के टिप्स

सक्रिय रहें और चलते फिरते रहें

लंच के बाद आराम से चहलकदमी करें। लिफ्ट की बजाय सीढ़ियों का इस्तेमाल करें। बस स्टैण्ड से घर या आफिस की दूरी न हो तो कुछ पहले ही उतरकर पैदल चल कर जाएं। इसके अलावा वर्कस्टेशन पर चहलकदमी करते रहें।

सकारात्मक रहें

नकारात्मक सोच वाले लोगों के मुकाबले सकारात्मक सोच रखने वाले लोगों में हृदय रोग की संभावना 9 प्रतिशत कम होती है। इससे मधुमेह, उच्च रक्तचाप, उच्च कोलेस्ट्रोल और अवसादग्रस्त होने के मामले कम होते हैं। इन प्रयासों के दूरगामी परिणाम होंगे और दफ्तर में काम करने वालों के दिल को स्वस्थ रखकर देश पर हृदयरोगों के बढ़ते बोझ को कम किया जा सकेगा।

Read more articles on Miscellaneous in Hindi

Written by
शीतल बिष्ट
Source: ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभागAug 10, 2019

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK