थायराइड फंक्शन को हेल्दी रखने के लिए खाएं 5 चीजें, एक्सपर्ट से जानें थायराइड डिसऑर्डर से बचाव के उपाय

थायराइड के शुरुआती लक्षणों को पहचानना मुश्किल होता है। इसके लिए जरूरी है कि आप थायराइड बढ़ने न दें और इससे बचाव के उपायों के बारे में जानें। 

Pallavi Kumari
विविधWritten by: Pallavi KumariPublished at: Jun 09, 2021
Updated at: Jun 14, 2021
थायराइड फंक्शन को हेल्दी रखने के लिए खाएं 5 चीजें,  एक्सपर्ट से जानें थायराइड डिसऑर्डर से बचाव के उपाय

थायराइड हार्मोन के असंतुलन के कारण आज कल लोगों को कई बीमारियों का सामना करना पड़ रहा है। असल में ये सब हमारी जीवनशैली से जुड़ा हुआ है। आज कल जब स्ट्रेस बढ़ रहा है और लोगों के पास डाइट व एक्सरसाइज के लिए समय नहीं है, ऐसे में ये तमाम चीजें मिल कर थायराइड से जुड़ी गड़बड़ियों को बढ़ाते हैं। तो, प्रश्न ये है कि थायराइड हार्मोन को हेल्दी और संतुलित रखने के लिए किन चीजों को खास ख्याल रखना चाहिए और किन चीजों को करने से बचना चाहिए। इसी बारे में हमने छवि. अग्रवाल (Dr. Chhavi Agrawal), एसोसिएट कंसल्टेंट,  डायबिटीज और एंडोक्रिनोलॉजी फोर्टिस एस्कॉर्ट्स, हार्ट इंस्टीट्यूट, ओखला रोड से बात की। डॉ. छवि में थायराइड असंतुलन के कारणों के बारे में बताया और उनसे बचने के उपाय भी सुझाए। पर आइए सबसे पहले विस्तार से समझते हैं थायराइड ग्लैंड काम कैसे करता है। 

Insidethyroid

थायराइड का क्या कार्य है?

थायराइड एक तितली के आकार की ग्रंथि होती है जो गर्दन के सामने होती है। यह ग्रंथि शरीर के कई तंत्र को नियंत्रित करती है। थायराइड के मुख्य कार्यों में से एक थायराइड हार्मोन का उत्पादन करना है। यह T3 हार्मोन, T4 हार्मोन और थायराइड-उत्तेजक हार्मोन (TSH) का उत्पादन करता है। T3 और T4 हार्मोन आयोडीन का उपयोग करके थायरायड में बनते हैं। फिर उन्हें ब्लड में सर्कुलेट कर देते हैं। जहां वे शरीर में यात्रा करते हैं और चयापचय प्रक्रियाओं को विनियमित करने में मदद करते हैं। TSH एक हार्मोन है जो T3 और T4 हार्मोन का उत्पादन करने के लिए थायरायड को एक्टिवेट करता है। अगर किसी व्यक्ति का थायरायड अधिक काम कर रहा है और बहुत अधिक हार्मोन का उत्पादन कर रहा है, तो उसे हाइपरथायरायडिज्म (hyperthyroidism) कहा जाता है। दूसरी ओर, अगर किसी का थायरॉयड कम काम कर रहा है और पर्याप्त थायराइड हार्मोन नहीं बना रहा है, तो उसे हाइपोथायरायडिज्म (hypothyroidism) कहा जाता है।

थायराइड, आपके मेटाबोलिज्म प्रोसस को भी तेज करता है। खास बात ये है कि आपके मेटाबोलिज्म का खराब होना शरीर के तापमान, आपके दिल की धड़कन और आप कितनी अच्छी तरह कैलोरी बर्न करते हैं, इन सब को प्रभावित करता है। अगर आपके पास पर्याप्त थायराइड हार्मोन नहीं है, तो आपके शरीर की ये सभी प्रक्रिया धीमी हो जाती है। इसका मतलब है कि आपका शरीर कम ऊर्जा बनाता है, और आपका चयापचय सुस्त हो जाता है।

इसे भी पढ़ें : इन्हेलर के इस्तेमाल में लोग अक्सर करते हैं ये 6 गलतियां, जानें इस्तेमाल का सही तरीका

थायराइड फंक्शन को हेल्दी रखने के लिए खाएं 5 चीजें-How to increase thyroid hormone naturally

डॉ. छवि. अग्रवाल (Dr. Chhavi Agrawal) बताती हैं कि थायराइड डिसऑर्डर के पीछे कई कारण होते हैं। सबसे बड़ा कारण आनुवंशिकता यानी कि जेनेटिक फेक्टर। दूसरा कारण है स्मोकिंग और खराब लाइफस्टाइल। साथ ही मोटापा और वायरल डिजीज भी थायराइड डिसऑर्डर  के कुछ बड़े कारणों में से एक हैं। पर कुछ सुपरफूड्स हैं, जो कि आपके  थायराइड फंक्शन को हेल्दी रखने में मदद कर सकते हैं। 

1. आयोडीन की मात्रा बढ़ाएं

थायराइड को हेल्दी रखने के लिए सही मात्रा में आयोडीन लेना जरूरी है। थायराइड हार्मोन जैसे थायरोक्सिन (T4) और ट्राईआयोडोथायरोनिन (T3) को आयोडीन अणुओं की संख्या के कारण T4 और T3 नाम दिया गया है। T4 में चार आयोडीन अणु होते हैं और T3 में तीन होते हैं। आयोडीन के बिना आपका शरीर थायराइड हार्मोन को संतुलित नहीं रखता है। इसलिए हमें आयोडीन युक्त खाद्य पदार्थों का सेवन करके इसका लेवस बढ़ा सकते हैं।

2. हरी सब्जियों को पका कर खाएं

केल, ब्रोकली और फूलगोभी जैसी सब्जियों को अपने खाने का हिस्सा बनाएं। पर ध्यान रहें इन सब्जियों को बिना पकाएं न खाएं। ये ब्रैसिका परिवार की सब्जियां हैं, जो कि 'गोइट्रोजन' के रूप में जाना जाता है, जिसका अर्थ है कि वे आयोडीन के अवशोषण को रोककर थायरयड ग्रंथि के कार्य को दबा सकते हैं। सुनिश्चित करें कि आप अपने ब्रासिका को खाने से पहले हल्का पका लें, ताकि उनका आपको पूर

3. सेलेनियम से भरपूर चीजें खाएं

मुट्ठी भर मेवे आपको पर्याप्त मात्रा में सेलेनियम दे सकते हैं।  सेलेनियम थायराइड हार्मोन T4 और T3 को संतुलित करने में मदद करेगा। यह एक शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट भी है और ऑक्सीडेटिव तनाव से थायराइड ग्लैंड की रक्षा करता है। इसलिए थायराइड से बचाव के लिए सेलेनियम भरपूर चीजों को खाएं। सेलेनियम और आयोडीन  के लिए आप अंडे भी खा सकते हैं। सबसे अधिक स्वास्थ्य लाभ के लिए, पूरा अंडा खाएं, क्योंकि जर्दी में अधिकांश पोषक तत्व होते हैं।

Inside2healthydiet

4. मछली खाएं

मछली ओमेगा -3 फैटी एसिड और सेलेनियम से भरपूर होती है, जो दोनों सूजन को कम करने में मदद करते हैं। ओमेगा -3 और सेलेनियम की स्वस्थ खुराक पाने के लिए लंच या डिनर के लिए सैल्मन और कॉड ऑयल का इस्तेमाल करें।

5. डेयरी प्रोडक्ट्स लें

डेयरी प्रोडक्ट्स लें, जैसे दूध, दही और पनीर। इन डेयरी उत्पादों में आयोडीन होता है। थायरायड ग्रंथियों को बड़ा होने से रोकने के लिए आपको इन चीजों को अपने खाने में शामिल करें। 

इसे भी पढ़ें : कोविड के बीच कनाडा में देखे जा रहे हैं रहस्यमयी 'ब्रेन सिंड्रोम' के मामले, सामने आए 48 मामले, 6 की मौत

थायराइड डिसऑर्डर से बचाव के उपाय-Prevention tips for thyroid problems

1. स्मोकिंग से बचें

स्मोकिंग या धूम्रपान के दौरान निकलने वाले विषाक्त पदार्थ थायरायड ग्रंथि को ज्यादा संवेदनशील बना सकते हैं जिससे थायराइड  डिसऑर्डर  हो सकते हैं। इसलिए इससे बचने के लिए हमें स्मोकिंग से बचना चाहिए। 

2. प्रोसेस्ड फूड से बचें

प्रोसेस्ड फूड में काफी सारे केमिकल होते हैं। ये थायराइड हार्मोन के उत्पादन को बदल सकते हैं। इसलि अपनी डाइट में हरी सब्जियां और ताजी चीजों को शामिल करें और बाहरी चीजों को लेने से बचें।

3. सोया से बचें

सोया का सेवन सीमित करें क्योंकि यह हार्मोन उत्पादन को बदल देता है। इससे थायराइड हार्मोन का प्रोडक्शन कम या ज्यादा दोनों हो सकता है।

4. ज्यादा स्ट्रेस न लें

स्ट्रेस लेने से थायराइड हार्मोन के प्रोडक्शन में बदलाव आ सकता है। इससे थायराइड हार्मोन से जुड़ी गड़बड़ी बढ़ सकती है, जो कि मोटापा भी बढ़ा सकता है।

5. भूखे न रहें

भूखा रहना या फास्टिंग आपको थायराइड डिसऑर्डर की ओर ले जा सकता है। इसलिए सुबह नाश्ता जरूर करें। अगर आपको सुबह-सुबह कॉफी पीने की आदत है, तो इस आदत से बचें। ये आपके थायराइड प्रोडक्शन को बढ़ावा दे सकता है। या पहले कुछ खाएं और फिर कॉफी  पिएं। 

स्ट्रॉबेरी, ब्लूबेरी और रंगीन सब्जियों में एंटी-ऑक्सीडेंट होते हैं। ये उम्र बढ़ने के संकेतों को कम करने और बीमारी से लड़ने में मदद करने के लिए जाने जाते हैं, पर खास बात ये है कि ये ऑटोइम्यून थायरॉयड डिसऑर्डर से बचते हैं। थायराइड ऑक्सीडेटिव तनाव के लिए अतिसंवेदनशील होते है और इसलिए थायराइड कोशिकाओं को सुरक्षित रखने के लिए  एंटी-ऑक्सीडेंट से भरपूर चीजों का सेवन करें।  साथ ही रोजाना एक्सरसाइज जरूर करें और एक एक्टिव लाइफस्टाइल फॉलो करने के लिए कोशिश करें।  

Read more articles on Miscellaneous in Hindi

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK