• shareIcon

ब्रेकअप के बाद के 'अकेलेपन' और स्ट्रेस को दूर करेंगे ये 4 उपाय, सीखें खुश रहने के आसान तरीके

डेटिंग टिप्स By शीतल बिष्‍ट , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग / Jun 29, 2019
 ब्रेकअप के बाद के 'अकेलेपन' और स्ट्रेस को दूर करेंगे ये 4 उपाय, सीखें खुश रहने के आसान तरीके

जिंदगी में जहां खुशी है वहां गम भी लेकिन यह सब बातें हमें तब सही लगती हैं, जब हमें कोई सपोर्ट करने पाला या समझने वाला हो। एक खुशहाल जिंदगी जीने के लिए हर किसी को एक अच्‍छे दोस्‍त, परिवार और हमसफर की जरूरत होती है। लेकिन जब जिंदगी के सफर मे

प्‍यार भगवान का दिया अनमोल तौहफा है। वो कहते हैं ना, कि प्‍यार किस्‍मत वालों को ही मिलता है। शायद हो सकता है कि कभी आपने भी किसी को अपने दिलोजान से चाहा हो लेकिन किसी कारण आप उससे दूर हो गये हों या उसने आपका दिल तोड़ दिया हो। अक्‍सर ब्रेकअप के बाद लोगों को अकेलेपन का एहसास होता है, जिसके वहज से वह काफी परेशान रहते हैं और हमेशा कुछ न कुछ सोचते रहते हैं। बहुत से लोग ब्रेकअप होने के बाद अकेलेपन की वजह से डिप्रेशन का शिकार हो जाते हैं या फिर नाखुश रहते हैं। अगर आप भी इस स्थिति से गुजर रहे है या आपको भी अकेलापन सताता है, तो इन तरीकों से अपने अकेलेपन को दूर करें और पहले की तरह हंसी-खुशी के साथ जिंदगी जीना सीखें। 

अपनी सोच से मिलते-जुलते लोगों से जुड़ें 

बहुत से लोग पार्टनर से ब्रेकअप के बाद इतना नेगेटिव हो जाते हैं, कि उनके दिमाग में हमेशा नकारात्‍मक विचार चलते रहते हैं। ऐसे में आप ब्रेकअप के बाद दोस्‍तों से मिलना-जुलना कम या बंद ही कर देते हैं या फिर लोगों के बीच होते हुए भी सबसे अलग अपने ख्‍यालों में ढूबे रहते हैं। जिससे की आप डिप्रेशन में चले जाते हैं या फिर ब्रेकअप के बाद आप अकेलेपन का शिकर होते हैं। ऐसे में आप इस अकेलेपन और डिप्रेशन से बचने के लिए लोगों, दोस्‍तों से मिलना-जुलना बंद न करें और आप ऐसे लोगों से मिलें, जिनके विचार आपसे मिलते हों। इससे आपका अकेलापन दूर होगा और आपके मन की बातें बाहर आ पाएंगी। जिससे आप हल्‍का महसूस करेंगे। 

इसे भी पढें: करियर और प्यार के बीच ऐसे बिठाएं तालमेल, आड़े नहीं आएगा कोई भी रिश्ता

घूमने निकलें 

अकेलेपन के कारण हो सकता है कि आपको समझ नहीं आता हो कि आप क्‍या करें और क्‍या नहीं? ऐसे में कई बार आप बहुत दुखी भी महसूस करते होंगे, आपके मूड स्विंग, नकारात्‍मक विचार और आप अलग ही महसूस क‍रते होंगे। आपको लगता होगा कि दुनिया में सब लोग कितने खुश हैं, बस एक आप ही हो, जो परेशानियों से घिरे हैं। इसके अलावा ब्रे‍कअप के बाद आप इनसिक्योर महसूस करते हैं, जिसकी वजह से आप नए दोस्‍त बनाने में भी रूचि नहीं दिखाते या अपने बाकि दोस्‍तों से भी कटते चले जाते हैं। जिससे आप और भी अकेले पड़ते हैं, तो इस अकेलेपन से निकलने का सबसे अच्‍छा तरीका है कि दोस्‍तों के साथ घूमने के प्‍लान बनाएं और घूमने निकल जाएं। नए दोस्‍त बनाएं और अपना ज्‍यादा से ज्‍यादा समय लोगों के बीच और मस्‍ती में निकालें। इससे आप अपने दुख को जल्‍दी भुला पाएंगे और अकेलेपन से दूर होंगे।     

अपनी केयर व ख्‍याल रखें

अकेलेपन को दूर करने के लिए यह भी जरूरी है कि आप अपनी केयर करना सीखें। सेल्‍फ रिस्‍पेक्‍ट के लिए खुद की केयर करें, ख्‍याल रखें। ऐसा नहीं है कि कोई आपको छोड़ कर चला गया, तो आपका कोई अस्तित्‍व ही नहीं है। ऐसे में आप खुद से प्‍यार करें, खुद की खुशी के बारे में सोचें और वो सब करें, जिसमें आपको खुशी मिलती है। काशिश करें कि पार्टनर के चले जाने का रोना रोने के बजाय खुद को वयस्‍त रखें। 

इसे भी पढें: फर्स्‍ट डेट पर लड़की को करना चाहते हैं इंप्रेस, तो लड़के अपनाएं ये 4 ड्रेसिंग टिप्स

खुद के बारे में सोचें

ब्रेकअप के बाद आप अपने बारे में सोचें और अपना आंकलन करें, नेगेटिविटी की बजाय पॉजिटिव सोचें। सोचें जो हुआ, अच्‍छा हुआ। शायद इसी में आपकी भलाई रही हो। दिल से सोचें कि आपकी आपके बारे में क्‍या राय है और सच्‍चाई को स्‍वीकारें। खुद को अकेला महसूस कराने के बजाय अपने अच्‍छे दोस्‍तों, परिवार के बारे में सोचें। सोचें कि आप अकेले नहीं बहुत से लोग हैं जो कि आज भी आपके साथ हैं। ऐसा करने से आपको हीलिंग पावर मिलेगी और आप अच्‍छा महसूस करेंगें। 

Read More Article On Relationships In Hindi 

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK