• shareIcon

Tibetan Remedy for Hair Fall: गंजेपन और झड़ते बालों से हैं परेशान तो आजमाएं तिब्‍बत का ये नुस्‍खा, जरूर दिखेगा असर!

घरेलू नुस्‍ख By Atul Modi , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग / Jul 22, 2019
Tibetan Remedy for Hair Fall: गंजेपन और झड़ते बालों से हैं परेशान तो आजमाएं तिब्‍बत का ये नुस्‍खा, जरूर दिखेगा असर!

महिला हो या पुरुष, हर कोई चाहता है कि उसके बाल लंबे, घने, मजबूत और खूबसूरत बाल हों। मगर, हमारी खराब लाइफस्‍टाइल और कुछ खास कारणों की वजह से ऐसा संभव नहीं हो पाता है। बालों को टूटने

बालों का झड़ना दुनिया भर में सबसे आम समस्याओं में से एक है। इससे एक तिहाई आबादी प्रभावित है। हालांकि, एक दिन 100 बालों का झड़ना प्राकृतिक है। बालों के झड़ने के कई कारण हो सकते हैं जिनमें आहार, मिनरल्‍स की कमी, दवाएं, तनाव, प्रदूषण और आनुवांशिकी शामिल हैं। टोपी या हेलमेट पहनना भी पुरुषों में बाल झड़ने का एक कारण हो सकता है। बालों के झड़ने से निपटने या कम करने में मदद करने के लिए यहां हम आपको तिब्‍बत का एक नुस्‍खा बता रहे हैं, जिसकी मदद से आप बालों को झड़ना आसानी से रोक सकते हैं। जो पुरुष गंजेपन के शिकार हैं वह भी अगर नियमित रूप से इस नुस्‍खे का प्रयोग करें तो उन्‍हें दूरगामी परिणाम देखने को मिल सकते हैं। 

 

बाल झड़ना रोके तिब्‍बत का ये नुस्‍खा 

इस तिब्‍बती नुस्‍खे का प्रयोग में तिब्‍बत के लोग ज्‍यादा करते हैं। इस नुस्‍खे में कई प्रकार की जड़ी-बूटियों को मिश्रण होता है, जिसमें अमरबेल, आंवला, रीठा, रतनजोत और शिकाकाई शामिल है। इसे सरसों के तेल के साथ प्रयोग किया जाता है। इसके प्रयोग से बालों का झड़ना असानी से कम हो जाता है। इससे कम उम्र में बाल सफेद होने की शिकायत भी दूर हो सकती है। इस लेख में हम आपको बता रहे हैं, इसके बनाने की विधि और प्रयोग करने का तरीका। 

बनाने की विधि 

  • सबसे पहले आप अमरबेल, आंवला, रीठा, रतनजोत और शिकाकाई को 25-25 ग्राम बराबर मात्रा में ले लें। यह आपको बाजार में किसी भी पंसारी की दुकान में मिल जाएंगे। इन औषधियों को लेते समय इसकी गुणवत्‍ता को जरूर परख लें। 
  • इसके बाद, इन चारों औषधियों को अच्‍छी तरह से धोकर सुखा लें और बारीक पीस लें, पीसने के लिए मिक्‍सी के बजाए सिल-बट्टे का प्रयोग करें। 
  • जब इसका पाउडर तैयार हो जाए तो इसमें सरसों का शुद्ध तेल मिलाकर रख दें। कुछ ही दिन में तेल का रंग लाल हो जाएगा। 
  • इसमें औषधि जब नीचे बैठ जाए और तेल ऊपर आ जाए तो उस तेल को सिर में मालिश करने के लिए प्रयोग में लाएं। 

कब और कैसे करें प्रयोग 

  • इस तिब्‍बती औषधि का प्रयोग आप हर तीसरे दिन कर सकते हैं। 
  • आप इस तेल की मालिश सिर पर अच्‍छी तरह से करें और बालों को कवर कर लें। 
  • सिर का मसाज करने से रक्‍त परिसंचरण बढ़ जाएगा और बालों को पोषण मिलेगा। 
  • रात में मसाज करने के बाद अगले दिन सुबह सिर को ऑर्गेनिक शैम्‍पू या माइल्‍ड शैम्‍पू से धो लें।
  • बाल सूखने के बाद कंघी करें।  

बालों को टूटने से बचाने के अन्‍य उपाय 

बालों को टूटने से बचाने के लिए कुछ उपाय निम्‍नलिखित हैं: 

  • नियमित एक्‍सरसाइज और योगासन।  
  • प्रोटीन युक्‍त आहार का सेवन।  
  • फल और हरी पत्‍तेदार सब्जियों का सेवन।  
  • खुद को हाइड्रेट रखें। 
  • तनाव से दूर रहें। 
  • हर समय टोपी या हेल्‍मेट का प्रयोग न करें। 
  • समय-समय पर बालों को धोएं और ट्रिमिंग कराएं। 
  • रोजाना शैम्‍पू के प्रयोग से बचें। 

Read More Articles On Home Remedies In Hindi

 
Disclaimer:

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।