सर्दियों में आपको हेल्‍दी और रोगमुक्‍त रखेंगे ये 8 ईज़ी टिप्‍स

सर्दियों में आपको हेल्‍दी और रोगमुक्‍त रखेंगे ये 8 ईज़ी टिप्‍स

हमारे शरीर में मौसम के बदलाव के साथ पाचन क्रिया भी बदलती हैं जिससे इम्युनिटी पर बड़ा परभाव पडता हैं।

सितंबर का महीना लगभग खत्‍म हो चुका है और हल्‍की-हल्‍की ठंड के साथ अक्‍टूबर की शुरूआत भी होने वाली है। आने वाली सर्दी में खुद को स्‍वस्‍थ रखना बड़ी चुनौती होगी! आयुर्वेद के अनुसार सर्दियों में विषाक्तता को बढ़ने में सहायता मिलती हैं जब हमारे शारीर में इम्युनिटी कम होती हैं, उस समय आपको अपने इम्युनिटी को बढ़ाने के लिए एक बेहतर कदम उठाना चाहिए।

आयुर्वेदिक विशेषज्ञ डॉक्टर दिव्या (स्वामी परमानन्द प्राकृतिक चिकित्सालय योग एवं अनुसंधान केंद्र) का मानना है कि आप जिस प्रकार का खाना खाते है क्या वह इम्युनिटी को बढाता हैं। उनका कहना हैं, हम जो खाना खाते हैं वह हमारे शारीर को रोगों से बचाने में मदद करता हैं, इसलिए हमे इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि हम जो खाना खा रहे हैं वह हमारे स्वस्थ के लिए हानिकारक है या लाभदायक हैं? यहाँ आप कुछ बेहतरीन आयुर्वेदिक तारीके पा सकते हैं जो हमारे शरीर में इम्युनिटी को बढ़ाने में मदद करेगा, क्योकि हमारे शरीर में मौसम के बदलाव के साथ पाचन क्रिया भी बदलती हैं जिससे इम्युनिटी पर बड़ा प्रभाव पड़ता हैं।

कैंसर के खतरे से बचाएंगी ये 5 आयुर्वेदिक औषधियां!

आयुर्वेदिक जड़ी बूटियां

सर्दियों के दौरान अपने आहार में अश्वगंधा, आमला, तुलसी, त्रिफला, च्यवनप्राश, इत्यादि जैसे जडीबुटीयां को शामिल करें। इन्हें चाय के रूप में भी शामिल किया जा सकता हैं| ये जड़ी बूटियां हमारे शारीर के सिस्टम में रोग प्रतिरोधी क्षमता को बढाने में मदद करता हैं जिससे इम्युनिटी बढती हैं|

तेल के साथ गर्म पानी का स्नान

सर्दियों के दौरान इम्युनिटी में सुधार करने के लिए तेल के साथ गर्म पानी का स्नान करना बहुत ही लाभकारी होता हैं। इसके लिए गर्म पानी में कुछ मात्रा में नमक या इलाइची, तुलसी या रोजमेरी के तेल को भी मिला सकते हैं।

गर्म तेल से मालिश

आयुर्वेद में प्रतिदिन आत्म-मालिश इम्युनिटी को बढाने की सबसे अच्छी विधि मानी गई हैं तिल या सूर्यमुखी का तेल (गर्म तेल) जैसे तेलों का उपयोग करने से मांसपेशियों को मजबूती मिलती हैं और रक्त संचार में भी बढ़ोतरी होती हैं जिससे इम्युनिटी बढती हैं।

आहार में मसालो को शामिल करें

हमेशा आहार में मसालों को शामिल करना सुनिश्चित करें। जो आपके शारीर की प्रतिरक्षा को बढ़ने में सहयता करतें हैं। जीरा, हल्दी, धनियाँ, अदरक, और काली मिर्च जैसे मसाले आप अपने आहार में रोजाना नियमित रूप से जोड़ सकते हैं| यह सर्दी और फ्लू की घटना को रोकने में मदद करेगा क्योंकि इन मासलो में हानिकारक संक्रमण से पैदा होने वाले बैक्टीरिया से लाधने को क्षमता होता हैं।

गर्म भोजन खाएं

सर्दियों में गर्म एवं हल्का भोजन करना इम्युनिटी बढाने का सबसे अच्छा तरीका माना जाता हैं क्योंकि वे बैक्टीरिया से लड़ने में मदद कर सकते हैं। मौसम परिवर्तन के समय हल्का एवं गर्म भोजन करना इम्युनिटी को एक स्तर ऊपर ले जाता हैं।

ठन्डा खाना और पेय पीने से बचे

डॉक्टर्स के अनुसार ठंडा खाना एवं ठंडा पेय पदार्थ पाचन के रस के प्रभाव को कम करता हैं जिससे विषाक्त पर्दार्थो के निर्माण में वृद्धि होती हैं इसलिए इस मौसम के दौरान इम्युनिटी में सुधार के लिए ठन्डे खाद्य पदार्थ और पेय पदार्थ बंद करें।

प्रसंस्कृत और जंक फ़ूड से दूर रहे

हाँ, आपको कम से कम सर्दियों में उन अत्यंत स्वादिष्ट पदार्थों के लिए अपने आप की नियंत्रित करना सीखना चाहिए| यह शारीर में विष या एमा को एकत्रित करने का प्राथमिक कारण होता हैं।

समुचित नींद

आयुर्वेद में उचित नींद को सबसे अच्छा माना गया हैं जिसे आपको हमेशा ध्यान में रखना चाहिए। सर्दियों के मौसम में किसी व्यक्ति के लिए पर्याप्त नींद आवश्यक हैं ताकि शारीरिक रोग का विरोध कर सके और जिससे इम्युनिटी में वृद्धि हो सके।

 

ऐसे अन्य स्टोरीज के लिए डाउनलोड करें: ओनलीमायहेल्थ ऐप

Read More Articles On Ayurveda In Hindi

 
Disclaimer:

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।