एक्‍सरसाइज करने के बाद भी आपकी बॉडी है अनफिट? जानिए क्‍या है वजह

Updated at: Aug 12, 2020
एक्‍सरसाइज करने के बाद भी आपकी बॉडी है अनफिट? जानिए क्‍या है वजह

हम खुद को फिट के लिए योग व कसरत करते पर कई बार हमें इसका पूर्ण रूप से लाभ नहीं मिल पाता है। जाने इसके बारे में।

Atul Modi
एक्सरसाइज और फिटनेसWritten by: Atul ModiPublished at: Aug 12, 2020

वर्तमान जीवनशैली में लोगों के पास समय की काफी कमी होती है। पर इस व्यस्त जीवन में भी हर कोई अपनी फिटनेस का ख्याल ऱखने की कोशिश करता है। क्योंकि मौजूदा वक्त में फिटनेस हमारे काम व हमारे लुक्स पर अपना गहरा प्रभाव छोड़ती है। इसलिए आजकल फिट रहने के लिए लोग दिन प्रतिदिन बहुत सारे कार्य से समझौते करते हैं ताकि वे सेहतमंद रहें और अच्छे दिखें। लोग इसके लिए अपनी जीवनशैली को पुरी तरह से बदल देते हैं। इसके लिए वह अपने मनपसंद के व्यंजनो को भी छोड़ देते है और एक सामन्य डाइट का ही सहारा लेते है। लोग लगातार कसरत करते हैं ताकि वह खुद को फिट रख सकें।

exercise-tips

पर कई बार एक छोटी सी गलती या बुरी आदत हमारे सभी प्रयासों को नष्ट कर कर देती है और हमारे शरीर को बीमार बना देती हैं। आज हम आपको इस लेख में बताएंगे की ऐसी कौन सी आदतें होती है, जो हमारे फिट रहने की सारी मेहनत को बेकार कर देती है।

सही योग अथवा व्यायाम न करना 

ऐसा कहा जाता है कि अगर कोई व्यक्ति रोज़ सुबह व्यायाम करे तो वह कई बीमारियों को खुद से दूर रख सकता है। कई अध्ययन बताते हैं कि व्यायाम न करने से दिल की बीमारी व अन्य शारीरिक समस्याएं दस गुना तक बढ़ने का खतरा होता हैं। लेकिन हमें ये भी जानना जरूरी है कि कौन सा योग या व्यायाम हमारे शरीर के लिए लाभकारी है, व उसे प्रतिदिन कितने वक्त तक करना चाहिए। अगर हम शरीर के अनुसार सही से योग न करें तो इसका हमारे शरीर पर कोई अच्छा प्रभाव नही होगा औऱ हमारी मेहनत भी व्यर्थ हो जायेगी।

सुस्त जीवन शैली अपनाना

कई लोग प्रतिदिन थोड़े समय तक योग व कसरत करते है और बाकि बचे समय में मनचाही चीजों का सेवन करते है और ज्यादा से ज्यादा आराम करना पसंद करते है। ऐसे लोगों को कसरत से कोई खास फायदा नही होता है और वह मोटापे से भी जूझने लगते हैं, उन लोगों में तमाम तरह की बीमारियां विकसित होने की संभावना भी बढ़ जाती है। ऐसे लोगों को हृदय संबंधी बीमारियां होने का खतरा बढ़ जाता है।

diet

शारीरिक सक्रियता और व्यायाम में अंतर को समझना

शारीरिक सक्रियता और व्यायाम के मध्य अंतर समझना काफी जरूरी है ताकि हम यह तय कर सके की हमारी मेहनत बेकार न जाये। शारीरिक गतिविधि या सक्रियता का मतलब है शारीरिक ऊर्जा का व्यय शारीरिक गतिविधि में घर का काम करना, पैदल चलना, सीढ़ियों पर चलना, सामान्य श्रम, बागवानी करना या अन्य तरह की दैनिक गतिविधियां आती है जिसमें हमारा शरीर के चलने का कार्य करता है।

इसे भी पढ़ें: शरीर का अधिक वजन मस्तिष्‍क को बना सकता है बूढ़ा, जानें वजन कम करने के 5 आसान तरीके

वहीं व्यायाम निश्चित समय के लिए किया जाता है जिसकी मदद से हमारी मांसपेशियों और एरोबिक शक्ति में बढ़ोत्तरी होती है। अमेरिकन इंस्टीट्यूट फॉर कैंसर एण्ड रिसर्च सेंटर के अनुसार, शारीरिक गतिविधि और व्यायाम (योग) दोनों महत्वपूर्ण हैं। उन्होंने बताया कि हर व्यक्ति का दिन अच्छी तरह से संतुलित होना चाहिए, जिसके लिए सभी को दोनों गतिविधियां शारीरिक सक्रियता औऱ व्यायाम करना चाहिए। उन्होंने यह भी बताया कि कम शारीरिक रूप से सक्रिय लोगों में कैंसर का खतरा भी बढ़ जाता है।

इसे भी पढ़ें: आनुवंशिक मोटापे से छुटकारा दिलाने में मददगार हैं जॉगिंग और ये 6 एक्‍सरसाइज, वैज्ञानिकों ने किया दावा!

इंसान को सही से फिट होने के लिए ये जानना बहुत जरूरी है कि उसके लिए कौन कौन सी चीजें उपयोगी है। उसे इस बात कि पुरी समझ होनी चाहिए कि उसके शरीर के हिसाब से उसे किस तरह का डाइट लेनी चाहिए। उसे अपने शरीर के हिसाब से यह भी समझना चाहिए की कौन कौन सी कसरत व योग उसके लिए फायदेमंद है। अगर किसी व्यक्ति को इसकी समझ न हों तो उसे इसके लिए किसी ट्रेनर की सलाह लेनी चाहिए।

Read More Articles On Exercise & Fitness In Hindi

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK