Stomach Flu : पेट के फ्लू या वायरल गैस्ट्रोएन्टेरिटिस बचने में मदद करेंगे ये प्राकृतिक घरेलू उपाय

Updated at: Aug 31, 2020
Stomach Flu : पेट के फ्लू या वायरल गैस्ट्रोएन्टेरिटिस बचने में मदद करेंगे ये प्राकृतिक घरेलू उपाय

पेट फ्लू या वायरल गैस्ट्रोएंटेराइटिस एक सामान्य स्थिति है और कुछ प्रभावी प्राकृतिक उपाय के साथ घर पर आसानी से इलाज कर सकते हैं। 

Sheetal Bisht
घरेलू नुस्‍खWritten by: Sheetal BishtPublished at: Aug 31, 2020

पेट में संक्रमण ज्यादातर मानसून के मौसम के दौरान होता है, क्योंकि वायरस और बैक्टीरिया इस मौसम में बढ़ते हैं। यही कारण है कि हमें मानसून में स्वस्थ और घर का बना भोजन खाने की सलाह दी जाती है। कुछ लोगों की कमजोर प्रतिरक्षा होती है, जो सभी आवश्यक उपाय करने के बावजूद पेट में फ्लू या वायरल गैस्ट्रोएंटेराइटिस से ग्रस्त हो जाते हैं। यदि आप भी अक्सर पेट के दर्द से परेशान रहते हैं या उल्टी और दस्त के लक्षणों से को महसूस करते हैं, तो आप पेट के फ्लू से पीड़ित हो सकते हैं। आइए यहां इस लेख में जानें कि पेट के फ्लू से कैसे बचें। 

पेट फ्लू या वायरल गैस्ट्रोएन्टराइटिस के लक्षण

यदि आप निम्नलिखित लक्षणों को देखते हैं, तो आपको गैस्ट्रोएन्टराइटिस यानि पेट की समस्‍या हो सकती है।

  • उल्टी
  • पेट दर्द
  • पतली दस्त
  • ऐंठन
  • जी मिचलाना
  • निर्जलीकरण
  • चक्कर
  • सिरदर्द
Stomach Flu

यदि आप इन सब लक्षणों को महसूस करते हैं या फिर लक्षण असहनीय हो जाते हैं, तो आपको डॉक्टर को दिखाना चाहिए। हल्के लक्षणों और मामलों के महसूस होने पर आप इस स्थिति को कुछ प्राकृतिक उपचारों के साथ बच सकते हैं। 

इसे भी पढ़ें: क्‍या आपको भी होती है पेशाब में जलन? तो इलायची और लौंग का तेल कर सकता है आपकी इस समस्‍या को आसानी से दूर 

गैस्ट्रोएंटेराइटिस के लिए घरेलू उपचार

यहाँ पेट के फ्लू के लिए कुछ प्राकृतिक घरेलू उपचार दिए गए हैं, जो स्थिति में महत्वपूर्ण राहत लाने और पेट की परेशानी को कम करने में मदद कर सकते हैं।

दही

हम सभी जानते हैं कि प्रोबायोटिक्स आंत के स्वास्थ्य के लिए वरदान हैं। ये आंत को बहाल करते हैं और एक स्वस्थ पाचन तंत्र को बनाए रखते हैं। दही प्रोबायोटिक्स का सबसे बड़ा स्रोत है क्योंकि यह पेट की सूजन को कम करता है और पेट में अच्छे बैक्टीरिया को बढ़ाता है। आपको पेट के फ्लू के बचने के लिए रोजाना कम से कम एक कप दही जरूर खाना चाहिए। प्रोबायोटिक्स मुँहासे को भी रोक सकते हैं।

Viral Gastroenteritis Remedy

शहद

कार्बनिक शहद एंटी बैक्‍टीरियल और एंटी इंफ्लामेटरी गुणों से भरा हुआ है, जो तेजी से वसूली की अनुमति देता है। यह पेट फ्लू को शांत करता है और परेशान करने वाले लक्षणों को कम करता है।

गुनगुने पानी में शहद

आप एक गिलास गुनगुने में 1 चम्‍मच शहद मिलाएं और इस घोल को बनाकर पिएं। इस घोल को दिन में दो बार पियें। यदि आप भी डिहाइड्रेशन का सामना कर रहे हैं, तो आप ओआरएस घोल में शहद मिलाएं और इस ड्रिंक का सेवन करें।

इसे भी पढ़ें: स्‍वस्‍थ और तंदुरूस्‍त रहना है, तो इन 5 प्राकृतिक तरीको करें ब्‍लड प्यूरिफिकेशन

हरा केला

पेट फ्लू होने पर आप पके हुए केले के बजाय हरे केले खाएं। हरे केले खाने से पेट के दर्द का इलाज करने में मदद मिलती है। हरे केले में पेक्टिन होता है, जो पाचन स्वास्थ्य को बढ़ावा देता है। यह रिकवरी प्रक्रिया को भी तेज करता है। यहाँ जानें कि कैसे हरा केला आपको पेट दर्द से राहत देने में राहत देता है। 

  • एक हरे केले को धोकर उसकी स्किन यानि छिलके के साथ उबाल लें।
  • इसे धीमी आंच पर 7-10 मिनट तक उबालें।
  • अब, त्वचा को छील लें और उबले हुए केले को मसल लें।
  • आपका स्वाद के लिए कुछ नमक और काली मिर्च भी जोड़ सकते हैं।
Green Banana

हल्दी वाला दूध

हल्दी वाला दूध पीना काफी स्‍वास्‍थ्‍यवर्धक माना जाता है। इसमें एंटी इंफ्लामेटरी गुण और कर्क्यूमिन होता है, जो एंटीऑक्सिडेंट में हाई होता है। यह गैस्ट्रोप्रोटेक्टिव प्रभाव प्रदान करता है। यह पेट फ्लू या वायरल गैस्ट्रोएंटेराइटिस की स्थिति में मदद करता है।

  • आप एक गिलास दूध गर्म करें और इसमें एक चम्मच हल्दी पाउडर डालें।
  • यदि आप पहली बार हल्दी वाला दूध पी रहे हैं, तो आप स्वाद को बेअसर करने के लिए इसमें थोड़ी चीनी मिला सकते हैं।

दालचीनी

दालचीनी एक मसाला है, जो आमतौर पर मौसमी संक्रमण के उपचार के लिए उपयोग किया जाता है। यह एंटीबैक्‍टीरियल, एंटीइंफ्लामेटरी और एंटीऑक्सिडेंट, एंटी इंफ्लामेटरी और एंटी माइक्रोबियल गुणों से भरपूर है। दालचीनी का सेवन करने से आपका पेट तेजी से ठीक होता है।

आप या तो दालचीनी के पानी या दालचीनी की चाय का सेवन कर सकते हैं। इसे बनाने का तरीका यहां दिया गया है:

  • एक पैन में एक कप पानी और एक छोटी दालचीनी छड़ी डालें। 
  • अब इसमें एक उबाल आने दें और फिर गैस को हल्‍का कर दें। 
  • अब पैन पर ढक्कन रखें और इसे एक तरफ रखें।
  • इसके बाद आप 5 मिनट के बाद इसे पिएं। 

इस तरह आप इन घरेलू उपायों की मदद से आसानी से पेट के फ्लू की समस्‍या से निपट सकते हैं।  

Read More Article On Home Remedies In Hindi 

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK