• shareIcon

Delhi Pollution: खतरनाक प्रदूषण के प्रभाव को कम करेंगी ये 3 ड्रिंक्स, फेफड़े होंगे डिटॉक्‍स

Updated at: Nov 02, 2019
घरेलू नुस्‍ख
Written by: शीतल बिष्‍टPublished at: Nov 02, 2019
Delhi Pollution: खतरनाक प्रदूषण के प्रभाव को कम करेंगी ये 3 ड्रिंक्स, फेफड़े होंगे डिटॉक्‍स

Delhi Pollution: इन दिनों देश की राजधानी दिल्‍ली में प्रदूषण का स्‍तर काफी बढ़ चुका है। जिसमें कि दिल्ली में सार्वजनिक स्वास्थ्य आपातकाल घोषित कर दिया गया है। यह समय आपके स्वास्थ्य के प्रति सावधानी बरतने का है। आइए हम आपको बताते हैं कि आप

इन दिनों दिल्‍ली की हवा की गुणवत्ता सूचकांक 459 तक गिरा है और वायु प्रदूषण के ऐसे खतरनाक स्तर में आपको जितना संभव हो घर के अंदर रहने के लिए प्रयास करना चाहिए। जब भी बाहर जाएं, एक प्रदूषण मास्क पहनें, जो आपके चेहरे को अच्छी तरह से फिट हो। बढ़ते प्रदूषण की वजह से हवा की गुणवत्‍ता बेहद खराब हो गई है। जिस वजह से खांसी-जुखाम और सांस लेने जैसी कई स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍याएं पैदा हो रही हैं। इन सभी समस्याओं से बचने और कम करने के लिए आपको अपने दैनिक आहार में इन 3 ड्रिंक्स को शामिल करना चाहिए। 

फेफड़ो को डिटॉक्‍स करने के लिए 3 चाय ( 3 Drinks That Can Detoxify Your Lungs)

1. अदरक, शहद और नींबू चाय (Ginger Honey Lemon Tea)

यदि आप अदरक, शहद और नींबू की चाय पीते हैं, तो यह आपके फेफड़ों को डिटॉक्‍स करने में मददगार है। क्‍योंकि अदरक में एंटी-इंफ्लामेटरी गुण होते हैं, जो खांसी-जुखाम और आपके शरीर में जमा होने वाली गंदगी का सफाया करने में मददगार हैं। वहीं शहद आपकी खांसी को ठीक व कम करने की क्षमता रखता है और नींबू में विटामिन सी होता है, जो आपकी प्रतिरक्षा को बढ़ा सकता है। इस चाय को बनाने के लिए आप अदरक का एक टुकड़ा ले और उसे पीस लें। अब आप पानी में एक चम्मच शहद और नींबू के रस डालें और इसे उबालें। अब आप इस गर्मागर्म चाय का आनंद ले, जिससे आपको अपने फेफड़ों को स्वाभाविक रूप से डिटॉक्‍स करने में भी मदद मिलेगी।

_Remedies_For_Delhi_Pollution

हल्दी और अदरक (Turmeric and Ginger Drink)

खांसी-जुखाम और सर्दी से बचाव के लिए अदरक और हल्‍दी दोनों ही बेहद कारगर हैं। हल्दी के औषधीय गुणों की वजह से यह आपके शरीर को चुस्‍त-दुरूसत रखने में सक्षम है। इसलिए आप अपने शरीर को डिटॉक्‍स करने के लिए हल्दी और अदरक ड्रिंक पिएं। वैसे आप एक पारंपरिक हल्‍दी डोड भी बना सकते हैं। हल्दी में करक्यूमिन एंटी-इंफ्लेमेटरी, एंटीऑक्सिडेंट और कैंसर विरोधी एजेंट मौजूद होते हैं। इसलिए यह वायु प्रदूषण से भी आपको बचाने में आपकी मदद कर सकता है। 

इसे भी पढें: दिवाली के बाद शरीर को डिटॉक्‍स करने और प्रदूषण से बचने के लिए अपनाएं ये 7 घरेलू उपाय, मिलेगी राहत

मुलेठी जड़ की चाय (Mulethi Root Tea)

मुलेठी की चाय आपके संपूर्ण शरीर को स्‍वस्‍थ रखने में मदद कर सकती है। कुछ अध्ययनों में भी इस बात की पुष्टि की गई है कि मुलेठी की चाय में एंटी वायरल और एंटी बैक्‍टीरियल गुण होते हैं। जिसकी वजह से यह आपके शरीर को डिटॉक्‍स करने में मददगार है। इस चाय को बनाने के लिए आपको मुलेठी की जड़ का एक टुकड़ा लेना है और इसे उबलते पानी में डालें। अब आप इसे कम से कम 10 मिनट तक पकाएं। इसके बाद आप इसमें चाहें, तो स्‍वाद के लिए शहद और नींबू का रस डाल सकते हैं। यदि आपके गले में खरास या दर्द है, तो आप मुलेठी के गर्म पानी के साथ नमक डालकर गरारे कर सकते हैं। 

_Remedies_For_Delhi_Pollution

इसे भी पढें: कॉमन कोल्‍ड से बचाव में मददगार हैंं दादी मां के ये 6 घरेलू नुस्‍खे, एक बार आजमा के जरूर देखें

 आमतौर पर वायु प्रदूषण की वजह से खांसी-जुखाम, गले और नाक में जमाव व सांस संबंधी समस्‍याएं अनुभव करेंगे। ऐसे में अस्थमा, ब्रोंकाइटिस, सीओपीडी और सांस लेने की समस्याओं से पीड़ित लोगों के लिए यह और भी मुश्किल हो सकता है। इसलिए वायु प्रदूषण से बचने का सबसे पहला कदम आपके द्वारा बरती जाने वाली सावधानियां ही हैं। 

Read More Article On Home Remedies In Hindi

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK