गर्दन झुकाकर काम करने से हो सकती है टेक्स्ट नेक की दिक्कत, बचने के लिए करें ये एक्‍सरसाइज

मोबाइल फोन या कंप्यूटर आदि पर ज्यादा देर गर्दन झुककर काम करने की वजह से टेक्स्ट नेक की दिक्कत होती है, इससे बचने के लिए रोजाना करें ये एक्सरसाइज।

Prins Bahadur Singh
एक्सरसाइज और फिटनेसWritten by: Prins Bahadur SinghPublished at: Jun 28, 2021
Updated at: Jun 28, 2021
गर्दन झुकाकर काम करने से हो सकती है टेक्स्ट नेक की दिक्कत, बचने के लिए करें ये एक्‍सरसाइज

मोबाइल फोन और इंटरनेट ने जमाने के काम करने के तरीके को बदलकर रख दिया है। स्मार्टफोन, लैपटॉप और तमाम दूसरे गैजेट्स की निर्भरता ने काम को आसान तो बनाया है, लेकिन इसके साथ ही कुछ न कुछ समस्या भी लोगों को मिली है। कोरोनावायरस महामारी के कारण एक बार फिर से हर उम्र के लोग स्मार्टफोन और लैपटॉप के सहारे अपना कामकाज घर बैठे कर रहे हैं। लैपटॉप और मोबाइल फोन का इस्तेमाल करने के लिए हम अपनी गर्दन को कई समस्याओं से जकड़ने का काम भी कर रहे हैं। क्योंकि जब हम मोबाइल या लैपटॉप पर काम कर रहे होते हैं तो उस समय हमारी गर्दन पर जरूरत से ज्यादा प्रेशर डाल रहे होते हैं जिसकी वजह से "टेक्स्ट नेक" (Text Neck) जैसी समस्या जन्म ले रही है। घर से काम करने के चलन की वजह से भी इस समस्या में वृद्धि देखी गयी है। टेक्स्ट नेक जैसी समस्या आगे चलकर गर्दन से जुड़ी कई दूसरी समस्याओं का कारण भी बन सकती है, इसलिए समय रहते ही इस पार ध्यान देने की जरूरत है। टेक्स्ट नेक की समस्या क्या है? और इस समस्या से बचने के उपाय क्या है? आइये जानते हैं इसके बारे में।

क्या है टेक्स्ट नेक? (What is the Text Neck Problem?)

text-neck-problem

गर्दन झुकाकर मोबाइल फोन और लैपटॉप आदि का इस्तेमाल करने की वजह से गर्दन और रीढ़ की हड्डी पर इसका प्रभाव पड़ता है। ज्यादा देर तक ऐसी स्थिति में काम करने की वजह से शरीर पोश्चर तो बिगड़ता ही है इसके साथ ही गर्दन और रीढ़ की हड्डी में दिक्कतें पैदा होने लगती हैं। गर्दन और रीढ़ का झुकाव आगे की तरफ ज्यादा होने के कारण रीढ़ की हड्डी का उभार बढ़ने लगता है। इसके अलावा गर्दन, पीठ और कंधों व सिर में दर्द (Text Neck Pain) भी शुरू हो सकता है। इस तरह ऐसे काम करने की वजह से होने वाली इन समस्याओं को टेक्स्ट नेक या टेक्स्ट नेक सिंड्रोम कहा जाता है।

टेक्स्ट नेक के लक्षण (Text Neck Symptoms)

टेक्स्ट नेक की समस्या मोबाइल फोन या लैपटॉप आदि का गर्दन झुकाकर इस्तेमाल करने की वजह से होती है। इस समस्या की वजह से बॉडी पोश्चर में भी बदलाव आने लगता है। अगर इस समस्या को लेकर समय रहते सही कदम नहीं उठाया गया तो यह आगे चलकर और भी परेशान कर सकती है। टेक्स्ट नेक के प्रमुख लक्षण इस प्रकार से हैं।

  • - पीठ, गर्दन और कंधों में सामान्य और तेज दर्द 
  • - सिरदर्द 
  • - गर्दन को आगे की तरफ ले जाते समय दर्द होना 
  • - गर्दन, ऊपरी पीठ और कंधों में जकड़न
  • - सिर का आगे की ओर झुका रहना और कंधों का पोश्चर गोल होना 

टेक्स्ट नेक की समस्या से बचने के लिए व्यायाम (Best Exercise for Text Neck)

टेक्स्ट नेक की समस्या से बचने के लिए आप इन योगासनों का नियमित अभ्यास जरूर करें।

  • - चिन ग्लाइड्स (Chin Glides)
  • - एक्टिव चिन ग्लाइड्स (Active Chin Glides)
  • - आइसोमेट्रिक हेड प्रेस (Isometric Head Press)

1. चिन ग्लाइड्स (Chin Glides)

chin-glides

यह एक्सरसाइज सर्वाइकल से जुड़ी समस्याओं में बेहद फायदेमंद मानी जाती है। इसका नियमित अभ्यास डीप सर्वाइकल फ्लेक्सर्स और सर्वाइकल एक्सटेंसर आदि को मजबूती देने का काम करता है। सिर और गर्दन के पोश्चर को दोबारा ठीक करने में यह फायदेमंद मानी जाती है।

चिन ग्लाइड्स करने का तरीका (How to Do Chin Glides?)

  • - सीधे खड़े हो जाएं।
  • - अपने हाथों की दो उंगलियों से चिन (ठुड्डी) को दबाते हुए पीछे की तरफ ले जाएं।
  • - अब सिर को आगे लाएं, इस दौरान शरीर को स्थिर और सीधा रखें।
  • - लगभग 10 बार इस एक्सरसाइज को दोहराएं।

2. एक्टिव चिन ग्लाइड्स (Active Chin Glides)

active-chin-glides

एक्टिव चिन ग्लाइड्स का अभ्यास करने से गलत पोश्चर में बैठने वाले लोगों को होने वाली गर्दन दर्द की समस्या में आराम मिलता है। इसके अभ्यास से गले और गर्दन के ख़राब पोश्चर को सही करने में भी मदद मिलती है।

कैसे करें एक्टिव चिन ग्लाइड्स? (How to Do Active Chin Glides)

  • - दीवार के सहारे सीधे खड़े हो जाएं।
  • - अब दीवार पर हथेलियों से दबाव डालते हुए गर्दन को पीछे की तरफ ले जाएं।
  • - कंधों को सीधा रखें।
  • - कुछ देर गर्दन को पीछे की तरफ रखने के बाद आगे लाएं और फिर वही प्रक्रिया दोहराएं।

3. आइसोमेट्रिक हेड प्रेस (Isometric Head Press)

Isometric-Head-Press

टेक्स्ट नेक की समस्या से जूझ रहे लोगों के लिए यह एक्सरसाइज बेहद फायदेमंद होती है। इसके नियमित अभ्यास से गर्दन की मांसपेशियों को लचीला और मजबूत करने में फायदा मिलता है।

कैसे करें आइसोमेट्रिक हेड प्रेस का अभ्यास? (How to Do Isometric Head Press?)

  • - दीवार के पास खड़े हो जाएं।
  • - दीवार पर एक तौलिया लगाकर उस पर अपना सिर टिका लें।
  • - तौलिये पर सिर को पीछे की तरफ प्रेस करें और थोड़ी देर रुकने के बाद छोड़ दें।
  • - इसी प्रक्रिया को 5 बार दोहराएं।

हमें उम्मीद है कि टेक्स्ट नेक की समस्या और उससे बचने के लिए एक्सरसाइज को लेकर दी गयी यह जानकारी आपको पसंद आयी होगी। इन एक्सरसाइज का नियमित अभ्यास गर्दन और रीढ़ की हड्डी से जुड़ी समस्या में फायदेमंद होता है।

Read more Articles on Exercise and Fitness in Hindi

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK