• shareIcon

कॉफी के मुकाबले चाय है बेहतर विकल्‍प

लेटेस्ट By Bharat Malhotra , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग / Sep 02, 2014
कॉफी के मुकाबले चाय है बेहतर विकल्‍प

चाय और कॉफी में से कौन सा ड्रिंक ज्‍यादा फायदेमंद होता है यह सवाल आपको कई बार परेशान कर सकता है। तो, फिर आपको कौन सा पेय पदार्थ पीना चाहिये। इस सवाल के जवाब में शोधकर्ता चाय के पक्ष में नजर आते हैं, जानिये क्‍यों।

benefits of tea in hindi अगर आप इस दुविधा में हैं कि नींद और थकान दूर करने के लिए कॉफी या चाय में से किसका सेवन किया जाए तो बेहतर रहेगा कि आप चाय को चुनें। चाय में ऑक्सीकरणरोधी (एंटीऑक्सीडेंट) गुण होते हैं। एक शोध के मुताबिक, चाय पीने से गैर-ह्वदवाहिनी (नॉन कार्डियो-वस्कुलर-सीवी) का खतरा 24 फीसदी तक कम हो जाता है।

स्पेन के बार्सिलोना में यूरोपियन सोसाइटी ऑफ कार्डियोलॉजी (ईएससी) कांग्रेस 2014 में फ्रांस के प्रोफेसर निकोलस डानचिन ने कहा कि आजकल चाय और कॉफी हमारी जिंदगी का हिस्‍सा बन गए हैं। उन्‍होंने कहा कि हमने फ्रांस के ह्वदवाहिनी बीमारियों के कम जोखिम वाले लोगों में सीवी घातकता और गैर सीवी घातकता पर चाय और काफी के प्रभावों की जांच की।

शोध में 18 से 95 आयुवर्ग के 1,31,401 लोगा शामिल हुए। औसतन 3.5 साल की फॉलो-अप अवधि के दौरान सीवी कारणों से 95 और गैर सीवी कारणों से 632 लोगों की मौतें हुई। शोधकर्ताओं ने कॉफी पीने वालों में सीवी का खतरा, कॉफी नहीं पीने वालों के मुकाबले ज्‍यादा पाया।

कॉफी नहीं पीने वाले लोग शारीरिक रूप से ज्यादा सक्रिय थे। काफी न पीने से शारीरिक सक्रियता का स्तर 45 फीसदी, जबकि कॉफी पीने वालों में 41 फीसदी था। चाय पीने वालों लोगों में सीवी जोखिम प्रोफाइल बेहतर था। प्रतिदिन संयत चाय पीने वालों में शारीरिक गतिविधि 43 फीसदी और ज्यादा चाय पीने वालों की शारीरिक गतिविधि 46 फीसदी तक बढ़ी।

शोध में पाया गया कि संक्षेप में कॉफी पीने वालों में जोखिम का स्तर अधिक और चाय पीने वालों में जोखिम का स्तर कम होता है। हमने यह भी पाया कि महिलाओं की अपेक्षा पुरूष काफी ज्यादा पीते हैं, जबकि महिलाएं अपेक्षाकृत चाय ज्यादा पीती हैं।

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK