High Blood Pressure: हाई ब्‍लड प्रेशर का कारण बनती हैं ये 7 आश्चर्यजनक चीजें, 90% लोग नहीं जानते ये बात

Updated at: Aug 11, 2020
High Blood Pressure: हाई ब्‍लड प्रेशर का कारण बनती हैं ये 7 आश्चर्यजनक चीजें, 90% लोग नहीं जानते ये बात

भागदौड़ भरी इस जीवन शैली में अधिकांश लोग हाई ब्लड प्रेशर का शिकार हैं। लेकिन जानकारी के अभाव में समझ ही नहीं पाते कि किस वजह से समस्या घर करने लगी है।

Monika Agarwal
अन्य़ बीमारियांWritten by: Monika AgarwalPublished at: Aug 11, 2020

जब भी आपका ब्लड प्रेशर बढ़ता है तो सबसे पहली चीज जो आप खाना बन्द करते हैं वह नमक।  आप सोचते हैं, केवल नमक से ही आपका ब्लड प्रेशर बढ़ रहा है। क्योंकि नमक से आपके हृदय और रक्त वाहिकाओं  पर दवाब पड़ता है। नमक, चिंता और क्रोध - केवल ऐसी चीजें नहीं हैं जो आपके रक्तचाप को बढ़ा सकती हैं। इसके अलावा कुछ ऐसी चीजें भी हैं जो आपका बीपी बढ़ाती हैं, जिनके विषय में आपने कभी सोचा भी नहीं होगा। आइए जानते हैं ।

अतिरिक्त चीनी (Added Sugar)

 चीनी आपके लिए नमक से भी अधिक खतरनाक होती है। यदि आप का ब्लड प्रेशर बढ़ता है तो आपको सबसे पहले चीनी खाना कम कर देना चाहिए। यदि आप फास्ट फूड खाते हैं या सॉफ्ट ड्रिंक्स पीते हैं तो यह आपके लिए और भी अधिक खतरनाक है। क्योंकि एक कोल्ड ड्रिंक का गिलास पीने से आपका बीपी लेवल 15 प्वाइंट बढ़ जाता है। अगर आपको चीनी की बहुत अधिक क्रेविंग होती है, तो आप क्रेविंग को शांत करने वाले फूड्स का सेवन कर सकते हैं। 

Loneliness  

अकेलापन (Lonliness)

 यदि आप बहुत अकेले रहते हैं और आपके पास कोई ऐसा मित्र नहीं है जिस से आप सारी बाते शेयर कर सकते हैं। तो आप को जो अकेलापन महसूस होता है वह किसी खाने की चीज से भी अधिक खतरनाक हो सकता है। इससे आपका ब्लड प्रेशर 14 प्वाइंट बढ़ सकता है। लोगो में अक्सर रिजेक्ट होने या निराश होने का डर होता है। जो वे किसी के साथ शेयर करने से कतराते हैं। लेकिन आप को अपनी सारी बाते किसी विश्वसनीय के साथ बांटनी चाहिए। 

इसे भी पढ़ें:  हाई ब्‍लड प्रेशर को कंट्रोल करने में मददगार है तरबूज, जानें कैसे?

सोते समय सांस लेने में तकलीफ (Sleep Apnea)

स्लीप एपनिया से पीड़ित लोगों को उच्च रक्तचाप और दिल की अन्य समस्याएं होने की अधिक संभावना होती है। जब आप सोते समय आपकी सांस बार-बार बाधित होती है, तो आपका तंत्रिका तंत्र उन रसायनों को छोड़ता है जो आपके रक्तचाप को बढ़ाते हैं। साथ ही, आपको कम ऑक्सीजन मिल रही है, जो रक्त वाहिका की दीवारों को नुकसान पहुंचा सकती है। बड़े हों या बच्‍चे, नींद की कमी कई स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍याओं का कारण बन सकती है।  

Sleep Apnea

पोटेशियम की कमी (Not enough Potassium)

आपके गुर्दे को आपके रक्त में तरल पदार्थ की सही मात्रा रखने के लिए सोडियम और पोटेशियम के संतुलन की आवश्यकता होती है। इसलिए अगर आप कम नमक वाला आहार खा रहे हैं या फल, सब्जी, बीन्स, कम वसा वाले डेयरी या मछली नहीं खा रहे हैं,  तब भी आपको उच्च रक्तचाप हो सकता है।

इसे भी पढ़ें: 1 कप अलसी की चाय करेगी ब्लड प्रेशर लेवल कंट्रोल, जानें अलसी बीज के अन्‍य फायदे

हर्बल दवाइयों का प्रयोग करना (Herbal Supplements)

यदि आप हर्बल दवाइयों का अधिक प्रयोग करते हैं, तो यह भी आपके ब्लड प्रेशर बढ़ने का एक कारण हो सकती है। इसलिए आपको हर्बल दवाइयों का प्रयोग कम से कम करना चाहिए। अन्यथा आपके बीपी में एक उछाल आ सकता है। इसके अलावा, आपकी कुछ आदतें भी आपके ब्‍लड प्रेशर को बढ़ा सकती हैं। 

थायरॉयड के कारण (Thyroid problem)

 जब यह ग्रंथि पर्याप्त थायराइड हार्मोन नहीं बनाती है, तो आपकी हृदय गति धीमी हो जाती है  और आपकी धमनियों में खिंचाव कम होता है। कम हार्मोन का स्तर आपके एलडीएल "खराब" कोलेस्ट्रॉल को बढ़ा सकता है।  रक्त कठिन वाहिकाओं के माध्यम से आगे बढ़ता है, दीवारों पर जोर देता है और दबाव बढ़ाता है।  बहुत अधिक थायराइड हार्मोन आपके दिल की धड़कन को तेज  कर सकता है। इसलिए थायरॉयड को कंट्रोल करने के लिए आप अपनी डाइट में बदलाव करें और ऐसीचीजों को शामिल करें, जो थायरॉइड कंट्रोल करने में मदद करें।  

Thyroid

डिहाइड्रेशन ( Dehydration)

यदि आप पर्याप्त मात्रा में पानी नहीं पीते हैं तो हो सकता है आपके शरीर में डिहाइड्रेशन हो जाए। इसकी वजह से आपको पेशाब भी कम आएगा। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि आपका मस्तिष्क आपके पिट्यूटरी ग्रंथि को एक संकेत भेजता है। जो एक रसायन को छोड़ता है जो उन्हें सिकोड़ता है। जिससे आपकी रक्त वाहिका छोटी हो जाती हैं। यह भी आपका ब्लड प्रेशर बढ़ाने का एक मुख्य कारण हो सकता है। इसलिए पर्याप्त मात्रा में पानी पिएं। 

Read More Article On Other Diseases In Hindi 

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK