• shareIcon

जानें कैसे लकवाग्रस्त हाथ से इयान ने बजाया गिटार

लेटेस्ट By ओन्लीमाईहैल्थ लेखक , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग / Apr 20, 2016
जानें कैसे लकवाग्रस्त हाथ से इयान ने बजाया गिटार

अमरीका के एक युवक जिनकी गर्दन से नीचे के सारे हिस्से को लकवा मारा हुआ था, ने न सिर्फ अपनी उंगलियां चलाईं, बल्कि गिटार भी बजाया। चलिये विस्तार से जानें क्या है खबर -

अमरीका के एक युवक जिनकी गर्दन से नीचे के सारे हिस्से को लकवा मारा हुआ था, ने न सिर्फ अपनी उंगलियां चलाईं, बल्कि गिटार भी बजाया। चलिये विस्तार से जानें क्या है खबर -

अमेरिका के ओहियो में रहने वाले 24 वर्षीय इयान बुरखार्ट करीब छह साल पहले एक हादसे में गंभीर रूप से घायल हो गए थे। उनकी रीढ़ की हड्डी में गंभीर चोट आई, जिस कारण उनके दिमाग से निकलने वाले संकेत बाकी के शरीर तक पहुंचनें में असमर्थ हो गए। जिसके चलते उनकी कोहनी से नीचे का पूरा शरीर लकवाग्रस्त हो गया। इसके बाद इयान न तो चल पाते थे और न ही अपने हाथ ही हिला पाते थे।

 

Paralysed Hand Played Guitar in Hindi

 

कुछ समय बाद उनकी मदद के लिए ओहियो स्टेट यूनिवर्सिटी ने हाथ बढ़ाए और उनके स्नायु तंत्र की गतिविधि को समझने व मोनीटर करने के लिए उनके दिमाग के भीतर एक सेंसर लगाया गया। और फिर मस्तिष्क के अनगिनत संकेतों को समझने के लिए एक विशेष प्रकार के कंप्यूटर प्रोग्राम को तैयार किया गया। साथ ही
इयान के दाएं हाथ पर 130 इलेक्ट्रोड्स वाली पट्टी भी लगाई गई, ताकि उनकी मांसपेशियों में हरकत हो सके।


उन्हें लगाई गई चिप दरअसल कंप्यूटर की मदद से दिमाग के संकेतों को पढ़ती है और फिर उस हिसाब से उंगलियों में हरकत के लिए उनकी मांसपेशियों में विद्युतीय तरंग भेजती है। अब इयान बड़ी चीजों को अपने हाथों से पकड़ सकते हैं। यहां तक कि क्रेडिट कार्ड भी खुद अपने हाथों से स्वाइप कर लेते हैं। इयान ने बताया, "जब उन्होंने सेशन शुरू किया तो ये उनके लिए सात घंटे की किसी परीक्षा की तरह था। सेशन के बाद वे मानसिक तौर पर पूरी तरह थक जाते थे। हालांकि अब अभ्यास के बाद वो नई हरकतों को ज्यादा तेज़ी से सीख रहे हैं।"



Source - BBC

Image Source - Ohio State University

Read More Health News In Hindi.

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK