इस सर्जरी को मेडिकल साइंस भी मान रहा है चमत्‍कार

Updated at: Jan 07, 2016
इस सर्जरी को मेडिकल साइंस भी मान रहा है चमत्‍कार

सड़क हादसे में धड़ से अलग होकर लटक गई गर्दन को स्पाइन सर्जरी विशेषज्ञ डॉक्टर जिऑफ एस्किन वापस से जोड़कर जैक्सन टेलर को मौत को मुंह से बाहर निकाल लिया। इसे मेडिकल साइस में चमत्कार की संज्ञा दी जाती है।

Aditi Singh
मेडिकल मिरेकलWritten by: Aditi Singh Published at: Jan 06, 2016

कहते है कि जाको राखें साईयां, मार सके ना कोई। ये कहावत आस्ट्रेलिया के 16 माह का जैक्सन टेलर पर चरितार्थ होती है। एक सड़क हादसे के दौरान जैक्सन की गर्दन धड़ से अलग होकर लटक गई थी। ये एक चमत्कारिक किस्सा है, जहां डॉक्टरों ने जैक्सन जिंदगी बचा ली। जिसके बचने की उम्मीद खुद उन्हें तक को नहीं थी।

धड़ से अलग होकर लटक गई थी गर्दन

15 सितंबर को  16 माह का जैक्सन टेलर अपनी मां रीलिया और 9 साल की बहन शेनी के साथ कार में था। कार एक अन्य वाहन से टकरा गई। जैक्सन को दुर्घटनास्थल से ब्रिसबन के अस्पताल में लाया गया। रीलिया बेटे जैक्सन और बेटी शेनी के साथ मैरोनबाह, क्वींसलैंड जा रहे थे। न्यू साउथ वेल्स में न्यूवेल हाईवे पर उनकी कार एक वाहन से टकरा गई। शेनी घायल हो गई। टक्कर इतनी भयावह थी कि जैक्सन का सिर आंतरिक रूप से उसके धड़ से अलग हो गया था। लेकिन डॉक्टर जिऑफ एस्किन और उनकी टीम ने छह घंटे की चमत्कारिक सर्जरी कर गर्दन को वापस सिर से जोड़ दिया।

ऐसे जोड़ दी टूटी हुई खोपड़ी

डॉक्टर एस्किन को ऑस्ट्रेलिया में स्पाइन सर्जरी का गॉडफादर कहा जाता है। ऎसे किया चमत्कार डॉ. एस्किन और उनकी टीम ने जैक्सन की खोपड़ी को एक हालो डिवाइस (एक गोल उपकरण) से जोड़ा। यह डिवाइस खोपड़ी व शरीर को पूरी तरह स्थिर रखने के लिए है। वायर के छोटे टुकड़े का उपयोग करते हुए उसके रीड़ के जोड़ों को पुन: जोड़ दिया। इसके बाद डॉक्टरों ने रीड़ के दो जोड़ को एक करने के लिए जैक्सन की पसली की हड्डी के एक टुकड़े कर उपयोग किया। भयानक कार दुर्घटना में इस बालक का सिर आंतरिक रूप से धड़ से अलग हो गया था।अब उसकी सेहत में तेजी से सुधार हो रहा है। दो माह में वह सामान्य जिंदगी जीने लगेगा।

डॉक्टरों का कहना है कि आठ सप्ताह में उसे इसकी भी जरूरत नहीं पड़ेगी। अपने बेटे की जान बचाने वाले डॉक्टरों के प्रति कृतज्ञ जैक्सन की मां रीलिया कहती हैं यह चमत्कार है।गोल उपकरण भी हट जाएगा जैक्सन शरीर को स्थिर रखने के लिए अभी हालो डिवाइस पहन कर रखता है।

 

Image Source-Getty

Read More article on Medical Miracles in Hindi

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK