सन फार्मा ने लॉन्च की कोरोना के इलाज में काम आने वाली सबसे सस्ती दवा 'FluGurad', 1 गोली की कीमत सिर्फ 35 रुपये

Updated at: Aug 06, 2020
सन फार्मा ने लॉन्च की कोरोना के इलाज में काम आने वाली सबसे सस्ती दवा 'FluGurad', 1 गोली की कीमत सिर्फ 35 रुपये

दवा निर्माता कंपनी सन फार्मा ने कोरोना के मरीजों के लिए सबसे सस्ती दवा लॉन्च की है, जिसकी एक गोली कीमत की सिर्फ 35 रुपये है। 

Jitendra Gupta
लेटेस्टWritten by: Jitendra GuptaPublished at: Aug 06, 2020

दुनियाभर में हर गुजरते दिन के साथ कोरोना के नए और पहले से ज्यादा मामले सामने आ रहे हैं, जिसके कारण साइंटिस्ट और शोधकर्ताओं पर कोरोना वैक्सीन बनाने का दबाव बढ़ता जा रहा है। वहीं कई देश ऐसे भी हैं, जहां वैक्सीन का ट्रायल जारी है और उसके परिणाम सकरात्नक आते दिखाई दे रहे हैं। हालांकि वैक्सीन कब तक बाजार में आएगी इसका अंदाजा किसी को नहीं है। लेकिन कोरोना के मरीजों को बचाने और इस बीमारी से उबारने के लिए विभिन्न तरह की दवाईयां बन रही हैं और बाजार में मौजूद है। कोरोना को दवा से ठीक करने की दौड़ में आगे निकलते हुए सन फार्मास्युटिकल्स (Sun Pharmaceuticals) ने कोरोना के हल्के से लेकर मध्यम लक्षण वाले मरीजों के उपचार में प्रयोग होने वाली जेनेरिक दवा फेविपिराविर (Favipiravir) को भारत में फ्लूगार्ड ( FluGurad) नाम से लॉन्च  (Sun Pharmaceuticals launch corona medicine FluGurad) किया है। 

med

एक गोली की कीमत 35 रुपये

फ्लूगार्ड के लॉन्च पर कंपनी ने बताया, कोरोना के हल्के से लेकर मध्यम लक्षण वाले मरीजों के उपचार में उपयोग की जाने वाली फ्लूगार्ड ( FluGuard) की एक गोली की कीमत सिर्फ 35 रुपये होगी और यह दवा भारत में इस हफ्ते से बिक्री के लिए बाजार में उपलब्ध होगी।

और भी कंपनियां दवा बनाने में जुटीं  

बता दें कि सन फार्मा से पहले फार्मा जगत की एक और बड़ी दवा कंपनी हेटेरो ने पिछले हफ्ते एंटीवायरल दवा फेविपिराविर  ( Favipiravir) को 'फेविविर'नाम से भारतीय बाजार में उतारा था। हालांकि इस दवा की एक गोली की कीमत 59 रुपये थी। इतना ही नहीं भारत की दिग्गज दवा निर्माता कंपनी सिपला (Cipla) भी जल्द ही इस दवा का जेनरिक वर्जन लॉन्च करने की तैयारी में जुटा हुआ है।  सिप्ला की इस दवा को सरकार से लॉन्च करने की अनुमति मिल गई है और खबर है कि उसकी एक गोली की कीमत 68 रुपये के आस-पास होगी। गौरतलब है कि इसभ गोली को अगस्त के पहले या दूसरे सप्ताह तक बाजार में उतारा जा सकता है। 

इसे भी पढ़ेंः ऑक्सफोर्ड की कोरोना वैक्सीन का अगले हफ्ते भारत में शुरू होगा फेज 2-3 ट्रायल! जानें कितनी जगह पर होगा ये ट्रायल

अच्छे परिणाम के बाद दी जा रही ये दवा

दुनियाभर में हुए क्लिनिकल ट्रायलों में फेविपिराविर (Favipiravir) को काफी अच्छे परिणाम मिले थे। ये दवा मरीजों में हल्के व मध्यम स्तर के संक्रमण के उपचार में काफी सफल साबित हुई थी। जिसके बाद इस दवा को सभी अस्पतालों  में प्रयोग करने की मंजूरी प्रदान कर दी गई थी।

medicine

रोजाना आ रहे 50 हजार से ज्यादा मामले

सन फार्मा इंडस्ट्रीज के भारतीय शाखा के सीईओ कीर्ति गानोरकर का कहना है कि मौजूदा हालात में रोजाना कोरोना वायरस के 50 हजार से ज्यादा मामले सामने आ रहे हैं। ऐसे में स्वास्थ्य कर्मियों को इलाज के अधिक विकल्प उपलब्ध कराने की बहुत ज्यादा जरूरत है। उन्होंने कहा कि हमारी कंपनी किफायती दर पर हल्के से मध्यम संकेतों वाले कोरोना मरीजों के लिए फ्लूगार्ड नाम की दवा लॉन्च कर रही है ताकि ज्यादा से ज्यादा लोग तक इलाज की पहुंच हो। इसके साथ ही महंगी दवाओं के चक्कर में उनपर आर्थिक बोझ न पड़े। 

इसे भी पढ़ेंः रूसी वैज्ञानिकों का 'नॉर्मल वाटर' से कोरोनावायरस नष्‍ट करने का दावा, 72 घंटों में मर सकते हैं 99.9 फीसदी वायरस

कंपनी, सरकार के साथ काम करने को तैयार

कीर्ति ने कहा कि हमारी ये कोशिश महामारी के खिलाफ भारत की प्रतिक्रिया को हमारा समर्थन है। उन्होंने कहा कि कंपनी इस दवा को देशभर में मरीजों को उपलब्ध कराने के लिए सरकार के साथ मिलकर काम करने को तैयार है। 

कितनी कीमत है दुनियाभर  में 

बता दें कि सन फार्मा से पहले दवा कंपनी ग्लेनमार्क फार्मास्युटिकल्स भी फेविपिराविर (Favipiravir) को दूसरे नाम से बाजार में उतार चुकी है, जिसकी कीमत प्रति टैबलेट 103 रुपये रखी गई थी। लेकिन बाद में कंपनी ने रेट में कमी कर इसकी कीमत 75 रुपए प्रति टैबलेट कर दिया था। बात करें दुनियाभर की तो इस दवा की कीमत रूस में  600 रुपये प्रति टैबलेट, जापान में 378 रुपये, बांग्लादेश में 350 रुपये और चीन में यह 215 रुपये प्रति टैबलेट बिक रही है। 

Read More Articles on Health News in Hindi

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK