आंखों में जलन और खुजली से परेशान? आंखों को रगड़ें नहीं ट्राई करें ये 5 घरेलू उपचार और पाएं चंद मिनटों में आराम

Updated at: Jul 31, 2020
आंखों में जलन और खुजली से परेशान? आंखों को रगड़ें नहीं ट्राई करें ये 5 घरेलू उपचार और पाएं चंद मिनटों में आराम

आंख में जलन और होने वाली खुजली से अगर आप परेशान रहते हैं तो दवाओं के बजाए इन घरेलू नुस्खों का उपयोग कर राहत पा सकते हैं। जानिए तरीका। 

 

Jitendra Gupta
घरेलू नुस्‍खWritten by: Jitendra GuptaPublished at: Jul 31, 2020

आंखों में खुजली होने पर आप क्या करते हैं? आमतौर पर लोग जिस आंख में दिक्कत होती है उस आंख को रगड़ते हैं, लेकिन क्या आप जानते हैं कि ऐसा करने से चीजें और खराब खराब हो सकती हैं। खुजली वाली आंखें, जिसे मेडिकल टर्म में ऑक्युलर प्रुरिटस (ocular pruritus) के रूप में जाना जाता है, आमतौर पर जलन, सूखापन और आंख के अंदर गंदगी की सनसनाहट के साथ होता है। यह विशेष रूप से पलकें, लाल आंखें या सूजी हुई पलकों के आधार पर खुजली वाली पलकें हो सकती हैं। खुजली वाली आंखों में जलन पैदा करने वाले पदार्थ (एलर्जेन कहलाती हैं) से हो सकती हैं - जैसे पराग, धूल और जानवरों की डैंडरफ या फिर आंखों की रोशनी। 

eye

एलर्जेन नाम का ये पदार्थ आंखों के आसपास के ऊतकों में हिस्टामाइन नाम के यौगिकों को रिलीज करने को बढ़ा देता है, जिससे खुजली, आंखों में लालपन और सूजन हो जाती है। हालांकि आंखों में होने वाली खुजली आमतौर पर कुछ घंटों में ही गायब हो जाती हैं, लेकिन कभी-कभी ये दिक्कत कई दिनों तक बनी रह सकती है। आप मेडिकल शॉप से एलर्जी आई ड्रॉप, आंखों में खुजली के लिए ड्रॉप खरीद लाते हैं, जिससे इस समस्या के लक्षणों को कम करने में मदद मिल सकती हैं। लेकिन आंखों में खुजली के लिए कई प्रभावी घरेलू उपचार भी हैं। इसके लिए बस आपको अपनी बंद आंखों के ऊपर एक साफ, ठंडा, नम वॉशक्लॉथ लगाना है और आपको थोड़ी देर में आराम मिल जाएगा। अगली बार जब आपकी आंखों में खुजली हो तो उन्हें रगड़ने के बजाय, आंखों में जलन और खुजली को कम करने के लिए इन प्राकृतिक उपचारों को आजमाएं। ये नुस्खे आपको बिना कोई नुकसान पहुंचाएं आराम देने में मदद करेंगे। 

एलोवेरा जूस 

ब्लेंडर में 4 बड़े चम्मच एलोवेरा जेल (60 ग्राम), आधा कप पानी (62 मिली) और 4 बर्फ के टुकड़े मिलाएं। इस ठंडे मिश्रण में कुछ कपास के टुकड़ों को डुबोएं और इसे पलकों पर लगाएं। इस टुकड़े का सेक के रूप में प्रयोग करें और 10 मिनट के बाद धो लें। जरूरत पड़ने पर दिन में दो बार इस प्रक्रिया को दोहराएं।

इसे भी पढ़ेंः बार-बार आंख खुजाना आपके लिए हो सकता है खतरनाक, कई बीमारियां हो सकती है पैदा

धनिया के बीज 

इस मसाले में एंटी-इंफ्लेमेटरी और जीवाणुरोधी गुण होते हैं, जो खुजली वाली आंखों से छुटकारा दिलाने में मदद कर सकते हैं, खासकर अगर यह संक्रमण के कारण हुआ है तो। इसके अलावा, धनिया के बीज के मॉइस्चराइजिंग गुण सूखापन का मुकाबला कर सकते हैं और आंसू उत्पादन को बढ़ावा दे सकते हैं। एक कप पानी उबालें, और उसमें 1 बड़ा चम्मच धनिया के बीज डालें। जब यह ठंडा हो जाए तो इसे थोड़ी देर के लिए रख दें और इस तरल पदार्थ के साथ अपनी आंखें धो लें। आप ड्रॉपर का उपयोग करके प्रत्येक आंख में इस तरल पदार्थ की 2 या 3 बूंदें भी डाल सकते हैं।

eyeproblem

कैमोमाइल इनफ्यूजन

उबालने के लिए 1 कप पानी (250 मिलीलीटर) लेकर उसमें कैमोमाइल फूल (20 ग्राम) के 2 बड़े चम्मच डालें। कुछ समय के लिए कमरे के तापमान पर तरल पदार्थ को रखकर छोड़ दें या अगर आप इसे बहुत ठंडा उपयोग करना पसंद करते हैं, तो इसे रेफ्रिजरेटर में रख दें। कॉटन बॉल का इस्तेमाल कर इसे पलकों पर सेक के रूप में लगाएं।

इसे भी पढ़ेंः लैपटॉप पर ज्यादा देर समय बिताते हैं, तो आंखों को सुरक्षित रखने के लिए बिना भूलें करें ये 5 काम

ठंडा दूध और गुलाब जल 

1 कप ठंडे दूध में 1 चम्मच गुलाब जल मिलाएं। मिश्रण के साथ कपास के टुकड़े को गीला करें और उन्हें बंद पलकों पर रखें। उन्हें 10 या 15 मिनट तक रखा रहने दें। ऐसा करने से आपकी आंखों को ठंडक मिलेगी और खुजली दूर होगी। 

सौंफ के बीज 

देखने में दिक्कत और आंखों में सूखापन जैसी आंखों की समस्या को दूर करने के लिए ये एक अच्छा उपाय है। सौंफ के बीज में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं। एक कप पानी में 1 बड़ा चम्मच सौंफ के बीज उबालें और इसे ठंडा होने दें। कपास के टुकड़ों को इसमें डुबोएं और उन्हें बंद पलकों के ऊपर रखें। इसे 15 मिनट तक रखा छोड़ दें ऐसा दिन में दो बार करें और आपको जल्द ही आराम मिलता दिखाई देगा। 

Read more articles on Home Remedies in Hindi

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK