• shareIcon

Stomach Ulcer: पेट में अल्सर से हैं परेशान तो इन चीजों का सेवन कर दें तुरंत बंद और खाएं ये चीजें, मिलेगा आराम

Updated at: Oct 18, 2019
अन्य़ बीमारियां
Written by: जितेंद्र गुप्ताPublished at: Oct 18, 2019
Stomach Ulcer: पेट में अल्सर से हैं परेशान तो इन चीजों का सेवन कर दें तुरंत बंद और खाएं ये चीजें, मिलेगा आराम

Stomach Ulcer: पेट में अल्सर होना बहुत ही गंभीर रोगों में से एक है। अनियमित दिनचर्या और खराब खान-पान पेट में अल्सर होने का प्रमुख कारण हैं लेकिन खराब लाइफस्टाइल के कारण भी हमारे पेट में जख्म बन जाते हैं।

 

अक्सर डॉक्टर ऐसा सोचते हैं कि कुछ फूड अल्सर का कारण बनते हैं। लेकिन ऐसा है नहीं। दरअसल पेट में अल्सर दर्द निवारक दवाओं (pain killer) और लंबे समय तक H नामक बैक्टीरिया से संक्रमित रहने के कारण भी हो सकता है। पेट में अल्सर होना बहुत ही गंभीर रोगों में से एक है। इसकी चपेट में आए लोगों का जीना मुश्किल हो जाता है। अनियमित दिनचर्या और खराब खान-पान पेट में अल्सर होने का प्रमुख कारण हैं लेकिन खराब लाइफस्टाइल के कारण भी हमारे पेट में जख्म बन जाते हैं, जिन्हें चिकित्सा की भाषा में अल्सर कह जाता है। इन सब चीजों के अलावा चाय, कॉफी, सिगरेट व शराब के ज्यादा सेवन से भी अल्सर हो सकता है। पेट के ऊपरी हिस्से में दर्द, आमाशय में हाइड्रोक्लोरिक एसिड बनना, खून की उलटी, एसिडिटी रिफ्लेक्शन, वजन कम होना पेट में अल्सर के मुख्य लक्षण है। हालांकि इस बात को जान लेना बहुत जरूरी है कि फूड कभी भी अल्सर का कारण नहीं बनते बल्कि ये उस दर्द को और बढ़ा देते हैं।  इसलिए जब भी आप कभी पेट में अल्सर की शिकायत से परेशान हो तो अपने खान-पान का ध्यान जरूर रखें। इसलिए हम आपको बता रहे हैं कि पेट में अल्सर की शिकायत होने पर आप क्या खाएं और क्या नहीं।

पेट में अल्सर की शिकायत पर क्या खाएं या नहीं 

बेस्ट फूड

प्रोबायोटिक

दही जैसे फूड प्रोबायोटिक जैसे अच्छे बैक्टीरिया से समृद्ध होते हैं। यह एच नाम के बैक्टीरिया से लड़ने में अल्सर की मदद करते हैं। पाइलोरी संक्रमण या उपचार में मदद करके बेहतर काम करते हैं। दही जैसे फूड उपचार में मदद कर पेट में अल्सर को ठीक करने में मदद करते हैं।

इसे भी पढ़ेंः पेट में अल्सर का संकेत हैं शरीर में दिखने वाले ये 3 बदलाव, आज ही शुरू कर दें इलाज

फाइबर युक्त खाद्य पदार्थ

सेब, नाशपाती, ओटमील और अन्य फूड फाइबर से समृद्ध होते हैं औप यह दो तरीके से अल्सर के लिए अच्छे होते हैं। फाइबर आपके पेट में एसिड की मात्रा को कम कर सकता है और फूले पेट व दर्द से राहत प्रदान करता है। शोध में भी खुलासा हुआ है कि फाइबर से संपन्न डाइट अल्सर को रोकने में मदद कर सकती है।

शकरकंद

शकरकंद विटामिन ए से समृद्ध होता है और इस बात के प्रमाण हैं कि यह पोषक तत्व पेट के अल्सर को कम करने में मदद कर सकता हैं और उन्हें रोकने में अहम भूमिका निभा सकता हैं। विटामिन ए की एक अच्छी खुराक वाले अन्य खाद्य पदार्थों में पालक, गाजर भी शामिल है।

इसे भी पढ़ेंः 3 तरह के होते हैं पेट के अल्सर, कब्ज और जलन होते हैं शुरुआती संकेत

पेट में अल्सर होने पर न खाएं ये फूड

दूध

डॉक्टर अक्सर लोगों से कहा करते थे कि उन्हें पेट में अल्सर होने पर उन्हें उपचार के रूप में दूध पीना चाहिए लेकिन अब चीजें बदल गई हैं। लोग जानते हैं कि पेट में अल्सर होने पर दूध पीने से न तो राहत मिलती है और न ही अल्सर को रोका जा सकता है। वास्तव में पेट में अल्सर की शिकायत होने पर दूध चीजों को और बदतर बना देता है क्योंकि यह पेट में और अधिक एसिड बना देता है।

शराब

अगर आपको अल्सर की शिकायत है तो आपको शराब का सेवन सीमित कर देना चाहिए या इसे पीना बंद कर देना चाहिए। शोध में सामने आया है कि शराब पेट में जलन को बढ़ा देती है और आपके पाचन मार्ग को नुकसान पहुंचाती है। यह अल्सर को और दर्दनाक बनाने का काम करती है।

फैटी फूड

फैटी फूड को पचाने में बहुत ज्यादा समय लगता है, जिसके कारण पेट में दर्द और पेट फूलने की समस्या रहती है। अगर आप पेट में अल्सर की शिकायत से परेशान हैं तो इन चीजों का सेवन बंद कर दें। अगर आप फैटी फूड खा रहे हैं और आपके पेट में तकलीफ हो रही है तो तुरंत इनसे ब्रेक ले लें।

(Medically Reviewed:डॉक्टर सतीश कौल, एचओडी एंड डारेक्टर, इंटरनल मेडिसिन, नारायणा सुपर स्पेशेलिटी अस्पताल, गुरुग्राम) 

Read More Articles On Other Diseases In Hindi

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK