Fluorosis: क्या तेजी से पीले हो रहे हैं आपके खूबसूरत दांत? हो सकती है आपको दांतों से जुड़ी ये बीमारी

Updated at: Jan 21, 2021
Fluorosis: क्या तेजी से पीले हो रहे हैं आपके खूबसूरत दांत? हो सकती है आपको दांतों से जुड़ी ये बीमारी

दांतों में दाग या पीलापन बीमारी का संकेत हो सकता है। फ्लोराइड की मात्रा बढ़ने से दांतों की बीमारी होती है। इसे नजरअंदाज न करें। 

 
Yashaswi Mathur
अन्य़ बीमारियांWritten by: Yashaswi MathurPublished at: Jan 21, 2021

क्‍या आपके दांत पीले हो रहे हैं या उन पर दाग-धब्‍बे नजर आते हैं? संभल जाइये ये बीमारी के लक्षण भी हो सकते हैं। हमारे दांतों में फ्लोराइड नामक का कैम‍िकल मौजूद होता है जो दांतों को सड़ने से बचाता है पर इसके मात्रा ज्‍यादा होने से ये बीमारी का कारण भी बन सकता है। पानी में भी फ्लोराइड मौजूद होता है। फ्लोराइड का स्‍तर बढ़ने से दांतों का रंग हल्‍का हो जाता है। फ्लोराइड का लेवल बढ़ने का असर सबसे ज्‍यादा हड्ड‍ियों और दांतों पर पड़ता है।  हालांक‍ि इससे कैव‍िटी की समस्‍या नहीं होती पर दांतों का रंग हल्‍का होने लगता है। इस बीमारी को हम मेडिकल भाषा में फ्लोरोसिस कहते हैं। इस पर ज्‍यादा जानकारी के ल‍िये हमने बात की लखनऊ के केयर इंस्‍टिट्यूट ऑफ लाइफ साइंसेज की एमडी फ‍िजिश‍ियन डॉ सीमा यादव से और दांतों का पीलापन कम करने के उपाय समझे। 

yellowness in teeth is due to fluorosis

दांतों में दाग-धब्‍बे या पीलापन देते हैं बीमारी का संकेत (Stain in teeth is a symptom of fluorosis)

अगर दांतों में पीलापन आप देख रहे हैं तो ये फ्लोरोस‍िस का कारण हो सकता है। इस बीमारी के चलते दांत पीले या दांतों पर भूरे-पीले धब्‍बे पड़ने लगते हैं। कभी-कभी ये धब्‍बे हल्‍के होते हैं वहीं कुछ केस में इनका रंग गहरा होता है।शरीर में फ्लोराइड के बढ़ते लेवल से दांत बदरंग होते हैं। आपको इस बात का ध्‍यान रखना है क‍ि टूथपेस्‍ट में ज्‍यादा फ्लोराइड की मात्रा न हो। छोटे बच्‍चों के ल‍िये डेंट‍िस्‍ट से सलाह लेकर टूथपेस्‍ट का चुनाव करें क्‍योंक‍ि बच्‍चों के ल‍िये फ्लोराइड की ज्‍यादा मात्रा दांतों को भारी नुकसान पहुंचा सकती है। इसके ल‍िये आप डॉक्‍टर से सलाह ले सकते हैं।

इसे भी पढ़ें- दांत चमकाने के लिए ब्रश करते समय तेजी से ब्रश रगड़ना हो सकता है नुकसानदायक, जानें इसके खतरे और जरूरी बातें

फ्लोराइड के बढ़ने से तो नहीं बदल रहा दांतों का रंग?  (High fluoride can cause disease in teeth)

फ्लाेराइड के बढ़ते लेवल से दांत पीले होते हैं। पानी में भी फ्लोराइड मौजूद होता है। अगर पानी का रंग पीला हो रहा है तो ये बताता है क‍ि पानी में फ्लोराइड का लेवल ज्‍यादा है। अगर पानी हल्‍का गुलाबी लगता है तो मतलब पानी में फ्लोराइड का लेवल कम है। आप पानी का फ‍िल्‍टर खरीदने से पहले इस बात का ध्‍यान रखें क‍ि उसमें फ्लोराइड कम या ज्‍यादा करने की क्षमता है या नहीं। खून में भी फ्लोराइड की मात्रा मौजूद होती है। आप ब्‍लड टेस्‍ट से इसका पता लगा सकते हैं। हड्ड‍ियों में फ्लोराइड की मौजूदगी का पता एक्‍सरे से चल जाता है। बार‍िश के पानी में फ्लोराइड न के बराबर होता है। आप बार‍िश के पानी को टैंक में जमा कर सकते हैं। अगर आपको फ्लोराइड का लेवल जानना है तो आप पानी की जांच करवा सकते हैं।  

दांतों का पीलापन कैसे दूर करें? (How to get rid of yellow teeth)

अगर आप अपने दांतों को अच्‍छे से साफ करते हैं पर इसके बावजूद भी दांतों पर दाग या पीलापन रह जाता है तो आप बीमारी का शि‍कार हो सकते हैं। इस केस में आप खानपान पर ध्‍यान दें। कभी-कभी कैल्‍श‍ियम, मैग्‍न‍िश‍ियम की मात्रा बढ़ने से भी दांतों में पीलापन आ जाता है इसल‍िये बैलेंस डाइट लें। व‍िटाम‍िन डी 3, ज‍िंक, व‍िटाम‍िन सी के सप्‍लीमेंट भी डॉक्‍टर की सलाह पर ले सकते हैं। इसके साथ ही आपको अपने टूथपेस्‍ट में फ्लोराइड की मात्रा की जांच करनी है। अगर दांतों में पीलापन कम करना चाहते हैं तो फाइबर की मात्रा बढ़ा दें। क‍िशम‍िश, संतरा, मूंगफली, बादाम, मटर में फाइबर की अच्‍छी मात्रा होती है। आप इसका सेवन करें। दांतों के ल‍िये प्‍याज और मशरूम भी अच्‍छे होते हैं। आप ऐसी सब्‍ज‍ियों को खायें ज‍िनमें कैल्‍श‍ियम मौजूद हो। साबुत अनाज में व‍िटाम‍िन बी मौजूद होता है। ये मसूड़ों और दांतों की सेहत के ल‍िये अच्‍छा माना जाता है। इसको अपनी डाइट में शाम‍िल करें। 

इसे भी पढ़ें- रोज दांतों को ठीक से ब्रश नहीं करते हैं तो आपको हो सकती हैं ये 5 बीमारियां, रहें सावधान

दांतों को सफेद करने के घरेलू नुस्‍खे (Home remedies for teeth whitening)

home remedies of yellow teeth

  • 1. कई लोग दांतों का पीलापन दूर करने के ल‍िये बेक‍िंग सोडा का इस्‍तेमाल करते हैं। अगर आपके दांत पीले हो रहे हैं तो टूथपेस्‍ट में चुटकी भर बेक‍िंग सोडा म‍िलाकर हफ्ते में 2 बार ब्रश करें। इससे दांत साफ होते हैं। रोजाना बेक‍िंग सोडा का इस्‍तेमाल न करें। 
  • 2. आज भी गांव में नीम की दातून इस्‍तेमाल की जाती है। नीम एक तरक का एंटीसेप्‍ट‍िक है। इससे दांतों का सड़ना, बदबू आती समस्‍या दूर होती है। अगर आप नीम को दांतों पर लगाकर साफ करेंगे तो दांतों से पीलापन दूर होगा। अगर आप दातून का इस्‍तेमाल नहीं कर सकते तो नीम के पेस्‍ट को टूथपेस्‍ट में म‍िलाकर लगायें। 
  • 3. संतरे के छिलके से दांतों को सफेद बनाया जा सकता है। संतरे के छ‍िलके में नींबू की बूंद डालकर उसे दांतों पर रगड़ें। ऐसा करने से आपको कुछ ही द‍िनों में असर द‍िखने लगेगा। आप चाहें तो संतरे के छ‍िलके को सुखाकर उसे पीस लें और उसका पेस्‍ट दांतों पर लगायें। वो भी फायदेमंद माना जाता है। 
  • 4. आप दांतों का पीलापन हटाने के ल‍िये समय-समय पर कुल्‍ला करते रहें। कुल्‍ला करने से दांतों पर च‍िपकी गंदी परत हट जाती है। दांतों का पीलापन म‍िटाने के ल‍िये कुल्‍ला करना भी अच्‍छा उपाय हो सकता है। 
  • 5. दांतों से दाग या पीलापन म‍िटाने के लि‍ये आप हींग का इस्‍तेमाल करें। आपको हींग के पाउडर को पानी में उबालकर रखना है और द‍िन में 2 बार इससे कुल्‍ला करना है। ऐसा करने से दांतों का दर्द या पीलापन जैसी समस्‍या दूर होती है। 
  • 6. नमक भी दांतों के ल‍िये अच्‍छा माना जाता है। आप दांतों का साफ करने के ल‍िये सरसों के तेल में नमक म‍िलाकर इसे टूथपेस्‍ट के साथ लगाकर दांतों पर रगड़ें। आप नोट‍िस करेंगे क‍ि कुछ हफ्तों में दांत साफ होने लगेंगे। नमक को हफ्ते में 2 ही बार लगायें क्‍योंक‍ि इससे मसूड़ों में समस्‍या हो सकती है। 
  • 7. सेब का स‍िरका भी दांतों से पीलापन हटाने का अच्‍छा नुस्‍खा है। सेब के स‍िरके में मौजूद न‍िकोटीन, कैफीन दांतों को सफेद करने में मदद करता है। सेब के स‍िरके से कुल्‍ला करें या उसे पेस्‍ट में म‍िलाकर ब्रश करें। दोनों ही तरीकों से दांत सफेद बनते हैं। 
  • 8. तुलसी के पत्‍तों में एंटीबैक्‍टेर‍ियल गुण होते हैं। दांतों को साफ करने के ल‍िये आप तुलसी के पत्‍तों को पीसकर उसमें सरसों का तेल म‍िला लें और दांतों पर लगायें। इससे दांत साफ लगने लगेंगे। 
  • 9. तेज पत्‍ते को पीस कर अगले द‍िन उसे पेस्‍ट के साथ म‍िलाकर ब्रश करने से दांत साफ होते हैं। हल्‍दी के साथ सरसों का तेल और नमक म‍िलाकर भी दांतों पर लगा सकते हैं। इससे दांतों का रंग साफ होता है और दांत मजबूत बनते हैं। 
  • 10. नींबू में पीलापन काटने की क्षमता होती है। आप सुबह ब्रश करने के बाद दांतों पर नींबू को रगड़ें। इसके साथ ही नींबू के रस को गुनगुने पानी में म‍िलाकर उससे कुल्‍ला भी कर सकते हैं। आप पेस्‍ट में नींबू का रस म‍िलाकर रात भर के ल‍िये छोड़ दें और सुबह पेस्‍ट से ब्रश कर लें। कुछ हफ्तों में दांतों से पीलापन हट जायेगा। 

इन उपायों से आप दांतों का पीलापन रोक सकते हैं। इस बात का ख्‍याल रखें क‍ि दांतों की सेहत को नजरअंदाज करने से दूसरी बीमारी जन्‍म ले लेती हैं इसलि‍ये दांतों पर ध्‍यान दें। 

Read more on Other Diseases in Hindi

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK