साबुन खरीदते समय चेक करें ये 6 चीजें, नहीं तो बैठे बिठाए हो सकती है कई स्किन प्रॉब्लम

Updated at: Jul 24, 2020
साबुन खरीदते समय चेक करें ये 6 चीजें, नहीं तो बैठे बिठाए हो सकती है कई स्किन प्रॉब्लम

ऑयली स्किन वाले लोगों के लिए तो साबुन और भी नुकसानदायक हो सकता है। यह स्किन से नेचुरल ऑयल और सीबम को निकाल देता है।

Pallavi Kumari
विविधWritten by: Pallavi KumariPublished at: Jul 24, 2020

साबुन खरीदते समय हम में से ज्यादातर लोग बस ब्रैंड और उसकी कीमत देखते हैं। पर क्या ये दोनों चीजें काफी हैं आपके बेहतर स्किनकेयर के लिए? तो बिलकुल भी नहीं। दरअसल साबुन खरीदते समय कुछ सावधानियों को दिमाग में रखना बहुत जरूरी है। जैसे कि वो ये स्किन के लिए कितना सही है और कितना नहीं। आपके साबुन के इंग्रीडिएंट्स क्या है, फायदे क्या है और नुकसान क्या है। फायदों की बात करें, तो कुछ साबुन में अल्फा और बीटा हाइड्रोक्सीड होते हैं, जो त्वचा के भीतर जाकर हानिकारक कीटाणुओं को बाहर निकालता है। तो कुछ साबुन एसिडिक तत्व इतने ज्यादा होते हैं कि वो नकसान पहुंचाते हैं। ऐसे में प्रश्न ये उठता है कि ऐसी कौन सी चीजें हैं, जिन्हें हमें साबुन को खरीदते समय देखना चाहिए? आइए जानते हैं इनके बारे में विस्तार है।

insidehowtobuyrightsoapforyourself

साबुन खरीदते समय चेक करें ये 6 चीजें (things to check while buying soap)

1. एसेंशियल ऑयल

आपको हमेशा इस बात का ध्यान रखना चाहिए साबुन में एसेंशियल ऑयल होना बेहद जरूरी है। आपको ये देखना चाहिए कि साबुन को बनाने में किन आवश्यक तेल का उपयोग किया गया है। दरअसल आवश्यक तेलों के कई लाभ हैं। तनाव से राहत देने से लेकर त्वचा को मॉइस्चराइज करने तक, एसेंशियल ऑयल का साबुन में होना बहेद जरूरी है। ऐसे में आप कोशिश करें कि कोई नेचुरल ऑयल ही लें। त्वचा के प्राकृतिक तेलों को बंद करने के साथ ये आपकी त्वचा को पोषण प्रदान कर सकते हैं।

2. जीरो केमिकल

केमिकल्स आपकी त्वचा को नुकासन पहुंचा सकते हैं। ऐसे में देंखे कि आपके साबुन में नुकसान पहुंचाने वाले हाई केमिकल्स तो नहीं है। इसके साथ इन बातों पर ध्यान दें कि साबुन इस्तेमाल करने पर इन केमिकल्स का असर आप पर कैसा हुआ। इसके लिए साबुन इस्तेमाल करने से पहले एक बार पैच टेस्ट जरूर करें। स्किन को किसी गलत उत्पाद से धोने पर वह बेजान हो सकती है या झुर्रियां हो सकती हैं।

insidesoap

इसे भी पढ़ें : आम साबुन या एंटी-बैक्टीरियल साबुनः कीटाणुओं को मारने के लिए कौन सा साबुन है बेहतर, जानें इन साबुन की सच्चाई

3. पीएच स्तर 

हमारी स्किन का प्राकृतिक आधार एसिड मेन्टल है और पीएच 7 से कम हर चीज अम्लीय और इससे ज्यादा क्षारीय होती है। इंसान की त्वचा का पीएच स्तर 4 से 6.5 के बीच होता है। वहीं साबुन क्षारीय होता है, तो साबुन के इस्तेमाल से स्किन का पीएच स्तर प्रभावित हो सकता है। इससे आपकी त्वचा पर बुरा असर पड़ सकता है। कोई शावर जैल या साबुन कितना भी कोमल क्यों न हो, आपके बॉडी पीएच के अनुसार न होने पर नुकसानदेह हो सकता है। इसमें प्राकृतिक तत्व होते हुए भी आपके बॉडी के संतुलन को बिगाड़ सकते हैं।

4. नेचुरल फ्रेंडली हो आपका साबुन

पर्यावरण का ध्यान रखते हुए हमेशा नेचुरल फ्रेंडली साबुन चुनें। ऐसे में प्राकृतिक साबुन को चुनें। ये न केवल त्वचा के लिए अच्छा पर पर्यावरण के लिए भी सही है। कोशिश करें कि साबुन बायोडिग्रेडेबल हो, पैकेजिंग नेचुरल हो और 100% पर्यावरण के अनुकूल है।

इसे भी पढ़ें : आइब्रो को करना है मोटा और घना, तो इन 4 तरीकों से करें साबुन का इस्तेमाल

5. त्वचा की समस्या के लिए सही 

नेचुरल साबुन केमिकल्स वाले साबुन के लिए बहुत फायदेमंद है। आप अपने साबुन में उन चीजों को जरूर देखें, जो आपकी त्वचा की समस्या के अनुसार सही हों। उदाहरण के लिए, अगर आपकी त्वचा सूखी और संवेदनशील है, तो लाल मिट्टी या शीया बटर साबुन को घर पर बना कर इस्तेमाल करें। अगर आपकी त्वचा तैलीय है, तो चारकोल से साबुन बना कर इस्तेमाल करें।

6. चेहरे और शरीर के साबुन के इंग्रीडिएंट्स को अलग से देखें

कोई फर्क नहीं पड़ता कि आप क्या उपयोग करते हैं, शॉवर जेल या एक साबुन पट्टी, ये दोनों उत्पाद चेहरे के लिए कठोर हो सकते हैं। साबुन में ही कुछ उत्पाद ऐसे होते हैं, जो चेहरे के साथ-साथ शरीर के लिए भी सही नहीं होते हैं। ऐसे में चेहरे के लिए हल्के इंग्रीडिएंट्स वाले साबुन चुनें और बॉडी के लिए इन इंग्रीडिएंट्स को अलग करें। 

किसी मेडिकेटिड साबुन के इस्तेमाल से पहले अपने डॉक्टर से मिल लें और इसके इस्तेमाल से जुड़ी जानकारी के बाद ही इसे उपयोग करें। चेहरे के लिए साबुन इस्तेमाल करने से अच्छा होगा कि आप फेस वॉश का इस्तेमाल करें।

Read more articles on Miscellaneous in Hindi

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK