• shareIcon

स्किन केयर से बनेगा आपका खास अंदाज

फैशन और सौंदर्य By Rahul Sharma , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग / Aug 04, 2013
स्किन केयर से बनेगा आपका खास अंदाज

खूबसूरत त्‍वचा पाना कोई जादू या चमत्कार नहीं है, इसके लिए जरूरत है तो बस सही चीजों और तरीकों के इस्तेमाल की। इस लेख को पढ़ें और स्किन केयर के लाजवाब तरीकों के बारे में जानें।

खूबसूरत त्‍वचा पाने के लिए आप क्‍या-क्‍या जतन नहीं करतीं। लेकिन सिर्फ चाहने से ही आपके दिल का यह अरमान पूरे नहीं होते। इसके लिए आपको काफी प्रयास करने की जरूरत होती है। मेकअप आपको भले ही आपको ऊपरी खूबसूरती दे, लेकिन जब तक आपकी त्‍वचा भीतर से स्‍वस्‍थ नहीं होगी, आप सच्‍ची सुंदरता हासिल नहीं कर सकतीं। इसके लिए जरूरी है कि आप त्‍वचा की सही प्रकार से देखभाल करें और उसे जरूरी पोषण प्रदान करें। आइए जानें कुछ ऐसे ही उपाय जो आपको देंगे एक बेदाग, निखरी और दमकती त्‍वचा।

आईना निहारती खूबसूरत लड़कीखूबसूरत त्‍वचा पाना बेशक आपका सपना हो, लेकिन जब तक आप अपने इस सपने को पूरा करने के लिए जरूरी श्रम नहीं करेंगी तब तक यह महज एक सपना ही बना रहेगा। यह लेख आपको जानने में मदद करेगा कि आखिर कैसे आप अपने इस सपने को वा‍स्‍तविकता में बदल सकती हैं।

 

स्किन ऑयल कंट्रोल

तैलीय त्वचा वालों को बड़ी समस्याओं का सामना करना पड़ता है। तैलीय त्वचा का चिपचिपापन चेहरे की सारी खूबसूरती बिगाड़ देता है। साथ ही यह मेकअप आदि में भी समस्या पैदा करता है। इस समस्या से छुटकारा पाने के लिये अपने साथ एक हर्बल फेश वॉश रखें तथा दिन में दो-तीन बार चेहरे को इस फेसवॉश से धोएं।

साथ ही अपने साथ टिश्यू पेपर या एक छोटा साफ तौलिया रखें, जिससे आवश्यकता पडने पर इस्तेमाल किया जा सके। अक्‍सर कुछ घंटों के बाद त्वचा में ऑयल बढ़ने लगता है। इसलिए यह तौलिया आपके लिए काफी मददगार साबित हो सकता है। ऑयल की वजह से त्वचा की ऊपरी परत पर धूल-मिट्टी जमने लगती है। ऐसे में टिश्यू पेपर को त्वचा के सबसे तैलीय नजर आने वाले स्थान पर लगा कर हलके से थपथपाएं ताकि अतिरिक्त तेल निकल जाए। त्वचा के तैलीय होने पर शहद में बेसन मिलाकर हल्के हाथों से चेहरे पर मलें और बाद में धो लें। बेसन अतिरिक्त तेल को ख़त्म करेगा और शहद त्वचा के ढीलेपन को ख़त्म करके कसाव व चमक लाएगा।

 

मृत त्‍वचा को हटाती है भाप

त्वचा को साफ-सुथरा रखने का यह सबसे अच्छा तरीका है। भाप चेहरे की मृत त्वचा को निकालने में मदद करती है। और साथ ही त्‍वचा के बंद रोमछिद्रों को खोलकर उसे सांस लेने में मदद करती है। चेहरे पर जितनी गंदगी और धूल-मिट्टी जमा होती है, वह पोरों के जरिए बाहर निकल जाती है। साथ ही जब त्वचा के भीतर की तैलीय ग्रंथि गंदगी से भर जाती हैं, तब मुंहासे होने का खतरा बढ़ जाता है। ऐसे में भाप लेना काफी लाभदायक होता है। साथ ही चेहरे पर भाप लेने से त्वचा को तरावट मिलती है। ये चेहरे का रूखापन दूर कर देती है। यह प्रक्रिया मुंहासे के साथ-साथ झुर्रियों को भी कम करती है।

 

 

त्वचा की नमी को रखें बरकरार

शुष्क त्वचा होने पर बादाम के तेल में नींबू के रस की दो या तीन बूंद डालें और चंदन का पाउडर मिलाएं। अब इसे चेहरे पर लगाएं। पांच-सात मिनट बाद हल्के हाथों से रगड़ते हुए उतार लें और हल्के गरम पानी से चेहरा धो लें। बादाम का तेल न हो तो मलायुक्त दूध भी काम में ले सकते है। इससे त्वचा की कोमलता बनेगी, साथ ही सांवलापन भी कम होगा।

 

 

फैस पैक भी लगा सकती हैं
सबसे अच्छा पैक लाल चंदन के पाउडर का माना जाता है। इसमें ताजा मलाई इतनी मात्रा में मिलाकर गाढ़ा पेस्ट बना लें। इस पेस्ट को नीचे से ऊपर की ओर गोलाई में हाथ चलाते हुए गर्दन और पूरे चेहरे पर लगाएं। पंद्रह-बीस मिनट बाद हल्के गरम पानी से धो लें। इससे त्वचा का रूखापन दूर हो जाएगा।

 

 

त्वचा पर लगाएं घरेलू व प्राकृतिक चीजें
एक केले को मसल लें, थोड़ा दूध मिला कर पेस्ट जैसा बना लें। इस पेस्ट को चेहरे पर 20 मिनट तक लगा रहने दें। फिर ठंडे पानी से चेहरा धो लें। इसके अलावा एक अंडे की सफेदी को एक चम्मच शहद के साथ मिला कर चेहरे पर 20 मिनट लगाएं। उसके बाद पानी से चेहरा धो लें।

एक चम्मच अखरोट का पाउडर, एक चम्मच शहद व एक चम्मच नीबू के रस को मिला कर चेहरे पर लगाएं। 15 मिनट बाद ठंडे पानी से चेहरा धो लें। चेहरे पर 1 टुकड़ा पका पपीता मलें। कुछ देर बाद धो लें। त्वचा की मृत कोशिकाएं हट जाएंगी और साफ सुथरी चमकदार त्वचा मिलेगी।


इन सब बातों पर ध्यान रखकर आप कुछ ही दिनों में अपनी खूबसूरती में निखार आसानी से ला सकती हैं और रोजाना तरोताजा व जवां और निखरी दिख सकती हैं।

 

 

Read More Articles on Beauti & Personal Care In Hindi

 
Disclaimer:

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK