एसी में घंटों तक बैठे रहना चेहरे को बनाता है सुस्त और बेजान, बचाव के लिए इस्तेमाल करें ये 5 चीजें

Updated at: Jul 14, 2020
एसी में घंटों तक बैठे रहना चेहरे को बनाता है सुस्त और बेजान, बचाव के लिए इस्तेमाल करें ये 5 चीजें

एसी में लंबे समय तक रहना चेहरे का पीएच लेवल बिगाड़ सकता है। ऐसे में जरूरी है कि आप एसी में बैठने पर कुछ-कुछ देर बाद अपना मुंह धोते रहें।

Pallavi Kumari
त्‍वचा की देखभालWritten by: Pallavi KumariPublished at: Jul 14, 2020

बारिश के मौसम उमस और गर्मी चेहरे को खराब कर सकती है। ऐसे में किसी के लिए भी एयर कंडीशनर के बिना बैठना असंभव सा है। हालांकि, एसी द्वारा प्रदान की गई ठंडक भले ही आपके लिए आरामदायक हो पर चेहरे के लिए ये नुकसानदेह है। वहीं अचानक से एसी के बाहर नॉर्मल तापमान में आकर रहना भी आपको बीमार कर सकता है। सिर्फ त्वचा की बात करें, तो एसी से आने वाली ठंडी हवा आपकी त्वचा की नमी को बिगाड़ सकती है। आप शांत महसूस कर रहे होंगे पर ये आपकी त्वचा के लिए नमी के स्तर का एक गंभीर असंतुलन पैदा कर रहा होगा। ये ऑयली स्किन वाले लोगों को जहां इससे एक्ने की परेशानी होती है, वहीं ड्राई फेस वालों का चेहरा इससे और ड्राई हो जाता है। इससे झुर्रियां और फाइन लाइन्स बढ़ती हैं।

insideskincleaning

ऐसे में जरूरी है कि अगर आप लंबे समय तक ऐसी में रह रहे हैं, तो आप रेगुलर तौर पर अपने चेहरे की सफाई और उसे मॉइश्चराइज करते रहें। इससे ऑयली त्वचा साफ रहेगा और एक्ने में कमी आएगी तो, वहीं ड्राई फेस मॉइश्चाइज रहने से चेहरे पर झुर्रियां और फाइन लाइन्स में कमी आएगी। इसके लिए आप इन 5 चीजों का रेगुलर इस्तेमाल करें, जो आपकी त्वचा को लंबे समय तक एसी में रहने के बावजूद हेल्दी रखेगा।

चेहरे पर इस्तेमाल करें ये 5 चीजें

सूरजमुखी का तेल

सूरजमुखी के बीज का तेल एक अन्य प्राकृतिक तेलों की तरह है, जो त्वचा की नमी बनाए रखने में मदद करता है। सूरजमुखी का बीज विटामिन ई से समृद्ध होता है और त्वचा की कोशिकाओं के अंदर नमी को फंसाता है और लंबे समय तक इसे हाइड्रेट रखता है। तेल कई बीमारियों जैसे अस्थमा, गठिया, और सेल नवीकरण प्रक्रिया को भी रोकता है। इसके लिए आपको ये करना है कि काम खत्म करने के बाद मुंह को अच्छे से धोएं और सूरजमुखी का तेल लगाएं। फिर कुछ देर बाद फिर मुंह धो लें।

शहद

आपकी त्वचा पर शहद का उपयोग करना सूखी, निर्जलित त्वचा को ठीक करने के लिए एक और प्रभावी उपाय है। शहद में मॉइस्चराइजिंग और रोगाणुरोधी दोनों गुण हैं। आप अपनी सूखी त्वचा पर शहद लगा सकते हैं। इसे बस अपने चेहरे और गले पर लगाएं और 10 मिनट के लिए छोड़ दें और फिर इसे पानी से धो लें।

insidemoisturizer

इसे भी पढ़ें : क्‍या आपकी भी है ऑयली स्किन? चेहरे पर इन 5 चीजों का इस्‍तेमाल करना बन सकता है मुहासों का कारण

दूध

अगली बार जब आप आराम से स्नान करने जाएं, तो टब में थोड़ा दूध डालें। यह सूखी, खुजली वाली त्वचा को राहत देने में मदद करेगा। दूध में लैक्टिक एसिड होता है, जो मृत त्वचा कोशिकाओं को बाहर निकालने में मदद करता है। इसमें एंटी इंफ्लेमेटरी गुण भी पाए गए हैं, जो त्वचा को तेजी से ठीक करने में मदद कर सकते हैं। दूध स्नान करने के लिए, बस गुनगुने पानी का उपयोग करें और इसमें दूध मिला लें। 15 मिनट के लिए इसमें चेहरे को भिगोएं और बाद में धो लें। अगर आप अपने पूरे शरीर को दूध में भिगोना नहीं चाहते हैं, तो आप दूध में एक वॉशक्लॉथ डाल सकते हैं और फिर इसे 10 मिनट के लिए प्रभावित क्षेत्र पर लगाए रख सकते हैं।

दही

सादा दही आपकी त्वचा को मॉइस्चराइज करने में मदद कर सकता है और इसमें एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण भी होते हैं। अपनी त्वचा के सूखे पैच पर एक पतली परत के रूप में लगाएं और इसे 10 से 15 मिनट चेहरे को ऐसे ही रहने दें। फिर जब चेहरे पर ठंडक महसूस होना बंद हो जाए तो चेहरे को गुनगुने पानी से धो लें।

इसे भी पढ़ें : Skin Care Tips: चेहरे को दें फूलों की ताजगी, गुलाब की पंखुड़ियों से बनाएं ये खास टोनर

एवोकाडो

एवोकाडो के आधे हिस्से को तोड़ें और दूसरे आधे को अपने चेहरे के लिए लगाएं। एवोकैडो को त्वचा के लिए फायदेमंद विटामिन ए और ई के परफेक्ट मेल के लिए जाना जाता है। यह एक पौष्टिक जोड़ी है जो सूर्य की हानिकारक यूवी किरणों से त्वचा को मॉइस्चराइज़ और सुरक्षित रखता है। अपने चेहरे पर एवोकाडो को लगाएं और फिर इससे चेहरे की मालिश करें। फिर 10 से 15 मिनट के बाद गर्म पानी से धो लें। आप पाएंगे कि आपकी त्वचा पहले से ज्यादा कोमल और निखरी हुई हो गई है।

Read more articles on Skin-Care in Hindi

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK