• shareIcon

पेशाब की दुर्गंध पुरुषों में मूत्र मार्ग के संक्रमण का है संकेत, जानिए कब करें डॉक्‍टर से संपर्क

पुरुष स्वास्थ्य By Atul Modi , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग / Jun 29, 2018
पेशाब की दुर्गंध पुरुषों में मूत्र मार्ग के संक्रमण का है संकेत, जानिए कब करें डॉक्‍टर से संपर्क

पुरुषों में यह रोग काफी असामान्‍य है, लेकिन उम्र के साथ उनमें भी ब्‍लैडर संक्रमण होने की आशंका बढ़ जाती है। ऐसा अंडकोश के आकार में बढ़ोत्तरी होने के कारण होता है।

ब्‍लैडर संक्रमण को साइस्‍ट‍िसिस और ब्‍लैडर में सूजन भी कहा जाता है। यह समस्‍या महिलाओं में काफी सामान्‍य है, लेकिन आमतौर पर पुरुष इस समस्‍या से ग्रस्‍त नहीं होते। कुछ दुलर्भतम मामलों में ही पुरुषों को इससे पीड़ित देखा जाता है। एक अनुमान के अनुसार आधे से अधिक महिलायें अपने जीवन में कभी न कभी ब्‍लैडर संक्रमण से जरूर प्रभावित होती हैं। हालांकि, पुरुषों में यह रोग काफी असामान्‍य है, लेकिन उम्र के साथ उनमें भी ब्‍लैडर संक्रमण होने की आशंका बढ़ जाती है। ऐसा अंडकोश के आकार में बढ़ोत्तरी होने के कारण होता है।

डॉक्‍टर हालांकि अभी तक यह पता नहीं लगा पाये हैं कि आखिर पुरुषों की अपेक्षा महिलाओं में इस संक्रमण के क्‍या कारण हैं। उनकी ऐसी राय है कि क्‍योंकि महिलाओं का मूत्रमार्ग पुरुषों की अपेक्षा छोटा होता है, इसलिए उन्‍हें यह संक्रमण होने का खतरा अधिक होता है। यह मार्ग काफी छोटा होता है। यह करीब डेढ़ इंच का होता है, ऐसे में मूत्रमार्ग का बैक्‍टीरिया से प्रभावित होने का खतरा बढ़ जाता है।

bladder infection in men

ब्‍लैडर संक्रमण के लक्षण

 ब्‍लैडर संक्रमण में व्‍यक्ति को मूत्र-त्‍याग करते समय जलन होती है। यह ब्‍लैडर संक्रमण का सबसे सामान्‍य लक्षण है।

  • अधिक पेशाब आना
  • बहुत तेज पेशाब आने पर भी पूरी तरह से मूत्र त्‍याग न कर पाना
  • मूत्र से तेज दुर्गंध आना
  • मू्त्र का रंग लाल अथवा कालापन लिये हुए होना
  • मूत्राशय में ऐंठन

अधिक उम्र में लोगों को काफी अधिक थकान और व अथवा मानसिक दुविधा हो सकती है- ये अधिक गंभीर मूत्राशय संक्रमण का कारण हो सकता है।

बुखार अथवा ठंड लगना- इसका अर्थ यह भी हो सकता है कि संक्रमण ने किडनी को प्रभावित कर दिया है।

इसे भी पढ़ें: एक्‍सपर्ट से जानें पुरुषों से जुड़ी सभी स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍याएं और उनके समाधान

डॉक्‍टर को कब संपर्क करें

  • जब आपको ब्‍लैडर संक्रमण के लक्षण नजर आएं।
  • यदि इलाज के बाद संक्रमण के लक्षण दोबारा लौट आएं।
  • मूत्र त्‍यागते समय दर्द और साथ में उल्‍टी, बुखार, ठंड और कमर अथवा पेट में दर्द। इसका अर्थ यह है कि संक्रमण ने आपकी किडनी को भी प्रभावित कर दिया है। इन सबका अर्थ यह भी है कि आपके प्रोस्‍टेट भी संक्रमित हो चुके हैं अथवा आपको किडनी ट्यूमर हो चुका है। इन परिस्थितियों में फौरन चिकित्‍सीय सहायता लीजिए।
  • मूत्रमार्ग से डिस्‍चार्ज होते समय जलन होना। ये यौन संचारित रोगों, पेल्विक इंफ्लेमेटरी डिजीज अथवा अन्‍य गंभीर संक्रमण के लक्षण हो सकते हैं। ऐसे में बिना देर किये डॉक्‍टर से संपर्क करें।

Read More Articles On Men's Health In Hindi  

 
Disclaimer:

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।