Sesame Oil Benefits: जोड़ों के दर्द से राहत और हड्डियों को मजबूत बनाने में मददगार है ये आयुर्वेदिक उपचार

Updated at: May 13, 2020
Sesame Oil Benefits: जोड़ों के दर्द से राहत और हड्डियों को मजबूत बनाने में मददगार है ये आयुर्वेदिक उपचार

Sesame Oil Benefits: तिल का तेल आपकी संपूर्ण सेहत के लिए अच्‍छा है, यह आपकी हड्डियों मजबूत बनाने और जोड़ों के दर्द से राहत पाने में भी असरदार है। 

Sheetal Bisht
आयुर्वेदWritten by: Sheetal BishtPublished at: May 13, 2020

तिल का तेल न केल आपके बालों और त्‍वचा को स्‍वस्‍थ रखता है, बल्कि यह आपकी हड्डियों को मजबूत बनाने में भी सहायक है। स्वस्थ हड्डियां एक स्वस्थ जीवन जीने के लिए जरूरी हैं। लेकिन आजकल अस्‍वस्‍थ खानपान और जीवनशैली के कारण लोगों में हड्डियों का कमजोर होना और जोड़ों में दर्द होना बहुत आम समस्‍या है। वहीं महिलाओं में हड्डियों के कमजोर होने के कई कारण हो सकते हैं, जिसमें से एक है मेनोपॉज और कुछ लोगों में ऑस्टियोपोरोसिस जैसी बीमारियों के कारण भी हड्डी कमजोर हो सकती हैं। इसलिए एक स्‍वस्‍थ रहने और मजबूत हड्डियों के लिए एक सक्रिय और स्‍वस्‍थ जीवनशैली की आदतों को अपनाना जरूरी है। आइए यहां हम आपको बताते हैं कि तिल का तेल आपकी हड्डियों को मजबूत बनाने में कैसे मदद कर सकता है।  

Sesame Seeds

हड्डियों को मजबूत बनाएगा तिल का तेल 

तिल का तेल कई स्‍वास्‍थ्‍य लाभों से भरा है। तिल का तेल विटामिन के, विटामिन बी, विटामिन ई विटामिन डी और फास्‍फोरस व पॉलीअनसैचुरेटेड फैट से भरपूर होता है। यह सभी पोषक तत्‍व आपके शरीर के लिए फायदेमंद होते हैं। तिल का तेल आपके जोड़ों में दर्द, सिर दर्द और शरीर के अन्‍य किसी भी दर्द को ठीक कर सकता है। इतना ही नहीं, तिल का तेल आपकी हड्डी को मजबूत करने के लिए एक चमत्कारी आयुर्वेदिक उपाय हो सकता है। आयुर्वेद, में जोड़ों के दर्द और मजबूत हड्डियों के लिए तिल के तेल की सलाह दी जाती है।

इसे भी पढ़ें: पैरों में कील या फुट कॉर्न्‍स (Foot Corns) के इलाज में मदद करेंगे ये 5 आयुर्वेदिक घरेलू उपाय

हड्डियों को कैसे मजबूत बनाता है तिल का तेल ?

तिल दो प्रकार के होते हैं, काले तिल और सफेद तिल। इन दोनों ही तिल के बीजों का तेल निकाला जाता है, जिसका उपयोग खाने से लेकर कई स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍याओं में किया जाता है। तिल के तेल में मौजूद आयरन, मैग्नीशियम, कैल्शियम,  ओमेगा -3 फैट और प्रोटीन की मात्रा होती है, जो हड्डियों से संबंधित सभी समस्याओं से पीड़ित लोगों के लिए फायदेमंद हो सकता है। यह आपके जोड़ों के दर्द से लेकर हड्डियों को मजबूत बनाने में प्रभावी है। 

तिल का उपयोग कैसे करें?

आयुर्वेद में हड्डियों के दर्द और हड्डियों को मजबूत बनाने के लिए तिल के बीज का उपयोग करने की सलाह दी जाती है। जिसमें आप यहां दिए गए तरीकों सें तिल के बीज का उपयोग कर सकते हैं। 

Sesame Oil For Bones

तिल के बीज का सेवन 

तिल के बीजों की तासीर गर्म होती है इसलिए इन्‍हें सर्दियों में अधिक खाया जाता है। लेकिन आप एक सीमित मात्रा में कभी भी इसका सेवन कर सकते हैं। तिल के बीजों को आप तिल के लड्डू, रेवड़ी, गजक, तिल की चटनी, सलाद के साथ तिल आदि कई तरीकों से कर सकते हैं। 

इसे भी पढ़ें: कांसे की कटोरी से करें पैरों की मसाज, मिलेगा शरीर को आराम और कई अन्‍य फायदे

तिल के तेल करें मालिश 

आप तिल के तेल से अपने हाथ-पैरों और पीठ की मालिश कर सकते हैं। यह आपके जोड़ों के दर्द और पीठ दर्द में राहत देगा और आपकी हड्डियों को मजबूत बनाएगा। यह तेल आप खाने में और त्‍वचा व बालों के लिए भी इस्‍तेमाल कर सकते हैं। 

Joint Pain

आयुर्वेद के अनुसार, तिल के तेल से मालिश करने से आपकी हड्डी मजबूत होती हैं। आप गर्म तिल का तेल से अपने शरीर की मालिश करें। ऐसा रोजाना या हफ्ते में 2 बार करने से भी आपको फायदा होगा। यह मालिश आप कम से कम 15 मिनट के लिए करें, जिससे तेल को त्वचा सोख सके। 1

तिल का पानी 

आप एक चम्मच सफेद तिल को एक गिलास पानी में भिगोकर रात भर छोड़ दें और अगली सुबह आप इस पानी का सेवन करें। 

Read More Article On Ayurveda In Hindi

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK