घरेलू नुस्खों से गर्भपात करना कितना सुरक्षित? जानें किन बातों का रखना होता है ख्याल

Updated at: Feb 10, 2020
घरेलू नुस्खों से गर्भपात करना कितना सुरक्षित? जानें किन बातों का रखना होता है ख्याल

घर पर गर्भपात करने या करवाने से पहले सभी जरूरी बातों की जानकारी होनी चाहिए। थोड़ी सी भी लापरवाही महिला की जान को खतरे में डाल सकती है।

सम्‍पादकीय विभाग
महिला स्‍वास्थ्‍यWritten by: सम्‍पादकीय विभागPublished at: Feb 01, 2012

वैसे तो ज्यादातर लोग पैरेंट्स बनने के लिए सोच समझ कर ही फैसला लेते हैं। लेकिन कई बार बिना किसी सोचे समझे गर्भवती होने पर लोग सोच में पड़ जाते हैं और गर्भपात के लिए विकल्प तलाशते हैं। 

गर्भपात करना बहुत ही सोचा समझा फैसला होता है। जिसके लिए आपको कई तरह चीजों के बारे में सोचना बहुत जरूरी हो जाता है। गर्भपात वैसे तो काफी नाजुक और संवेदनशील मामला होता है। गर्भपात के बारे में लोग अलग-अलग लोगों और अलग धर्मों की राय अलग अलग होती है। पुराने दिनों  में गर्भपात के बारे में खुलकर बात करना भी असहमती का विषय बना हुआ था, पर आजकल के समय में लोग इस पर खुलकर बात करना पसंद करते हैं। 

woman taking pill

गर्भपात करना सुरक्षा के लिहाज से काफी खतरनाक भी हो सकता है, अगर इसे सही तरीके से ना किया जाए तो। लेकिन फिर भी लोग इसे करने के लिए कई तरह की नुस्खों को अपनाने की कोशिश करते हैं। आइए आपको पहले बताते हैं कि गर्भपात आखिरकार क्या होता है। 

गर्भपात के दौरान गर्भाशय से भ्रूण को निष्कासित करना इससे पहले कि भ्रूण जीना शुरू कर दे। अक्सर आपने देखा होगा कि कई लोग गर्भपात का विरोध करते हैं। उनका कहना होता है कि इस प्रक्रिया से आप स्वयं के बच्चे का खत्म करना होता है। हालांकि, पश्चिमी देशों में गर्भपात को कानूनी माना जाता है। लेकिन कुछ देशों में इसे करने के लिए कई नियमों का पालन करना जरूरी होता है। 

लोग गर्भपात के लिए कई तरह की चीजें अपनाते हैं जैसे: 

  • घरेलू नुस्खे
  • फिजिकल एक्सरसाइज 
  • दवाईयां

जड़ी-बूटियों के साथ किए गए घरेलू नुस्खों के जरिए गर्भपात, संभावित जीवन को खत्म करने वाली जटिलताओं के उच्च जोखिम के साथ आते हैं। कई ऐसे घरेलू नुस्खे हैं जो सदियों से चलते हुए आ रहे हैं। 

इसे भी पढ़ें: प्रेग्नेंसी टेस्ट करते वक्त इन 5 कारणों से आता है अक्सर गलत परिणाम, जानें क्यों होता है ऐसा

वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गनॉइजेशन के मुताबिक, करीब 50 हजार लोग हर साल असुरक्षित गर्भपात के कारण अपनी जान गंवा देते हैं। इनमें वो लोग भी शामिल होते हैं जो घरेलू नुस्खों के जरिए गर्भपात करने की कोशिश करते हैं। इसके साथ ही WHO ने बताया कि करीब 4 में से 1 महिला जो असुरक्षित तरीके से गर्भपात करती हैं वो अपनी सेहत के लिए बीमारियों का खतरा पैदा करती है। जिनको बाद में लंबी दवाईयों के सहारे रहना पड़ता है। 

कई लोग घरेलू नुस्खे तो अपनाते हैं, लेकिन असुरक्षित तरीके से इसे अपनाने पर ये गर्भपात नहीं हो पाता जिसकी वजह से महिला में प्रेग्नेंसी रहती है। ऐसी स्थिति में आपको जल्द से जल्द डॉक्टर से संपर्क करने की जरूरत होती है। 

गर्भपात के लिए कई लोग कुछ फलों को असरदार मानते हैं। 

विटामिन C 

अक्सर लोग घरेलू नुस्खों के तौर पर विटामिन सी को देखते हैं। विटामिन सी एक प्राकृतिक कंट्रासेप्‍टिव मानी जाती है। इसमें कुछ ऐसे तत्व होते हैं जो कि प्रोजेस्‍ट्रॉन के प्रोडक्‍शनर को रोक कर इस्‍ट्रोजेन के प्रोडक्‍शन को बढ़ाता है। जिससे अंडा अपनी जगह नहीं बना पाता। 

इसे भी पढ़ें: प्रेग्‍नेंसी के दौरान जरूर खाने चाहिए ये मौसमी फल, मां और बच्‍चे के लिए हैं काफी फायदेमंद

पपीता 

आपने कई महिलाओं को गर्भपात के लिए पपीता का सेवन करते हुए देखा होगा। पपीते में काफी मात्रा में विटामिन सी होता है जिससे पीरियड्स टाइम पर होते हैं। एक्‍सपर्ट के अनुसार, पपीते में पेपाइन नामक एसिड होता है जो कि प्राकृतिक रूप से मिसकैरेज करवाने में मददगार होता है।

Read More Articles on Women's Health in Hindi 

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK