रूस ने बनाई दुनिया की पहली कोरोना वायरस वैक्‍सीन, राष्‍ट्रपति ब्‍लादिमीर पुतिन की बेटियों को लगा 'पहला' टीका

Updated at: Aug 11, 2020
रूस ने बनाई दुनिया की पहली कोरोना वायरस वैक्‍सीन, राष्‍ट्रपति ब्‍लादिमीर पुतिन की बेटियों को लगा 'पहला' टीका

Latest Update On Coronavirus Vaccine: रूस के राष्‍ट्रपति ब्‍लादिमिर पुतिन ने दुनिया की पहली कोरोना वायरस को अप्रूवल दे दिया है।

Atul Modi
लेटेस्टWritten by: Atul ModiPublished at: Aug 11, 2020

Coronavirus Vaccine News Update: दुनियाभर में तबाही मचाने वाले कोरोना वायरस (Coronavirus) का इलाज रूसी वैज्ञानिकों ने ढूंढ निकाला है। मंगलवार को रूस के राष्‍ट्रपति व्लादिमीर पुतिन (Vladimir Putin) ने घोषणा करते हुए बताया कि, कोराना वायरस का पहला टीका (Coronavirus Vaccine) विकसित कर लिया गया है, जिससे COVID-19 के खिलाफ स्‍थाई रूप से रोग प्रतिरोधक क्षमता (इम्‍यूनिटी) विकसित की जा सकती है।

वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्‍यम से रूसी राष्‍ट्रपति ने संबोधित करते हुए कहा कि, आज विश्‍व में पहली बार COVID-19 के खिलाफ वैक्‍सीन तैयार कर लिया गया है। उन्‍होंने कहा कि टीके का प्रयोग से पहले उनकी बेटी पर किया जा चुका है।

coronavirus-in-india

रूस के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय ने दी मंजूरी

लंबे वक्‍त के इंतजार के बाद तैयार कोरोना वायरस की वैक्‍सीन को रूस की सरकार और स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय ने अपनी मुहर लगा दी है। जानकारी के मुताबिक, वैक्‍सीन का निर्माण मॉस्‍को के गामलेया रिसर्च इंस्टिट्यूट (Gamaleya Research Institute of Epidemiology and Microbiology) ने एडेनोवायरस का आधार बनाकर तैयार किया है। रूसी वैज्ञानिकों का दावा है कि उनकी इस सफलता के पीछे उनकी पिछले 20 साल की मेहनत है। वैज्ञानिकों ने दावा किया है कि टीके में जो पार्टिकल्‍स का इस्‍तेमाल किया गया वह खुद को कॉपी या रेप्‍लीकेट नहीं कर सकते हैं।

इसे भी पढ़ें: जानिए होम आइसोलेशन और होम क्वारंटाइन में क्‍या है फर्क, जानकर दूर हो जाएंगे आपके सारे भ्रम

पुतिन की बेटियों को लगाया गया टीका

राष्‍ट्रपति ब्‍लादिमिर पुतिन ने कहा, 'इस सुबह दुनिया में पहली बार, नए कोरोना वायरस के खिलाफ टीका तैयार कर लिया गया है।' राष्‍ट्रपति ने वैक्‍सीन तैयार करने में जुटे वैज्ञानिकों और स्‍वास्‍थ्‍यकर्मियों को धन्‍यवाद दिया है। इस दौरान पुतिन ने यह भी बताया कि टीका उनकी दोनों बेटियों को भी लगाया गया है। दोनों ठीक महसूस कर रही हैं।

इसे भी पढ़ें: मास्क पहनने को लेकर WHO ने जारी की नई गाइडलाइन, कहा बेहतर सुरक्षा के लिए पहनें 3-layer Mask

वैक्‍सीन को लेकर दुनिया के वैज्ञानिक एकमत नहीं

वैक्‍सीन को लेकर जहां एक तरफ लोगों में उत्‍साह दिख रहा है तो वहीं दुनियाभर के वैज्ञानिक एकमत दिखाई नहीं दे रहे हैं। मल्‍टीनेशनल कंपनियों की एक लोकल एसोसिएसशन ने चेतावनी देते हुए कहा है कि क्लिनिकल ट्रायल के बगैर इसके प्रयोग की अनुमति देना खतरनाक साबित हो सकता है। वहीं विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन भी वैक्‍सीन को लेकर एकमत नहीं दिखाई दे रहा है।

Read More Articles On Health News In Hindi

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK