उम्र से पहले हाथों पर क्यों आती हैं झुर्रियां

उम्र से पहले हाथों पर क्यों आती हैं झुर्रियां

चेहरे को निखारने के चक्‍कर में हम अपने हाथों को अक्‍सर भूल जाते हैं, इस स्‍लाइडशो में हम आपकी उन आदतों के बारे में बता रहे हैं जिसके कारण आपके हाथों की त्‍वचा ढीली हो जाती है और उनपर झुर्रियां पड़ने लगती हैं।

अगर कहा जाए कि हम अपने चेहरे की तुलना में हाथों की ज्यादा अनदेखी करते हैं तो कतई गलत नहीं होगा। इस बात का हमें तब पता चलता है जब हाथों में उम्र से पहले झुर्रियां नजर आने लगती हैं। दरअसल हाथों को भी चेहरे सी देखरेख की जरूरत है। सो, इन गलतियों से बचें।

सख्त साबुन

एक ही दिन में हम कई कई बार हाथ धोते हैं। इसलिए यह जरूरी है कि सख्त साबुन का इस्तेमाल न करें। जबकि सामान्यतः यही देखने में आता है कि हम ऐसे साबुन का उपयोग ज्यादा करते हैं जो हमारे हाथों की त्वचा को सख्त और बेजान कर देते हैं। यही नहीं हाथ रूखे तक हो जाते हैं। नतीजतन हमें मोएस्चराइजर की आवश्यकता पड़ती है। अतः ऐसे साबुन के इस्तेमाल से बचें जो सख्त हों।

मोएस्चराइजर

दौड़ भाग भरी जिंदगी में समय बहुत कम है। लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि हाथों पर सिर्फ एक बार ही मोएस्चराइजर लगाया जाए। आप जितनी बार हाथ धोते हैं, उतनी बार मोएस्चराइजर लगाएं ताकि हाथ मुलायम रहें।


सन्सक्रीन

जिस तरह हम चेहरे के लिए सन्सक्रीन का उपयोग करते हैं, ठीक उसी तरह हमारे हाथों को भी सन्सक्रीन की जरूरत है। लेकिन हमारी समस्या यह है कि हम हाथों के लिए सन्सक्रीन को उपयोगी नहीं समझते। जबकि हाथों को उम्र के प्रभाव से बचाने के लिए यह बेहद जरूरी है।

 

Wrinkles on Hand Before Age in Hindi

 

हैंड सेनिटाइज़र

इन दिनों हैंड सेनिटाइज़र का इतना चलन चल निकला है कि हम हाथ धोने की बजाय सेनिटाइज़ करना बेहतर समझते हैं। लेकिन बारम्बर हैंड सेनिटाइज़र का इस्तेमाल करना उचित नहीं है। सेनिटाइज़र के कारण न सिर्फ हाथों की त्वचा खराब होती है वरन सेनिटाइज़र के जरिये हमारे शरीर में कई किस्म के किटाणु भी घुस जाते हैं। अतः हैंड सेनिटाइज़र का कम से कम इस्तेमाल करें।

तेल

बदलते जमाने में तेल शरीर में जरा कम लगाया जाता है। लेकिन शायद आपको यह नहीं पता कि हाथों में तेल लगाने से त्वचा लम्बे समय तक मुलायम रहती है। दरअसल त्वचा तेल सोख लेती है जिससे त्वचा भीतर तक नर्म और मुलायम हो जाती है। खासकर सर्दियों में नहाने के बाद हाथ-पैरों में तेल अवश्य लगाएं।

डिटर्जेंट

निस्संदेह आप कपड़े धोती होंगी। लेकिन क्या कपड़े धोने के बाद अपने हाथों को मुलायम बने रहने के लिए कुछ विशेष उपाय करती हैं? नहीं। आपको चाहिए कि कपड़े धोने से पहले हाथों में दस्ताने पहनें ताकि हाथ डिटर्जेंट के कारण रूखे न हो जाएं। असल में डिटर्जेंट हमारे हाथों की प्राकृतिक खूबसूरती को नष्ट कर देते हैं। अतः यदि आप ग्लव्स नहीं पहन रहे हैं तो हाथों का मोएस्चराइजर आदि से विशेष ख्याल रखें।

मेनिक्योर

हालांकि मेनिक्योर करने से हाथों की त्वचा मुलायम होती है। यही नहीं हाथ में मौजूद सभी गंदगी भी खत्म हो जाती है। लेकिन बार बार मेनिक्योर करने से होता यह है कि हाथों की प्राकृतिक चमक दमक गुम हो जाती है। इसका असर लम्बी अवधि में देखने को मिलता है।


Image Source - Getty

Read More Articles on Skin Care In Hindi.

 
Disclaimer:

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।