Post Workout Routine: वर्कआउट के बाद चॉकलेट मिल्क या प्रोटीन शेक कौन है बेहतर, जानें दोनों के फायदे

Updated at: Jan 27, 2020
Post Workout Routine: वर्कआउट के बाद चॉकलेट मिल्क या प्रोटीन शेक कौन है बेहतर, जानें दोनों के फायदे

लोगों के बीच अक्सर इस बात को लेकर बहस होती है कि वर्कआउट के बाद क्या पीएं। जानें लेख में कौन सी ड्रिंक है फायदेमंद।

Jitendra Gupta
एक्सरसाइज और फिटनेसWritten by: Jitendra GuptaPublished at: Jan 27, 2020

फिट रहना हर किसी की चाहत होती है लेकिन समय या फिर यूं कहें की आलस ज्यादातर व्यक्तियों को अनफिट बना देता है। लेकिन जब एक बार ठान लें कि आपको फिट होना ही है तो वास्तव में उसके लिए जी जान लगा देना बहुत जरूरी हो जाता है। फिर रहने के लिए समय निकालना, एनर्जी बनाए रखना और वर्कआउट कैसे करना है आप भलीभांति इसे चुंगल से निगलने में कामयाब रहें लेकिन एक समस्या, जो आपके सामने मुंह बाये खड़ी रहती है वह प्रोटीन पाउडर पर लगी आपकी आंखें।

choclate milk

प्रोटीन पाउडर जैसे सप्लीमेंट हमेशा से आपकी जरूरत के आधार पर मार्केट में बेचें जाते हैं फिर चाहे वह फिटनेस को बनाएं रखने की बात हो या फिर कम समय में बॉडी बनाना हो। लेकिन हकीकत ये है कि बहुत से लोगों को इसकी कतई जरूरत नहीं होती है। इसके बजाए आप  वर्कआउट के बाद एक स्वाद भरा पेय पदार्थ पी सकते हैं, जो आपको प्रोटीन पाउडर जैसे समान फायदे देगा और वह है चॉकलेट मिल्क। जी हां, बिल्कुल सही सुना आपने। बचपन के वक्त आपने अगर चॉकलेट मिल्क पीया है तो जवानी में भी आपके लिए ये किसी सफलता के राज से कम नहीं है।

क्यों जरूरी है प्रोटीन?

किसी भी प्रकार के वर्कआउट के बाद प्रोटीन का सेवन बहुत ही ज्यादा फायदेमंद माना जाता है क्योंकि प्रोटीन में मौजूद एमीनो एसिड आपकी मांसपेशियों को रिपेयर करने का काम करते हैं। दौड़ने से लेकर वेटलिफ्टिंग तक सभी एक्सरसाइज आपकी मांसपेशियों में छोटी माइक्रोटियर को बनाने का काम करता है। जब आप वर्कआउट करना बंद करते हैं तो आपकी बॉडी खून और पोषक तत्वों को प्रभावित जगह को उबारने के लिए संदेश भेजती है , जिससे कि आपकी मांसपेशियां मजबूत होती हैं। इसलिए वर्कआउट के बाद  शरीर को जरूरी पोषक तत्व पहुंचाना बहुत जरूरी होता है।

हालांकि, इस प्रक्रिया में प्रोटीन की भूमिका थोड़ी अधिक हो सकती है। कई शोधकर्ताओं का कहना है कि हमें वास्तव में जितने प्रोटीन का सेवन करना चाहिए हम उसकी दोगुनी मात्रा का सेवन करते हैं। एक शोध के मुताबिक, एक वयस्क महिला को प्रति दिन केवल 55 ग्राम और पुरुषों को 65 ग्राम प्रोटीन की आवश्यकता होती है। प्रोटीन पाउडर की एक सिंगल सर्विंग में लगभग 20 से 25 ग्राम प्रोटीन होता है, जो कि ज्यादातर लोगों के लिए थोड़ी अधिक मात्रा होती है। आप इस मात्रा को अपने भोजन से ही प्राप्त कर सकते हैं।

इसे भी पढ़ेंः गर्मियां आने से पहले कम करना चाहते हैं वजन तो ट्राई करें ये 5 एक्सरसाइज टिप्स, करने में हैं बेहद आसान

कैसी होनी चाहिए वर्कआउट के बाद ड्रिंक

पोस्ट वर्कआउट रिकवरी के लिए अक्सर सबसे ज्यादा जरूरी होता है कार्बोहाइड्रेट। वर्कआउट करने से आपके शरीर का ग्लाइकोजेन कम हो जाता है, जो कि एनर्जी को स्टोर करने के लिए बहुत जरूरी होता है। कार्ब का सेवन ग्लाइकोजेन को पूरा करने में मदद करता है और कोशिकाओं की मरम्मत और उन्हें मजबूत बनाने का काम करता है।

choclate milk

इसलिए वर्कआउट के बाद एक अच्छे रिकवरी ड्रिंक में कार्ब और प्रोटीन का अच्छा मिश्रण होना बहुत जरूरी है। इसके साथ ही इलेक्ट्रोलाइट की मात्रा भी आपके लिए बहुत जरूरी है। कैल्शियम, सोडियम और पोटेशियम जैसे मिनरल इलेक्ट्रोलाइट्स होते हैं, जो आपको हाइड्रेट रखने के साथ-साथ आपकी बॉडी का पीएच लेवल भी संतुलित करने में मदद करते हैं।

वर्कआउट के बाद चॉकलेट मिल्क या प्रोटीन शेक हैं फायदेमंद

इस सवाल का जवाब कहीं न कहीं आपकी खुद की प्राथमिकता पर निर्भर करता है। अगर आप शाकाहारी हैं या फिर लैक्टोज को बर्दाश्त नहीं पाते हैं तो प्लांट बेस्ट प्रोटीन पाउडर आपके लिए सबसे अच्छा विकल्प है। इसी तरह अगर आप शुगर को कम करने का प्रयास कर रहे हैं तो आप भले ही चॉकलेट मिल्क से दूरी बना सकते हैं लेकिन सावधान रहें कि कुछ प्रोटीन पाउडर और पहले से बने हुए शेक में भी शुगर होती है।

चॉकलेट मिल्क इंटेंस वर्कआउट के बाद आपके ईंधन भंडार को फिर से भरने में आपके शरीर की मदद करता है क्योंकि इसमें प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट और इलेक्ट्रोलाइट्स का बिल्कुल सही अनुपात बना हुआ होता है। एक कप में नौ ग्राम प्रोटीन वेटलफ्टिंग या फिर एक्सरसाइज दोनों के बाद आपके पीने के लिए बिल्कुल सही है। इसमें पोटेशियम और सोडियम भी होता है, जो आपके मुश्किल वर्कआउट के बाद फिर से हाईड्रेट करने में भी मदद करता है।

इसे भी पढ़ेंः कैसी भी हो एक्सरसाइज बस 10 मिनट के लिए कर लें ये 4 काम, नहीं होंगे चोट और खिंचाव का शिकार

चॉकलेट मिल्क लोगों की पहली पसंद

अगर आप एक वेटलिफ्टर हैं तो चॉकलेट मिल्क वर्कआउट के बाद पी जाने वाले ड्रिंक में आपकी पहली पसंद होगी क्योंकि ये लोगों को मजबूत बनाने का काम करती है। कई अध्ययनों में ये बताया गया है कि दूध पीने से  मांसपेशियों में वृद्धि होती है और मांसपेशियों में मांस भी बढ़ता है जबकि दूसरी ड्रिंक ऐसा कर पाने में नाकाम होती हैं।

इसके अलावा अच्छे प्रोटीन पाउडर की कीमत भी आपकी जेब पर अतिरिक्त भार डालती है। जबकि चॉकलेट मिल्क आपकी जेब पर ज्यादा असर नहीं डालती है। ये भले ही आपको छोटा अंतर मालूम पड़ता हो लेकिन समय के साथ अंतर अपनेआप दिख जाता है। इसलिए अगली बार जब आप किसी स्टोर में अपना वर्कआउट के बाद वाला ड्रिंक ढूंढने जाए तो मंहगे प्रोटीन पाउडर के बजाए चॉकलेट मिल्क का चुनाव करें।

Read More Articles On Exercise & Fitness In Hindi

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK