• shareIcon

    प्रेगनेंसी टेस्ट पॉजिटिव आने पर चिकित्‍सक की सलाह अवश्‍य लें

    गर्भावस्‍था By Anubha Tripathi , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग / Jul 04, 2012
    प्रेगनेंसी टेस्ट पॉजिटिव आने पर चिकित्‍सक की सलाह अवश्‍य लें

    यदि आपने गर्भावस्‍था की जांच की है और आपका टेस्‍ट पॉजिविट आया है उसके बाद आपकी जिम्‍मेदारी बढ़ जाती है, जानिए क्‍या करें उसके बाद।

    किसी भी महिला के लिए मां बनने का अनुभव काफी सुखद होता है। इसलिए जब उसे पता चलता है कि वह प्रेग्नेंट है तो काफी सावधानियां बरतती है। घर पर प्रेगनेंसी टेस्ट पॉजटिव आने के बाद अपनी प्रेगनेंसी सुनिश्चित करने के लिए डॉक्टर के पास जरूर जाना चाहिए।

    After Positive Pregnancy Testयूं तो प्रेग्नेंसी टेस्ट हमेशा सही होता है लेकिन कई बार यह गलत रिजल्ट भी दिखा सकता है। डॉक्टर के पास जाने से आपकी सारी जांच हो जाएगी। जिससे यह पता लगेगा कि आपका शरीर बच्चे को जन्म देने के लिए तैयार है या नहीं या अन्य कोई समस्या तो नहीं है। इसके अलावा डॉक्टर आपको स्वास्थ्य से जुड़ी कुछ सलाह भी देती है जो आपके लिए उपयोगी है। आईए जानें प्रेगनेंसी टेस्ट पॉजीटिव आने पर क्या करना चाहिए।

     

    प्रेग्‍नेंसी टेस्‍ट पॉजिटिव आने के बाद


    डॉक्टर के पास जाएं

    प्रेगनेंसी टेस्ट पॉजीटिव आने पर डॉक्टर से मिलें। उसे अपने घर पर किए प्रेगनेंसी टेस्ट के बारे में बताएं। इसके बाद डॉक्टर आपकी जांच करके प्रेगनेंसी सुनिश्चित करेगी और कुछ टेस्ट के लिए कहेगी जैसे ब्लड टेस्ट, अल्ट्रासाउंड जिससे वह यह जान सकें कि आप अंदर से स्वस्थ है या नहीं।

     

    ज्यादा काम न करें

    गर्भावस्था के शुरुआत के तीन महीने काफी महत्वपूर्ण होते हैं। इसमें खास सावधानी बरतने की जरूरत होती है क्योंकि इसमें गर्भपात की सबसे ज्यादा संभावना होती है। इस दौरान आपको ज्यादा काम व भारी सामान नहीं उठाना चाहिए इससे भ्रूण को नुकसान पहुंच सकता है। इस दौरान ज्यादा से ज्यादा आराम करने की कोशिश करनी चाहिए।

     

    हरी सब्जियां व फल

    महिलाओं में गर्भावस्था के दौरान उलटी व मितली की समस्या होना आम होता है। ऐसे में उन्हें कुछ भी खाने का मन नहीं होता है लेकिन यह आपके और शिशु के लिए हानिकारक हो सकता है। इसलिए खाने में हरी सब्जियों व फलों को जरूर शामिल करें। इससे आपको आयरन मिलेगा जो हीमोग्लोबीन की कमी होने से बचाएगा।


    दवाइयां व वैक्सीन लें

    डॉक्टर की सलाह अनुसार दी गई दवाइयों का सेवन जरूर करें। बीमारियों से बचने के लिए डॉक्टर कुछ वैक्सीन की सलाह भी देते हैं, उन्हें अनदेखा नहीं करें। ये आपके और बच्चे के लिए बहुत जरूरी है।


    तनावमुक्त रहें

    गर्भावस्था में तनावग्रस्त रहने से शिशु पर बुरा असर होता है। मां अगर खुश है तो बच्चा स्वस्थ रहता है। इसलिए हमेशा खुश रहने की कोशिश करें। अगर आप किसी बात से तनाव में है तो अपने पार्टनर, दोस्त या परिवार के किसी सदस्य से इसके बारे में बात करें। इससे आपको अच्छा महसूस होगा।

     

     

    Read More Articles On Pregnancy Care In Hindi

    Disclaimer

    इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

    This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK