• shareIcon

    घर पर आसानी से कर सकते हैं गर्भावस्था का परीक्षण

    गर्भावस्‍था By Nachiketa Sharma , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग / Oct 17, 2012
    घर पर आसानी से कर सकते हैं गर्भावस्था का परीक्षण

    आप गर्भवती हैं इस बात की पुष्टि इस किट के जरिए अगर सुनिश्चिति हो जाता है, तो भी एक बार चिकित्सक के पास जाकर अन्य टेस्ट जरूर करवा लीजिए। आइए हम आपको बताते हैं कि घर पर गर्भावस्था का परीक्षण कैसे करें।

    मातृत्व का एहसास ही एक महिला को रोमांचित कर देता है। गर्भवती होने का हल्का सा अंदेशा महिला को यह उसकी पुष्टि करने के लिए उत्सुक कर देता है। लेकिन गर्भवती होने के लक्षण दिखने के साथ ही आप चिकित्सक के पास जा नही सकतीं।

    घर पर गर्भावस्था जांच के लिए बाजार में कई प्रकार की गर्भावस्था जांच किट मिलती हैं। जिसका प्रयोग करके आप अपना प्रेगनेंसी टेस्ट कर सकती हैं। आप गर्भवती हैं इस बात की पुष्टि इस किट के जरिए अगर सुनिश्चिति हो जाता है, तो भी एक बार चिकित्सक के पास जाकर अन्य टेस्ट जरूर करवा लीजिए। आइए हम आपको बताते हैं कि घर पर गर्भावस्था का परीक्षण कैसे करें।

     

     

    घर पर करें प्रेगनेंसी टेस्ट

    प्रेगनेंसी टेस्ट करने के लिए किट में यूरीन का सैंपल लिया जाता है। इस जांच से यूरीन में मौजूद ह्यूमन कोरियोनिक गोनाडोट्रोपिन (एचसीजी) का पता लगाया जाता है। यदि आपके यूरीन में एचसीजी हार्मोन पाया जाता है, तो इसका मतलब यह है कि आप गर्भवती हो चुकी हैं। घर पर किया जाने वाला प्रेग्नेंसी टेस्ट हमेशा सुबह उठने के बाद करें। इससे परिणाम के गलत आने की संभावना कम होती है। क्योंकि सुबह-सुबह आपके यूरीन में अन्य तरल पदार्थ मौजूद नहीं होते हैं और सुबह युरीन में एचसीजी हार्मोन का स्तर ज्यादा भी होता है।

     


    टेस्ट निगेटिव हो तो

    कभी-कभी जल्दबाजी में प्रेगनेंसी टेस्ट किट का प्रयोग करने के कारण टेस्ट निगेटिव आ जाता है। ऐसे में ज्यादा घबराने की जरूरत नहीं है। आप दोबारा करीब 72 घंटे के बाद फिर टेस्ट कीजिए। समय से पहले टेस्ट किट का प्रयोग करने के कारण जांच का परिणाम निगेटिव आता है। गर्भवती होने के लगभग दस दिन बाद प्रेगनेंसी किट का प्रयोग किया जाए तो परिणाम सटीक होते हैं। कभी-कभी गर्भावस्था जांच किट भी सही परिणाम नहीं दे पाती है जिसके कारण गलत परिणाम निकल सकते हैं।

     

    टेस्ट पॉजिटिव हो तो

    महिला द्वारा घर पर ही गर्भावस्था– जांच किट के प्रयोग के बाद अगर परिणाम सकारात्मक आता है तो उसकी पुष्टि के लिए एक बार डॉक्टार के पास जांच अवश्य करा लीजिए। हालांकि गर्भावस्था के सामान्य लक्षण – उल्टी होना, माहवारी में देरी, पीठ में दर्द होने और किट द्वारा एचसीजी हार्मोन ढूंढ लिए जाने के बाद परिणाम पक्ष में ही आता है।

    Pregnancy Test At Home In Hindi

    परीक्षण के फायदे

    किसी महिला को यह एहसास हो जाए कि वह गर्भवती है तो इस बात की पुष्टि होने तक बहुत ही उत्सुक रहती है। ऐसे में गर्भावस्था जांच किट आपकी इस मुश्‍किल को बहुत ही आसानी से हल कर सकता है। इस किट का प्रयोग करके आप घर पर ही गर्भावस्था की पुष्टि कर सकती हैं। इस किट का प्रयोग करके आप डॉक्टर के क्लीनिक तक जाने वाली भागदौड़ से भी बच जाते हैं।
     

    यदि मासिक धर्म नहीं हुआ है और उसके बावजूद प्रेगनेंसी स्ट्रिप में नकारात्माक परिणाम आते हैं, तो आप तुरंत स्त्री रोग विशेषज्ञ से सलाह ले सकती हैं। उसकी सलाह पर अन्य जरुरी टेस्ट कराएं।

     

    Image Source - Getty

    Read More Articles on Pregnancy Test in Hindi.

     
    Disclaimer:

    इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।