• shareIcon

Pimples & Acne: मुंहासों को कम करने और बढ़ाने वाले 5-5 फूड्स, जानें कैसे पाएं कील-मुंहासों से छुटकारा

त्‍वचा की देखभाल By शीतल बिष्ट , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग / Sep 19, 2019
Pimples & Acne: मुंहासों को कम करने और बढ़ाने वाले 5-5 फूड्स, जानें कैसे पाएं कील-मुंहासों से छुटकारा

Skin Care Tips: चेहरे में मुंहासे होना एक आम समस्‍या है लेकिन जब मुंहासे या पिंपल लंबे समय तक रहें, तो आपका ये जान लेना बहुत जरूरी हो जाता है कि मुंहासों बढ़ाने और कम में कौन से खाद्य-पदार्थ (Foods That Cause Acne-Prone Skin) जिम्‍मेदार है

हे भगवान!! चेहरे में ये कील—मुंहासे.....लगभग हर लड़की के यह शब्द होते हैं क्योंकि चेहरे में मुंहासे होना एक आम समस्या है। जैसे ही आप किशोरावस्था में पहुंचते हैं, तो हर किसी को पिंपल कभी न कभी निकल ही आते हैं, खासकर लड़कियों इस समस्या से काफी परेशान रहती हैं।

मुँहासे क्या है?

मुँहासे त्वचा गंदगी और कई अन्य कारणों से पैदा होने वाली एक समस्या है, जो कि बालों के रोम, डेड स्किन सेल्स और त्वचा पर अतिरिक्त तेल के कारण होते हैं। हालांकि चेहरे में मुंहासे कोई उम्र के साथ होने वाली कोई बीमारी नहीं है। चेहरे में मुंहासे आने के पीछे धूल—मिट्टी, प्रदूषण, हार्मोन्स में असन्तुन और आपका खानपान भी हो सकता है। जी हां कुछ खाद्य पदार्थ ऐसे होते हैं, जो इसे मुंहासों को पैदा करते हैं। आइए हम आपको बताते है कि वह कौन से खाद्य पदार्थ हैं, जो आपकी खूबसूरत व चमकती त्वचा में मुँहासे को बढ़ावा देते हैं।

मुंहासों को बढ़ावा देने वाले खाद्य-पदार्थ (Worst foods for Acne-prone skin)

रिफाइंड कार्बोहाइड्रेट और शुगर (Refined carbohydrates and sugars) 

मुँहासे की समस्‍या के कारण रिफाइंड कार्बोहाइड्रेट और शुगरी फूड्स भी हो सकते हैं। यानि कि ब्रेड, पास्ता, वाइट नूडल्स, सोडा, और शुगरी ड्रिंक जैसे गन्ने का जूस, मेपल सिरप और शहद मुंहासों को बढ़ावा दे सकते हैं। रिफाइंड शुगर आपके खून में तेजी से अवशोषित होते हैं जो ब्‍लड शुगर के स्तर को बढ़ाते हैं। जब ऐसा होता है, तो इंसुलिन का स्तर भी बढ़ जाता है और यह मुँहासे का कारण बनता है। इंसुलिन एण्ड्रोजन हार्मोन को बढ़ाता है, जो मुँहासे के विकास में योगदान देता है।

डेयरी उत्पाद (Dairy Products)

डेयरी उत्पादों का सेवन भी आपके मुंहासों के विकास को बढ़ावा दे सकते हैं। यदि आपके चेहरे पर मुंहासे हो रहे हैं, तो आप डेयरी उत्पादों से बचें, क्‍योंकि इसमें mTORC 1 नामक एंजाइम होता है, जो मुंहासों के विकास में मदद करता है। इसलिए यदि आप दूध नहीं पीते हैं या पनीर नहीं खाते हैं, तो ऐसे बहुत सारे खाद्य पदार्थ हैं, जो डेयरी उत्पाद में शामिल हैं। इसलिए अगर आपके चेहरे में मुंहासे हो रहे हैं, तो यह सुनिश्चित करें कि आप गलती से भी दूध या दूध से बनी चीजों का सेवन न करें। 

फास्ट फूड्स (Fast Foods)

मुँहासे को बढ़ाने में फास्ट फूड का अधिक सेवन करना भी शामिल है। फास्ट फूड पूरी तरह से फैट, रिफाइंड कार्ब्स और कैलोरी से भरे होते हैं। फास्ट फूड जैसे बर्गर, पिज्जा, नगेट्स, हॉट डॉग, मिल्कशेक, सोडा, आदि मुँहासे के विकास को बढ़ा सकते हैं। अध्ययनों से पता चला है कि इन फास्ट फूड के सेवन से मुँहासे के विकास में 24% की वृद्धि हो सकती है।

ओमेगा 6 फैटी एसिड से भरपूर आहार (Omega 6 Fatty Rich Diet)

आप सोच रहे होंगे, कि क्या ओमेगा 6 फैटी एसिड से भरपूर आहार भी मुँहासे को बढ़ावा देता है? तो इसका जवाब है, हां... ओमेगा 6 वसा की अधिकता मुंहासों के विकास को बढ़ावा दे सकते हैं। ओमेगा 3 युक्‍त खाद्य पदार्थों से मुँहासे की समस्‍या गंभीर हो सकती है। मुंहासों से निपटने के लिए सैल्‍मन, जैतून का तेल, नट्स का सेवन करें, जिसमें ओमेगा 3 अधिक और ओमेगा 6 कम मात्रा में पाया जाता है। 

चॉकलेट (Chocolates)

चॉकलेट, तनाव को कमर करने के लिए अच्‍छी मानी जाती है लेकिन इसे मुंहासों को ट्रिगर करने के लिए भी जाना जाता है। लेकिन डार्क चॉकलेट मुंहासों के इलाज में मदद कर सकती हैं , क्योंकि, इसमें मौजूद कोको में एंटीऑक्सिडेंट होते हैं, जो फ्री रेडिकल्‍स से लड़ने में मदद करते हैं। 

मुँहासे को कम करने वाले कुछ खाद्य पदार्थ (Acne Friendly FoodS)

जिंक (Zinc)

मुंहासों की रोकथाम के लिए जिंक सप्लीमेंट फायदेमंद हो सकता है। जिंक एसीटेट, जिंक ग्लूकोनेट और जिंक सल्फेट का सेवन या त्वचा पर सीधे किया जा सकता है। जस्ता युक्त खाद्य पदार्थ जैसे गेहूं, साबुत अनाज, नट्स और बीन्स भी मुँहासे की गंभीरता को कम करने में सहायता करते हैं।

इसे भी पढें: कड़ी पत्‍ते के इन 3 फेस पैक से पाएं पिंपल फ्री और ग्‍लोइंग स्किन

एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर खाद्य पदार्थ ( Antioxidant Rich Foods)

एंटीऑक्सिडेंट शरीर में विकसित फ्री रेडिकल्‍स से लड़ने की क्षमता रखते हैं। इसलिए एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर आहार का सेवन आपको मुंहासों से छुटकारा पाने में मदद कर सकते हैं। उदाहरण के लिए, ग्रीन टी, स्थिति को और खराब होने से रोकती है। ग्रीन टी में पॉलीफेनोल सीबम उत्पादन और त्वचा की सूजन को कम करने के लिए जाना जाता है। एक शक्तिशाली एंटीऑक्सिडेंट रेस्वेराट्रोल में मुँहासे पैदा करने वाले बैक्टीरिया के विकास को रोकने की क्षमता हेाती है। यह एंटीऑक्सिडेंट लाल अंगूर, लाल बेल, मूंगफली और डार्क चॉकलेट में पाया जाता है।

हल्दी (Turmeric)

हल्दी में पाया जाने वाला घटक करक्यूमिन, एक पॉलीफेनोल मुंहासों के लिए सबसे अच्छा इलाज है। यह बैक्टीरिया के विकास को कम करने के लिए जाना जाता है, जो मुँहासे के विकास को कम करता है। 

इसे भी पढें: मुंहासों और दाग-धब्‍बों से छुटकारा पाने के लिए इन 3 तरीकों से करें उड़द दाल का इस्‍तेमाल 

प्रोबायोटिक्स और फर्मेंटेड फूड (Probiotics and Fermented Foods)

प्रोबायोटिक्स, आंत में अच्‍छे बैक्टीरिया को बढ़ावा देने में मदद करता है। आंत और त्वचा के बीच एक संबंध है। यदि आपकी आंत या पाचन स्वास्थ्य सही नहीं है, तो निश्चित रूप से आपको मुँहासे हो सकते हैं। इसलिए, अपने पेट के स्वास्थ्य के लिए प्रोबायोटिक्स और फर्मेंटेड फूड जैसे दही, सॉरक्रैट, चीज, इडली आदि को शामिल करें जो बदले में मुँहासे का इलाज करते हैं।

ओमेगा 3 वसा (Omega 3 Fat)

ओमेगा 3 सूजन को कम करने में मदद करता है और इसमें एंटी इंफ्लामेटरी गुण होते हैं, जो कि मुँहासे के विकास को कम करते हैं और अगर आपको मुंहासे हों, तो अपने आप तरह-तरह की क्रीम को चुनने के बजाय संतुलित आहार को चुने और उसे समाधान बनाएं। 

यह लेख  Dt. Shikha Mahajan, Holistic Nutritionist and Founder of Diet Podium से बातचीत पर आधारित है।  

Read More Article On Skin Care In Hindi

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK