Parenting Tips: इस तरह सिखाएंगे तो बहुत जल्दी चलना सीख जाएगा आपका बच्चा, जानें बेबी वॉकिंग के आसान टिप्स

Updated at: Jul 30, 2020
Parenting Tips: इस तरह सिखाएंगे तो बहुत जल्दी चलना सीख जाएगा आपका बच्चा, जानें बेबी वॉकिंग के आसान टिप्स

क्‍या आप एक छोटे नवजात बच्‍चे के माता-पिता हैं, तों आपके लिए यहां कुछ जरूरी टिप्‍स हैं, जो आपको अपने बच्‍चे को चलना सिखाने में काम आएंगी।

Sheetal Bisht
परवरिश के तरीकेWritten by: Sheetal BishtPublished at: Jul 30, 2020

बच्‍चे के गर्भ में आने से लेकर उसके माता-पिता उसके भविष्‍य के बारे में सोचने लगते हैं, जो कि अच्‍छी बात भी है। लेकिन उससे भी पहले जो जरूरी है, वो है बच्‍चे का सही और संपूर्ण विकास कैसे हो और आपकी उसमें क्‍या अहम भूमिका होती है। एक नवजात बच्‍चा, जो कि पूरी तरह से अपने माता-पिता और परिवार के अन्‍य सदस्‍यों पर निर्भर रहता है, उसके विकास की जिम्‍मेदारी भी उन सभी लोगों की होती है। जिसके लिए माता-पिता को बच्‍चे की सही देखभाल और पोषण का विशेष ध्‍यान रखना चाहिए। इसके अलावा कुछ अन्‍य जरूरी चीजें भी हैं, जो आपको अपने बढ़ते बच्‍चे को सिखानी होती हैं, जैसे- बोलना, चलना, खाना-पीना और सही गलत के बीच फर्क करना आदि। आपने अक्‍सर लोगों को ये कहते तो सुना ही होगा कि एक बच्‍चा अपने मां-बाप की उंगली पकड़कर जीवन की सीडि़यां चड़ना शुरू करता है। यह बिलकुल सही हैं, बच्‍चे की जीवन की शुरूआती सीडि़या उसके मां-बाप के बिना अधूरी हो सकती हैं। मां-बाप ही अपने नवजात को बैठने से लेकर अपने कदमों पर खड़ा होना और फिर चलना सिखाते हैं। 

Baby Walking Tips

बच्चे को पहली बार चलते देखना एक मां-बाप के लिए सबसे खास पलों में से एक है। क्‍योंकि उसके खड़े होकर चलने में कई कदम शामिल होते हैं, जिसमें पालना में खड़े होने की कोशिश और फिर संतुलन बनाकर बैठना, खड़ा होना और फिर चलना शामिल है। इस पूरी प्रक्रिया में कई महीने का समय लग सकता है। लेकिन माता-पिता को इस विषय में जल्‍दबाजी नहीं दिखानी चाहिए। आप एक जिम्‍मेदार माता-पिता बनकर अपने बच्‍चे को इस तरह से चलने के लिए तैयार कर सकते हैं। 

इसे भी पढ़ें: मां का दूध न होने पर बच्‍चे को दिया जाता है पाउडर मिल्‍क, जानें क्‍या हैं पाउडर वाले दूध के फायदे और नुकसान

ऐसे सिखाएं बच्‍चे को चलना 

यहां हम उन माता-पिता के लिए कुछ टिप्‍स दे रहें हैं, जिनके छोटे-छोटे बच्‍चे हैं। इन टिप्‍स की मदद से आप अपने बच्‍चे को चलना सिखा सकते हैं: 

खेल-खेल में करें बच्‍चे को चलने के लिए प्रोत्‍साहित 

यदि आप चाहते हैं कि आप अपने बच्‍चे की चलने में मदद करें, तो आप खेल-खेल में अपने बच्‍चे को चलने को प्रोत्‍साहित कर सकते हैं। इसके लिए आप उन्हें चलने के लिए प्रोत्साहित करने के लिए उनकी पहुंच से बाहर एक खिलौना भी रख सकते हैं। आप ऐसे छोटे-छोटे प्रयासों से अपने बच्‍चे को चलना सिखा सकते हैं और इससे आपका बच्‍चा जल्‍दी चलना भी सीखेगा। 

Parenting Tips

बेबी वॉकर का लें सहारा 

एक बच्‍चा अपने जीवन के शुरूआती कदम यानि अपने बल पर खड़े होने या फिर चलने में लगभग 8 से 18 महीने का समय लगा सकता है। अधिकतर बच्‍चे इस बीच चलना शुरू कर देते हैं। लेकिन आप अपने बच्‍चे की चलने में मदद करने के लिए उन्‍हें बैलेंस बनाने और मजबूत करने का प्रयास करें। इसके लिए आप बच्‍चे के लिए बेबी वॉकर का सहारा ले सकते हैं। इससे बच्‍चे को बैलेंस बनाने, अपने कदम बढ़ाने और चलने में मदद मिल सकती है। इसके अलावा, वॉकर बच्‍चे को गिरने और चोट लगने से बचाने में भी मदद करेगा। 

उंगली पकड़कर चलाएं सिखाना  

आप अपने बच्‍चे को उंगली पकड़कर चलाएं सिखाएं और उसके पीछे खड़े होकर अपने हाथों को उसकी ऊपरी बाँहों पर रखकर और उसे खड़े होने की स्थिति में ले जाने की कोशिश करें। आप उसे सहारा देने की कोशिश करें।

इसे भी पढ़ें: अपने नन्हे शिशु को बीमारियों और इंफेक्शन से बचाना है, दूध पिलाने के बाद इन 2 तरीकों से करें बोतल की सफाई

how To Repair your Baby For Walk

बच्‍चे को बनाएं आत्‍मविश्‍वासी 

आप अपने बच्‍चे को बचपन से आत्‍मविश्‍वासी बनाएं। इसके लिए आप अपने बच्‍चे को चलने की लिए प्रेरित करें और छोटी-छोटी चोट लगने पर घबराएं नहीं। जब आपका बच्‍चा चलने की कोशिश करता है, तो वह गिरता है चोट खाता है और फिर गिरकर ही वह चलना सीखता है। 

नोट: अगर आपका बच्‍चा 18 महीनों के बीच बच्चा खड़ा नहीं होता, तो आप तुरंत डॉक्‍टर की सलाह करें। 

Read More Article On Parenting In Hindi 

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK