• shareIcon

Obesity And Brain Health: शरीर का अधिक वजन मस्तिष्‍क को बना सकता है बूढ़ा, जानें वजन कम करने के 5 आसान तरीके

अन्य़ बीमारियां By अतुल मोदी , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग / Jul 30, 2019
Obesity And Brain Health: शरीर का अधिक वजन मस्तिष्‍क को बना सकता है बूढ़ा, जानें वजन कम करने के 5 आसान तरीके

इस बात से हर कोई वाकिफ है कि, मोटापा आपके शरीर पर बुरा प्रभाव डालता है। एक रिसर्च में ये बात सामने आई है कि मोटापा आपके मेंटल हेल्‍थ पर भी बुरा असर छोड़ सकता है। इसलिए अपने दिमाग को हेल्‍दी रखने के लिए अपना वजन

मोटापा (Obesity) कई स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍याओं से जुड़ी एक समस्‍या है। इसीलिए हमेशा वजन को कंट्रोल करने की सलाह दी जाती है। अस्वास्थ्यकर वजन आपको डायबिटीज, हृदय रोगों और उच्च रक्तचाप के उच्च जोखिम में डाल सकता है। क्या आप जानते हैं कि अधिक वजन आपके मस्तिष्क के स्वास्थ्य (Brain Health) को भी प्रभावित कर सकता है? एक हालिया अध्ययन ने आपके मस्तिष्क स्वास्थ्य पर अतिरिक्त वजन के प्रभाव को उजागर किया है। अध्ययन में पाया गया कि उच्च बॉडी मास इंडेक्‍स वाले लोग मस्तिष्क में कॉर्टेक्‍स के पतले होने से जुड़े हैं। यह आगे चलकर अल्जाइमर रोग का कारण बनता है। आपके मस्तिष्क पर मोटापे के इस प्रतिकूल प्रभाव से बचने के लिए, आपको बचपन से एक सामान्य बॉडी मास इंडेक्स बनाए रखने की कोशिश करनी चाहिए। यदि आप मोटे हैं, तो आपको स्वस्थ जीवन जीने के लिए वजन कम करने की तत्काल आवश्यकता है। 

मोटापे से बचने के उपाय- Ways to prevent obesity in hindi

लोगों में दिन प्रति दिन मोटापा बढ़ता जा रहा है। यह धीरे-धीरे बच्चों और युवा वयस्कों में एक आम स्थिति बन गई है। स्थिर जीवन शैली और अस्वास्थ्यकर आहार का सेवन, मोटापे की ये दो प्रमुख वजह है, जो मोटापे में योगदान करते हैं। आज लोग ज्‍यादा समय तकनीक पर इनडोर में बिताते हैं जिससे पूरे दिन कम शारीरिक गतिविधि होती है। यह विशेष रूप से बच्चों के लिए आने वाले दिनों में हानिकारक हो सकता है। उनके लिए स्‍वस्‍थ जीवनशैली जी पाना मुश्किल हो सकता है। यहां कुछ तरीके हैं जो मोटापे को रोक सकते हैं और आप स्वस्थ वजन बनाए रख सकते हैं।

 

खानपान पर करें कंट्रोल

अगर आप मोटे हैं या आपका बॉडी मास इंडेक्‍स ज्‍यादा है तो आपको ये देखने की जरूरत है, कि आप किस तरह का भोजन कर रहे हैं और कितनी मात्रा में कर रहे हैं। क्‍यों कि आपको पोषक तत्‍वों से युक्‍त भोजन करने चाहिए और अपनी कैलोरी का भी ध्‍यान रखना चाहिए। अधिक कैलोरी लेने से मोटापा तेजी से बढ़ता है। 

शारीरिक गतिविधि में खुद को शामिल करें

रोजाना कम से कम 30 मिनट तक व्यायाम करने की सलाह दी जाती है। आप बस टहलने जा सकते हैं या फिट रहने के लिए अपनी पसंदीदा कसरत चुन सकते हैं। शारीरिक गतिविधि का अभाव प्रमुख कारकों में से एक है जो मोटापे में योगदान देता है। आप प्रतिदिन योग का अभ्यास भी कर सकते हैं क्योंकि यह आपके संपूर्ण स्वास्थ्य के लिए कई लाभों से भरा हुआ है।

workout

पर्याप्त नींद लें

ज्यादातर लोग किसी ना किसी वजह से इन दिनों अपनी नींद से समझौता कर लेते हैं। अनुचित नींद का पैटर्न आपके लिए बेहद हानिकारक है। आप हर समय थका हुआ और थका हुआ महसूस करेंगे। यह मोटापे में भी योगदान देता है। जब आप ठीक से नहीं सोते हैं तो यह आपके शरीर के अंदर भूख हार्मोन को ट्रिगर करता है जिससे आप सामान्य से अधिक भोजन करते हैं।

बच्चों को बाहर खेलने के लिए प्रोत्साहित करें

बच्चे इन दिनों तकनीक से प्यार करते हैं और खेलने के लिए घर के अंदर ज्यादा समय बिताते हैं। यह बचपन से ही मोटापे में योगदान देता है। आपको अपने बच्चों को बाहर जाकर खेलने के लिए प्रोत्साहित करना चाहिए। उन्हें उन खेल गतिविधि में शामिल होने दें, जिन्‍हें वे सबसे ज्यादा पसंद करते हैं।

इसे भी पढ़ें: सिरदर्द और सांस लेने में दिक्‍कत हाई ब्‍लड प्रेशर के हैं संकेत, इन 5 नुस्‍खों से तुरंत करें कंट्रोल 

अपनी ग्रॉसरी लिस्‍ट की जांच करें 

आप जो खरीदते हैं वह वही है जो आप खाने की संभावना रखते हैं। जब भी आप किराने की खरीदारी करने के लिए बाहर जाते हैं तो आपकी सूची में क्या है। स्वस्थ और अस्वास्थ्यकर वस्तुओं को अलग करें। इससे आपको एहसास होगा कि आप पर्याप्त स्वस्थ खाद्य पदार्थ खरीद रहे हैं या नहीं। अपनी सूची से उन सभी अनावश्यक वस्तुओं को हटा दें जो सिर्फ न्यूनतम पोषक तत्वों के साथ आपके द्वारा उपभोग की जाने वाली कैलोरी की संख्या में वृद्धि करेंगे।

Read More Articles On Other Diseases In Hindi

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK