Diet and Nutrition Myths: जानिए भोजन और पोषण से जुड़े कुछ मिथक, जिन पर आपको विश्वास नहीं करना चाहिए

Updated at: Oct 01, 2020
Diet and Nutrition Myths: जानिए भोजन और पोषण से जुड़े कुछ मिथक, जिन पर आपको विश्वास नहीं करना चाहिए

आइए जानते हैं आहार और पौष्टिकता से जुड़े कुछ प्रचलित मिथकों के विषय में और पता करते हैं उनसे जुड़े तथ्य।

Monika Agarwal
स्वस्थ आहारWritten by: Monika AgarwalPublished at: Oct 01, 2020

हमारे शरीर के लिए पोषण बहुत जरूरी होता है। एक हेल्दी व पोषण युक्त डाइट हमें बीमारियों से बचाती है। इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ता कि आप किस तरह का आहार ले रहे हैं। लेकिन इस बात का ध्यान जरूरी है कि आपको सब्जियों, फलों, साबुत अनाज, बीन्स, फलियां, नट्स, बीज, और पानी से भरपूर, भोजन करना चाहिए।
हम किसी भी तरह पोषण को खाएं परंतु वह पोषण युक्त होना चाहिए। लेकिन अक्सर पोषण से जुड़ी कुछ झूठी बातें भी प्रचलित हैं जिन पर हमें बिना जानकारी प्राप्त किए, आंख बंद कर भरोसा नहीं करना चाहिए। अन्यथा वह मिथक आप को कुछ प्रकार के पोषण मिलने से वंचित रख सकते हैं।

आप के शरीर की अच्छी बात यह है कि आप के आर्गंस जैसे आप का दिल, किडनी, लीवर या स्किन आप के शरीर को प्राकृतिक तरीके से स्वयं ही डिटॉक्स कर देते हैं इसलिए आप को स्वस्थ रहने के लिए कोई महंगा डिटॉक्स प्लान खरीदने की कोई आवश्कता नहीं है बस आहार लेते समय उसने पोषण की मात्रा का ध्यान रखें।

healthy diet myths

लो कार्ब्स ग्रेन फ़्री होते हैं (Low-Carb Means Grain-Free)

कार्बोहाइड्रेट में हाई प्रोसेस्ड  खाद्य पदार्थ शामिल हैं, जैसे बिस्कुट, चिप्स, ब्रेड, और ब्रेकफास्ट फूड। लेकिन इस श्रेणी में बेरी, पालक, बीन्स, दाल, और पौधों पर आधारित खाद्य पदार्थ भी शामिल हैं। जिनमें फाइबर और कई प्रकार के स्वास्थ्य को बढ़ावा देने वाले पोषक तत्व हैं ।

इसे भी पढ़ें: दुनिया की सबसे हेल्दी रेसिपीज में गिने जाते हैं ये 5 भारतीय व्यंजन, पोषक तत्वों और फायदों से होते हैं भरपूर

कार्ब्स हमारे स्वास्थ्य के लिए बुरे होते है (Carbs Are Bad)

यह गलत है कि कार्ब्स हमारे लिए हेल्दी नहीं होते और इसलिए हमें कार्ब्स नहीं खाने चाहिए। परंतु अनरिफाइन्ड कार्ब्स जैसे अनाज, फल, सब्जियां, दाल आदि से हमें किसी प्रकार की बीमारियां भी नहीं होती और यह हमारे लिए सेहतमंद भी होते हैं।

ब्रेकफास्ट दिन की सबसे महत्त्वपूर्ण मील होती है (Breakfast Is the Most Important Meal)

ब्रेकफास्ट में ऐसा कुछ खास नहीं कि जिसके कारण उसे महत्त्वपूर्ण मील माना जाए। यदि आप को सुबह भूख नहीं है तो आप इसे छोड़ भी सकते हैं और सीधा  लंच भी कर सकते हैं। ब्रेकफास्ट जल्दी करने की भी कोई आवश्यकता नहीं होती।

स्नैक्स आप के लिए बुरे होते हैं (Snacking Is Bad for You)

स्नैक्स आप के लिए अच्छे हैं या बुरे यह बात इस पर निर्भर करता है कि आप किस प्रकार के स्नैक्स ले रहे हैं। आप सेब, अखरोट, केला, गाजर आदि को स्नैक्स के रूप में खा सकते हैं, जोकि बिल्कुल स्वस्थ है और केवल अधिक प्रोसेस्ड फूड को ही छोड़ें।

ताजी चीजें ही खाएं ( Always Eat Fresh Produce)

कई बार कुछ चीजें जोकि फ्रोजन होती हैं, वह ताजा चीजों से भी अधिक लाभदायक होती हैं। ताजा उत्पादन के पोषण  में कमी हो सकती है। जब उन्हें स्टोर आदि में कई कई दिनों तक पैक करके रखा जाता है।

इसे भी पढ़ें: रेनबो डाइट अपनाकर आप रह सकते हैं स्वस्थ, सेहतमंद और जी सकते हैं लंबी जिंदगी, जानें क्यों खास है ये डाइट?

nutritional myths

हमेशा स्थानीय भोजन खाएं (Always Eat Local Food)

यह बात सत्य है कि हमें लोकल चीजे ही खानी चाहिएं। मुख लक्ष्य अपना यह रखें की आप ज्यादा से ज्यादा फल या सब्जियां खाएं चाहे वह दूर से आयें या भले ही वे बहुत दूर उगाए गए हों।

ऑर्गेनिक चीजें पारंपरिक चीजों से बेहतर है (Organic Produce Is Better Than Conventional)

यदि आप ऑर्गेनिक का खर्च उठा सकते हैं, तो उन्हें खा सकते हैं। लेकिन यदि ऑर्गेनिक चीजें आप के बजट से बाहर हैं तो आप पारंपरिक तरीके से की गई खेती की चीज़ों को भी अच्छे से धो कर खा सकते हैं। ताकि उनसे पेस्टीसाइड्स आदि खत्म हो जाएं।

Read More Articles on Healthy Diet in Hindi

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK