सफेद और टूटते बालों से छुटकारा पाने के लिए करें बालायाम योग, जानिए इसकी विधि और फायदे

Updated at: Dec 05, 2020
सफेद और टूटते बालों से छुटकारा पाने के लिए करें बालायाम योग, जानिए इसकी विधि और फायदे

झड़ते और टूटते बालों से छुटकारा पाने के लिए आप रोजाना बालायाम योग करें। यह आपके लिए बहुत ही फायदेमंद हो सकता है।

Kishori Mishra
योगाWritten by: Kishori MishraPublished at: Dec 05, 2020

नियमित रूप से योगासन स्वस्थ शरीर के लिए बहुत ही जरूरी है। योगासन से आप शरीर की तमाम समस्याओं से दूर रह सकते हैं। बालायाम (Balayam Yog) एक ऐसा योग है, जिसे करने के लिए आपको घर से बाहर जाने की जरूरत नहीं है। आप घर में बैठे-बैठे और ऑफिस का काम करते-करते बालायाम योग कर सकते हैं। इस योग की मदद से आपके बाल स्वस्थ और चमकदार होते हैं। इसके अलावा यह शरीर को स्वस्थ रखने में आपकी मदद करता है। इस योग में आपको अपने दोनों हाथों के नाखूनों को आपस में रगड़ना होता है। इससे शरीर भी स्वस्थ रहता है। अगर आप झड़ते बालों से परेशान हैं, तो 1 माह तक इस योग को जरूर करें। इससे आपको झड़ते बालों (Hair fall) से छुटकारा मिलेगा। इसे कुछ-कुछ लोग नेल रबिंग (Nail Rubbing) के नाम से भी जानते हैं। आइए जानते हैं, इस योगासन की विधि (Balayam yoga benefits) और इससे होने वाले फायदे-

कैसे करें बालायाम योग (How to do Balayam Yoga)

  • बालायाम योग के लिए सबसे पहले एक योगा मैट पर सुखासन की मुद्रा बैठ जाएं।
  • योग शुरू करने से पहले अपने मन से नकारात्मक विचारों को निकालें और मन को पूरी तरह से शांत करें। 
  • अब अपने हाथों को छाती की ओर लाएं। 
  • अब अपने हाथों की उंगलियों को अंदर की ओर मोड़ें और अर्ध मुट्ठी बनाएं।
  • अब दोनों हाथों की उंगलियों के नाखूनों को एक-दूसरे से मिलाएं। 
  • अब दोनों हाथों को नाखूनों को आपस में रगड़ें।
  • करीब 6 से 7 मिनट तक इस योग को करें। 
  • ध्यान रहे कि नाखूनों को ज्यादा तेज ना रगड़ें। आराम-आराम से नाखून रगड़ें, इससे नेल्स के नाखूनों की नसों के बीच अच्छे से घर्षण होगा। 

बालायाम योग के फायदे (Benefits of Balayam yoga) 

बालों को स्वस्थ रखने के लिए बालायाम योग काफी फायदेमंद साबित हो सकता है। आइए जानते हैं इस बारे में-

बालों में लाए चमक

बालायाम योग से बाल प्राकृतिक रूप से बढ़ते हैं। इतना ही नहीं इस योग से बालों की प्राकृतिक रूप से चमक बढ़ती है। इसके साथ ही इस योगासन के अभ्यास से आपके बाल घने और मुलायम होता है। सफेद बालों से छुटकाटा दिलाने में भी यह मददगार होता है।  इसलिए अगर आपके बाल टूट रहे हैं या फिर बालों की किसी समस्या से परेशान हैं, तो तुरंत इस योगासन को अपने डेली रुटीन में शामिल करें।

इसे भी पढ़ें - अनुष्का शर्मा को देखकर आप भी सोच रही हैं प्रेगनेंसी में शीर्षासन करने का, तो पहले जान लें एक्सपर्ट की राय

गंजापन की समस्या होगी दूर

बालायाम योग से झड़ते बाल और गंजापन की समस्या दूर हो सकती है। यह आपके वंशानुगत गंजापन की समस्या को दूर करता है। दरअसल, नाखूनों के नीचे तंत्रिका-अंत (Nerve endings) होता है। ऐसे में जब हम नाखूनों को आपस में रगड़ते हैं, तो इससे ये तंत्रिका-अंत मस्तिष्क को डेड हेयर फॉलिकल्स को दोबारा से पुनर्जीवित करने का संकेत देता है। इस विधि से आपके गंजेपन की समस्या दूर हो सकती है। लगातार 6 से 7 महीने तक इस योग को करने से आपको बेहतरीन रिजल्ट मिलेगा। इसके साथ ही इस योग से दिमाग भी उत्तेजित होता है।

बेहतरीन एक्यूप्रेशर

नेल रबिंग आपके लिए बेहतरीन एक्यूप्रेशर हो सकता है। इसके लिए आपको किसी विशेष तैयारी की भी आवश्यकता नहीं होती है। इससे बालायाम योग एक रिफ्लेक्सोलॉजी या एक्यूप्रेशर चिकित्सा है। आप दिन में कहीं भी बैठे-बैठे इस आसन को 2 से 3 बार कर सकते हैं। इस आसन से आपका मस्तिष्क भी शांत रहता है। 

इसे भी पढ़ें - जांघ की चर्बी और पीठ के दर्द को कम करेगा मर्कटासन, जानिए इस आसन को करने से मिलने वाले लाभ

किन लोगों को नहीं करना चाहिए बालायाम योग

हाई ब्लड प्रेशर से ग्रसित व्यक्ति और गर्भवती महिलाओं को नेल रबिंग नहीं करना चाहिए। इस आसन से गर्भाशय संकुचन और हाई ब्लड प्रेशर बढ़ने की संभावना होती है। गर्भाशय में संकुचन (uterine contraction) की वजह से डिलीवरी में परेशानी हो सकती है। इसलिए गर्भावस्था में बालायाम को करने से बचें।

 

Read More Articles on Yoga in Hindi

 

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK