• shareIcon

सिर्फ इस तरह के वर्कआउट से ही बढ़ाएं अपने मसल्स

एक्सरसाइज और फिटनेस By Rashmi Upadhyay , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग / Oct 30, 2017
सिर्फ इस तरह के वर्कआउट से ही बढ़ाएं अपने मसल्स

फिट रहना और ताकतवर मसल्स होना सेहत के लिए अच्छा होने के साथ जरूरी भी है। लेकिन फिट रहने और मसल्स बढाने के लिए सही वर्कआउट करना बेहद जरूरी है।

आज-कल जिसे देखो वह बॉडी बना कर सबसे फिट दिखना चाहता है। बेहतर दिखने के लिए लोग अपना वजन तो कम कर ही रहे हैं लेकिन उसकी दुगनी तादाद में लोग अपनी मसल्‍स बिल्‍ड करने के लिए आतुर रहते हैं। फिट रहने और दिखने में कोई बुराई नहीं, बल्कि यह सेहत के लिए जरूरी भी है। लेकिन फिट रहने और मसल्स बढाने के लिए सही वर्कआउट करना बेहद जरूरी है। आइये हम आपको बताते हैं मसल्स बढाने के लिए कुछ बेहतरीन वर्कआउट्स के बारे में।

जिम जाने वाले लोग कई तरह की एक्सरसाइज करते हैं, तरह-तरह की डाइट प्लान फॉलो करते हैं। पर हर चीज हर इनसान को सूट नहीं करती। मसल्स बढाने के लिए आपको ऐसे वर्कआउट शेड्यूल का चुनाव करना चाहिए जो अपने आप में कंप्लीट हो। यानी जिसमें पावर, शेप और साइज तीनों ही हों।  मसल बिल्डिंग करने के लिए सबसे पहले शरीर से अतिरिक्त चर्बी को कम करना पड़ता है। इसके लिए डाइट प्लान भी बहुत अहमियत रखता है। वर्कआउट के साथ सही मात्रा में एनर्जी वाली डाइट और खूब सारा पानी पीना चाहिए। चलिए बात करते हैं मसल्स बढाने वाली कुछ एक्सरसाइज पर।

इसे भी पढ़ें : जिम करने के बाद जरूर खाएं ये 5 चीजें

चेस्ट के लिए वर्कआउट

चेस्ट को सही शेप देने और मसल्स सेट्रोंग बनाने के लिए फ्लैट डंबल प्रेस अच्छी एक्सरसाइज है। यह फ्लैट बेंच से बेहतर है, और वो इसलिए क्योंकि फ्लैट बेंच एक्सरसाइज करते समय हाथ एक सीमा से नीचे नहीं आते। बेंच करते समय जैसे ही रॉड आपके चेस्ट से छुलती है, उसे ऊपर की ओर धकेलना पड़ता है। वहीं डंबल प्रेस में ऐसा नहीं होता। जितना आप डंबल को नीचे ले जाते हैं, उतना ही प्रेशर आपके चेस्ट पर बनता है।

बाइसेप्स मसल्स के लिए वर्कआउट

कसरत तो कई प्रकार की हैं लेकिन बाइसेप्स मसल्स बनाने के लिए बारबेल कर्ल से बेहतर कुछ नहीं। जैसे स्क्वेट पैरों की एक कंप्लीट एक्सरसाइज है, उसी तरह बारबेल कर्ल बाइसेप्स के लिए एक मुकम्मल एक्सरसाइज है।

इसे भी पढ़ें : जिम जाने से पहले जरूर पढ़ें ये जरूरी बात

ट्राइसेप्स के लिए वर्कआउट

आर्म में 30 प्रतिशत भागीदारी बाइसेप्स और 70 प्रतिशत ट्राइसेप्स की होती है। यदि आप बड़े आर्म्स और मजबूत मसल्स चाहते हैं तो बाइसेप्स की बजाय ट्राइसेप्स पर अधिक ध्यान दें। बाइसेप्स की तरह ट्राइसेप्स के भी तीन हिस्से होते हैं और बेंच डिप्स एक ऐसी एक्सरसाइज है तो तीनों हिस्सों पर काम करती है। इसे आप बॉडी वेट के या एक्सट्रा वेट के साथ किया जा सकता है।

लेग लिफ्ट वर्कआउट

लेग लिफ्टिंग करने से ना सिर्फ पेट के नीचे की मासपेशियां मजबूत होती हैं, बल्कि इससे जांघ और घुटनों के पीछे की मसल्‍स को भी मजबूत बनती हैं। लेग लिफ्ट करने के लिए दोनों पैरों को जमीन से ऊपर उठाएं और फिर उन्‍हें अपने धड़ के पास लाने की कोशिश करें।

बाइसिकल क्रंच वर्कआउट

सिक्स पैक बनाने हैं तो बाइसिकल क्रंच जरूर करें। बाकी की क्रंचेस आमतौर पर एब्स के किसी एक हिस्से पर ही काम करती हैं, जबकि बाइसिकल क्रंच एक साथ सिक्स पैक पर काम करती है।

ऐसे अन्य स्टोरीज के लिए डाउनलोड करें: ओनलीमायहेल्थ ऐप

Read More Article On Sports & Fitness in Hindi.

 
Disclaimer:

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।