• shareIcon

ऑफिस में 9.5 घंटे से ज्यादा बैठकर काम करना है खतरनाक, जल्दी मौत का बढ़ता है खतरा: रिसर्च

लेटेस्ट By Anurag Gupta , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग / Sep 16, 2019
ऑफिस में 9.5 घंटे से ज्यादा बैठकर काम करना है खतरनाक, जल्दी मौत का बढ़ता है खतरा: रिसर्च

ऑफिस में रोजाना 9.5 घंटे से ज्यादा देर तक बैठकर काम करने से बढ़ता है मौत का खतरा। लंबे समय तक एक ही जगह बैठे रहने वाले और बहुत कम फिजिकल एक्टिविटी करने वाले लोगों की मौत जल्दी होती है। ऐसा वैज्ञानिकों ने हाल में हुई एक रिसर्च के बाद बताया है।

काम करने के लिए ऑफिस में रोजाना 9 घंटे से ज्यादा समय तक बैठना आपकी जिंदगी के लिए भारी पड़ सकता है। एक नई रिसर्च के मुताबिक जो लोग 9.5 घंटे से ज्यादा समय तक ऑफिस में बैठे हुए काम करते रहते हैं, उनकी जिंदगी कम हो जाती है और जल्दी मौत होने का खतरा बढ़ जाता है। ये रिसर्च ब्रिटिश मेडिकल जर्नल (BMJ) में छापी गई है। हालंकि इस रिसर्च में ये भी बताया गया है कि अगर आप रोजाना सिर्फ 24 मिनट तेज गति से पैदल चलते हैं, तो आप इस खतरे को कम कर सकते हैं। आइए आपको बताते हैं इस रिसर्च की महत्वपूर्ण बातें।

ज्यादा देरतक बैठना खतरनाक

इस रिसर्च के अनुसार ज्यादा देर तक एक ही जगह बैठे रहने वाली जॉब आपके लिए खतरनाक है। एक दिन में 9.5 घंटे या इससे ज्यादा देर तक बैठने वाले लोगों में जल्दी मौत का खतरा होता है। दरअसल बैठने वाली जॉब में अक्सर लोग लंच करने के लिए 30-35 मिनट उठते हैं और बाकी समय बैठे रहते हैं। इतने लंबे समय तक शारीरिक रूप से गतिहीन रहना, शरीर के लिए खतरनाक होता है। इसलिए एक्सपर्ट्स कहते हैं कि अगर आप बैठने वाली जॉब में हैं, तो एक-डेढ़ घंटे में एक बाह उठकर थोड़ी देर चलना-फिरना चाहिए और शरीर को स्ट्रेच करना चाहिए।

इसे भी पढ़ें:- ऑफिस में बैठने वाले लोगों के लिए फायदेमंद है 2 मिनट की आइसोमेट्रिक एक्सरसाइज, जानें तरीका

WHO भी दे चुका है चेतावनी

विश्व स्वास्थ्य संगठन (World Health  Organization) यानी WHO भी इस बारे में पहले ही अपनी गाइडलाइन जारी कर चुका है कि हर व्यक्ति के लिए सप्ताह में कम से कम 150 मिनट एक्सरसाइज करना बहुत जरूरी है। 18 साल से 64 साल की उम्र तक हर व्यक्ति को रोजाना कम से कम 25-30 मिनट एक्सरसाइज जरूर करना चाहिए। इस एक्सरसाइज में पैदल चलना, जॉगिंग करना, प्राणायाम, स्ट्रेचिंग करना आदि शामिल हैं। इसके अलावा आप घर के छोटे-मोटे काम जैसे खाना बनाना, बर्तन धोना, झाड़ू-पोछा करना आदि भी लाइट एक्टिविटीज में आते हैं और आपके शरीर को लंबे समय तक स्वस्थ रखने के लिए बहुत जरूरी हैं।

वैज्ञानिकों ने बताईं ये जरूरी बातें

ब्रिटिश मेडिकल जर्नल में छपे इस अध्ययन में शोधकर्ताओं ने बताया कि सोने के अलावा अगर आप रोजाना 9.5 घंटे तक एक ही जगह पर लेटे या बैठे रहते हैं, तो आपकी जिंदगी कम हो जाती है। ये रिसर्च नॉर्वे के Norwegian School of Sport Sciences in Oslo द्वारा की गई है और इसके प्रमुख शोधकर्ता प्रोफेसर Ulf Ekelund हैं। इस रिसर्च के लिए के लिए एक्सेलोमीटर्स वाले स्मार्ट वॉच (Smart Watches) की मदद गई है। इस रिसर्च में 36,383 लोगों को शामिल किया गया, जिनकी उम्र 40 साल से 62 साल के बीच थी। इस रिसर्च के लिए इन सभी लोगों के डाटा को लगभग 6 साल तक इकट्ठा किया गया। रिसर्च के दौरान जो लोग बहुत कम एक्टिव रहते थे और दिनभर बैठे रहते थे, उनमें से 2,149 लोगों की मौत हो गई।

इसे भी पढ़ें:- ऑफिस में बैठे-बैठे लगती है भूख? जानें 10 हेल्दी स्नैक्स, जो नहीं बढ़ाएंगे आपका वजन

9.5 घंटे से ज्यादा बैठना खतरनाक

इसी रिसर्च के दौरान वैज्ञानिकों का ध्यान इस बात पर भी गया कि जो लोग रोजाना 9.5 घंटे से ज्यादा समय तक ऑफिस में काम करते थे और सीट से बहुत कम उठते थे, उनमें जल्दी मौत होने का खतरा बढ़ गया था। हालांकि इस बारे में अभी और रिसर्च करने की जरूरत है कि लंबे समय तक बैठे रहने से शरीर को किन बीमारियों का खतरा सबसे ज्यादा होता है।

Read more articles on Health News in Hindi

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK